Chia Vs Sabja Seeds: चिया और सब्जा सीड्स में क्या होता है अंतर, एक्सपर्ट्स से जानें दोनों के फायदे और खाने का तरीका

Chia Vs Sabja Seeds: जब आप चिया और सब्जा की तुलना करते हैं तो बीज वास्तव में ये काफी अलग दिखते हैं. तुलसी के बीज (Basil Seeds) काले, छोटे और गोल होते हैं. जबकि चिया बीज (Chia Seeds) आकार में थोड़ा बड़ा, अधिक अंडाकार होता है, और ग्रे, भूरा, सफेद और काले सहित कई रंगों में आता है. जब इम्यूनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों की बात आती है, चिया और सब्जा के बीजों (Chia And Sabja Seeds) का काफी उपयोग किया जाता है.

Chia Vs Sabja Seeds: चिया और सब्जा सीड्स में क्या होता है अंतर, एक्सपर्ट्स से जानें दोनों के फायदे और खाने का तरीका

Chia Vs Sabja Seeds: चिया और सब्जा सीड्स दोनों में काफी अंतर है और स्वास्थ्य के लिए दोनों लाजवाब हैं

खास बातें

  • यहां जानें चिया और सब्जा सीड्स में अंतर.
  • दोनों बीज स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद.
  • सब्जा और चिया सीड्स के जानें फायदे.

Chia And Sabja Seeds Difference: जब आप चिया और सब्जा की तुलना करते हैं तो बीज वास्तव में ये काफी अलग दिखते हैं. तुलसी के बीज (Basil Seeds) काले, छोटे और गोल होते हैं. जबकि चिया बीज (Chia Seeds) आकार में थोड़ा बड़ा, अधिक अंडाकार होता है, और ग्रे, भूरा, सफेद और काले सहित कई रंगों में आता है. जब इम्यूनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों (Immunity Boosting Foods) की बात आती है, चिया और सब्जा के बीजों (Chia And Sabja Seeds) का काफी उपयोग किया जाता है. ऐसे में बहुत से लोग आश्चर्य करते हैं कि चिया के बीज और तुलसी के बीज यानी सब्जा बीज दोनों पहली नजर में समान दिखते हैं. दोनों में फर्क कर पाना कई बार मुश्किल हो सकता है.

चिया बीज के फायदे (Chia Seeds Benefits) तो आपको बता ही होंगे, क्योंकि चिया बीज के स्वास्थ्य लाभों (Chia Seeds Health Benefits) को देखते हुए इन्हें सुपरसीड्स भी कहा जाता है. वहीं सब्जा बीज के फायदे (Sabja Seeds Benefits) भी हैरान करने वाले हैं. दोनों का सेवन कई परेशानियों से राहत पाने के लिए किया जा सकता है. चिया सीड्स वजन घटाने में सबसे ज्यादा पॉपुलर हैं. वर्तमान परिदृश्य को देखते हुए चिया के बीज और सब्जा के बीज इम्यूनिटी बढ़ाने में काफी मददगार हो सकते हैं.

क्या आप भी चिया के बीज और सब्जा सीड्स में फर्क (Chia And Sabja Seeds Difference) करने में कभी कन्फ्यूज हुए हैं? अक्सर कई लोग दोनों में फर्क नहीं कर पाते हैं. टाइटीशियन लवलीन कौर और पोषण विशेषज्ञ पूजा मखीजा ने हाल ही में फेसबुक और इंस्टाग्राम पर सब्जा सीड्स और चिया के बीजों का फर्क बताया...

3eg3o12gChia Vs Sabja Seeds: तुलसी के बीज को कम से कम एक-दो घंटे तक पानी में भिगोए बिना नहीं खाया जा सकता है.

इसलिए, अगर आप कभी भी उनके बारे में भ्रमित थे, तो यहां वह सब कुछ है जो आपको जानना चाहिए.

कुछ लोगों को लगता है कि चिया के बीज और सब्जा के बीज एक ही होते हैं. कौर ने माना कि तुलसी और चिया के बीज के बारे में कई सवाल होते हैं. क्योंकि उन्हें एक संतुलित आहार के हिस्से के रूप में प्रभावी वजन घटाने (Weight Loss) वाले सहायक के रूप में देखा जाता है.

वास्तव में, दोनों बीजों के बीच कई महत्वपूर्ण अंतर हैं, दोनों विशेषज्ञों ने बताया.

इनका सेवन कैसे किया जाना चाहिए? | How Should They Be Consumed?

कौर कहती हैं कि, तुलसी के बीज को कम से कम एक-दो घंटे तक पानी में भिगोए बिना नहीं खाया जा सकता है. हालांकि, चिया बीज कच्चे और लथपथ दोनों तरीके से सेवन किया जा सकता है, यह आप पर निर्भर करता है कि आप उनका उपयोग कैसे करना चाहते हैं. मखीजा का कहना है कि "चिया का अपना कोई स्वाद नहीं है, इस प्रकार यह किसी भी व्यंजन के लिए उपयुक्त है, जबकि सब्जा में तुलसी का हल्का स्वाद है. " उन्होंने यह भी बताया कि चिया को पानी सोखने में समय लगता है और वह फूल जाती है, जबकि सबजा कुछ ही सेकेंड्स में फूल जाती हैं.

चिया सीड्स और सब्जा सीड्स में दिखने में क्या है अंतर | What Is The Difference Between Chia Seeds And Sabza Seeds

जब आप दोनों की तुलना करते हैं तो दोनों बीज वास्तव में काफी अलग दिखते हैं. तुलसी के बीज काले, छोटे और गोल होते हैं. चिया बीज आकार में थोड़ा बड़ा, अधिक अंडाकार होता है, और ग्रे, भूरा, सफेद और काले सहित विभिन्न रंगों में आता है. दोनों बीज कुछ पोषण लाभ प्रदान करते हैं, लेकिन आमतौर पर यह सोचा जाता है कि चिया बीज आपके लिए बेहतर हैं क्योंकि इनमें एंटीऑक्सिडेंट, फाइबर, कैल्शियम, प्रोटीन और कई अन्य प्रमुख खनिज होते हैं. हालांकि, तुलसी के बीजों में भरपूर आयरन होता है. 

चिया के बीज शरीर में हेल्दी ब्लड प्रेशर और ब्लड शुगर लेवल को कम रखने में मदद कर सकते हैं, साथ ही कोलेस्ट्रॉल कम कर हृदय स्वास्थ्य में सुधार करने में मददगार माने जाते हैं. चिया के बीज ओमेगा -3 फैटी एसिड का एक उत्कृष्ट स्रोत हैं, जबकि सब्जा बीज एक मूत्रवर्धक और पाचन को बेहतर करने के लिए फायदेमंद माना जाता है. आयरन से भरपूर तुलसी के बीज भी रक्त की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद कर सकते हैं.

पूजा मखीजा के अनुसार, "चिया ओमेगा 3 का एक अच्छा स्रोत है, जो ब्लड शुगर को स्थिर करने में मदद कर सकता है, ऊर्जा और धीरज को बढ़ावा देता है, जबकि सब्जा के बीज शरीर के लिए सबसे अच्छे कूलेंट में से एक हैं, जो आयरन का अच्छा स्रोत हैं और एसिडिटी और कब्ज से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं.

A post shared by PM (@poojamakhija) on

इनका सेवन करने का सही तरीका क्या है?

किसी भी ड्रिंक या शेक के एक गिलास में दो चम्मच बीज का उपयोग करें. दोनों को पानी में भी लिया जा सकता है - एक गिलास पानी में आधा चम्मच.

वेट लॉस और बीज | Weight Loss And Seeds

Newsbeep

कौर के अनुसार, दोनों बीजों में फाइबर की वजह से यह आपको भरा हुआ महसूस कराते हैं. इस प्रकार पूरे दिन स्नैकिंग से बचने में मदद कर सकते हैं. जब इन्हें पानी में मिलाया जाता है, तो चिया और तुलसी के बीज दोनों काफी फूल जाते हैं जो पेट को भरने और शरीर को हाइड्रेटेड रखने में मदद कर सकते हैं. हालांकि, यह ध्यान रखना जरूरी है कि वे हेल्दी खाने के विकल्प नहीं हैं. तुलसी या चिया के बीजों का फायदा लेने के लिए आपको एक संतुलित आहार लेने की जरूरत है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.