Diabetes Diet: क्या होता है ग्लाइसेमिक इंडेक्स? जानें कम ग्लाइसेमिक खाद्य पदार्थों की लिस्ट

Diabetes Diet: असल में डायबिटीज मरीजों ने ग्लाइसेमिक इंडेक्स के बारे में बहुत बार सुना होगा. उनके लिए इसे समझना जरूरी भी है. क्योंकि डायबिटीज के लिए डाइट (Controlling Diabetes) में लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Low-GI Diet) वाले आहारों को शामिल करने की सलाह दी जाती है. तो चलिए जानते हैं क्या होता है ग्लाइसेमिक इंडेक्स और लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले आहारों के बारे में- 

Diabetes Diet: क्या होता है ग्लाइसेमिक इंडेक्स? जानें कम ग्लाइसेमिक खाद्य पदार्थों की लिस्ट

Diabetes Diet: डायबिटीज मरीजों को लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Low-GI Diet) आहार लेने की सलाह दी जाती है.

खास बातें

  • आहार में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाली चीजों को शामिल करें.
  • कम-जीआई आहार आपको कुछ वजन कम करने में मदद कर सकता है.
  • कम-जीआई आहार का सेवन हृदय रोगों के कम जोखिम से भी जुड़ा है.

Diabetes Diet: क्या आप जानते हैं कि कम यानी लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Glycemic index) वाली खाने की चीज़ें सेहत के लिए ज़्यादा अच्छी और यह डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद करती हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि आखिर ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता क्या है, लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थ कौन से होते हैं? असल में डायबिटीज मरीजों ने ग्लाइसेमिक इंडेक्स के बारे में बहुत बार सुना होगा. उनके लिए इसे समझना जरूरी भी है. क्योंकि डायबिटीज के लिए डाइट (controlling diabetes) में लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स (low-GI diet) वाले आहारों को शामिल करने की सलाह दी जाती है. तो चलिए जानते हैं क्या होता है ग्लाइसेमिक इंडेक्स और लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले आहारों के बारे में- 

बच्चा अगर बिना आंसू के रोए, सुस्त या चिड़चिड़ा हो, तो सावधान! उसे ये बीमारी हो सकती है

क्या है ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) 

तो चलिए जानते है कि ग्लाइसेमिक इंडेक्स है क्या? असल में ग्लाइसेमिक इंडेक्स एक तरह का अंक है. इसे समझने के लिए तय मात्रा में ग्लूकोज दिया जाता है और उसके कुछ समय बाद ब्लड ग्लूकोज लेवल को टेस्ट किया जाता है. इसके बाद आपने जो भी खाया है और ब्लड ग्‍लूकोज की मात्रा के भागफल को 100 से गुणा किया जाता है. ऐसा करने से खाए हुए पदार्थ का ग्लाइसेमिक इंडेक्स पता चलता है. वह आहार सेहत के लिए अच्छा माना जाता है जिसमें ग्‍लाइसेमिक इंडेक्‍स 50 से ज्यादा न हो.

8rqd65t8

Low-Glycemic Foods: मधुमेह रोगियों को कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले आहार लेने चाहिए.

डायबिटीज रोगियों के लिए लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स फूड (Diabetes Diet: Low Glycemic Foods For Diabetes)

1. लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले फल (Fruit with low glycemic index)

यह एक गलत धारणा है कि मधुमेह के रोगी फल नहीं खा सकते हैं, क्योंकि फल प्राकृतिक चीनी से भरे होते हैं. लेकिन कम ग्लाइसेमिक फलों का सेवन सीमित मात्रा में किया जा सकता है. कुछ फल जो आपके मधुमेह आहार का हिस्सा हो सकते हैं, उनमें शामिल हो सकते हैं- नाशपाती, सेब, अंगूर, आलूबुखारा, स्ट्रॉबेरी, आड़ू, चेरी और अंगूर.

वरिष्ठ आहार विशेषज्ञ रुतु ऋषिकेश सुझाव देते हैं कि "पपीता मधुमेह रोगियों के लिए अच्छा है, क्योंकि यह फाइबर में उच्च है. मध्यम आकार के सेब का भी सेवन किया जा सकता है. नारंगी एक और बढ़िया विकल्प है क्योंकि इसमें विटामिन सी और फाइबर होता है."

Belly Fat Diet: 6 आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां, जो घटाएंगी पेट की चर्बी और मोटापा

Winter Comfort Food: सर्दी में शरीर को रखना है गर्म, तो खाएं बस ये 3 चीजें...

2. कम-ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले अन्य खाद्य पदार्थ

अन्य कम ग्लाइसेमिक खाद्य पदार्थों में शामिल हो सकते हैं- ओट्स, दलिया ओट्स, दाल, किडनी बीन्स, क्विनोआ, दूध, बादाम, जैतून का तेल, अखरोट और सब्जियां जैसे गाजर, ब्रोकोली, टमाटर और फूलगोभी.

o0qhoqbo

Diabetes Diet: दलिया भी कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाला आहार है.

लो ग्लाइसेमिक डाइट के फायदे (Health Benefits Of Low-Glycemic Diet)

- लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाला आहार लेने से कोलेस्ट्रॉल स्तर को बेहतर किया जा सकता. जिसका मतलब है हृदय रोगों और स्ट्रोक का जोखिम कम होना.
- कम-जीआई आहार आपको कुछ वजन कम करने में मदद कर सकता है.
- कम-जीआई आहार का सेवन हृदय रोगों के कम जोखिम से भी जुड़ा है.

Weight Loss: तोंद घटाना चाहते हैं तो इन 5 फूड को आज ही खाना छोड़ें, तेजी से कम होगी पेट की चर्बी!

अगर आप मधुमेह के मरीज हैं तो अपने आहार में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाली चीजों को शामिल करें. आपको आहार में क्या शामिल करना चाहिए और क्या नहीं इसके लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

(रुतु ऋषिकेश मैक्स मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल, नोएडा, उत्तर प्रदेश में वरिष्ठ आहार विशेषज्ञ हैं.)

(अस्वीकरण: यहां दी गई सामग्री या सलाह केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)