नए रिसर्च में दावा, बुढ़ापा रोकना है तो जरूर खाएं मशरूम

अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि मशरूम में बड़ी मात्रा में एर्गोथिओनिन और ग्लूटोथियोन मौजूद होता है और दोनों ही बेहद जरूरी एंटीऑक्सिडेंट होते हैं. इनकी संख्या मशरूम की प्रत्येक प्रजाति में अलग-अलग होती है. 

नए रिसर्च में दावा, बुढ़ापा रोकना है तो जरूर खाएं मशरूम

फाइल फोटो

नई दिल्ली:

मशरूम में ऐसे ‘‘एंटीऑक्सिडेंट’’ की मात्रा बहुत ज्यादा हो सकती है जो बुढ़ापा आने की रफ्तार को कम करने के साथ ही स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करते हैं. यह दावा एक अध्ययन में किया गया है. अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि मशरूम में बड़ी मात्रा में एर्गोथिओनिन और ग्लूटोथियोन मौजूद होता है और दोनों ही बेहद जरूरी एंटीऑक्सिडेंट होते हैं. इनकी संख्या मशरूम की प्रत्येक प्रजाति में अलग-अलग होती है. 

ये भी पढ़ें- Benefits of Amla: ये है 100 रोगों की 1 दवा, जानें इसके 10 बड़े फायदों के बारे में...

अमेरिकी की पेनसिल्वानिया स्टेट यूनिवर्सिटी के प्राध्यापक रॉबर्ट बीलमैन ने बताया कि मशरूम इन दोनो एंटीऑक्सिडेंट का सबसे बेहतर स्रोत है और मशरूम के कुछ प्रकारों में दोनों ही एक-साथ मौजूद होते हैं.

Newsbeep

और खबरों के लिए क्लिक करें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com



वीडियो : मुंबई में इलेक्ट्रॉनिक बसें
उन्होंने बताया कि जब ऊर्जा बनाने के लिए शरीर भोजन का इस्तेमाल करता है तब इसके कारण ‘‘ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस’’ भी बनता है.