NDTV Khabar

Gudi Padwa 2019: कब है गुड़ी पड़वा, क्यों मनाते हैं, महत्व और पुरन पोली बनाने की विधि

Happy Gudi Padwa, हैप्पी न्यू ईयर... महाराष्ट्र और कोंकण में इसे गुड़ी पड़वा (Gudi Padwa or Samvatsar Padvo) के नाम से मनाया जाता है. इसे संवतसारा या संवत (Samvatsara) भी कहा जाता है. वहीं दक्षिण भारत में उगाडी (Ugadi 2019) के नाम से इस दिन को सेलिब्रेट किया जाता है. अगर आप सोच रहे हैं कि चैत्र नवरात्रि 2019 (Chaitra Navratri 2019) में कब से हैं, तो बता दें कि इसी दिन से चैत्र नवरात्रि (First day of Navratri) का पहला दिन शुरू होता है. चैत्र नवरात्रि 2019 (Chaitra Navratri 2019) में नौ दिनों तक मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Gudi Padwa 2019: कब है गुड़ी पड़वा, क्यों मनाते हैं, महत्व और पुरन पोली बनाने की विधि

Gudi Padwa 2019: जानिए कब है गुड़ी पड़वा.

Happy Gudi Padwa, हैप्पी न्यू ईयर... हो सकता है कि आपको अजीब लगे की 2 अप्रैल के दिन हम आपको नए साल की शुभकामनाएं क्यों दे रहे हैं. असल में नया साल आने वाला है. जी हां, आपको बता दें कि भारतीय पंचांग के अनुसार चैत्र माह के शुक्ल प्रतिपदा को नया साल शुरू होता है, जोकि इस साल 6 अप्रैल के दिन होगा. इसे हिंदू नववर्षोत्सव कहा जाता है. आपने संवत के बारे में तो सुना ही होगा. बस इसी से हिंदू नववर्ष का संबंध है. असल में हिंदू कैलेंडर में यह गणना विक्रम संवत के अनुसार है, जो ईसा पूर्व 57 में शुरू हुई. महाराष्ट्र और कोंकण में इसे गुड़ी पड़वा (Gudi Padwa or Samvatsar Padvo) के नाम से मनाया जाता है. इसे संवतसारा या संवत (Samvatsara) भी कहा जाता है. वहीं दक्षिण भारत में उगाडी (Ugadi 2019) के नाम से इस दिन को सेलिब्रेट किया जाता है. अगर आप सोच रहे हैं कि चैत्र नवरात्रि 2019 (Chaitra Navratri 2019) में कब से हैं, तो बता दें कि इसी दिन से चैत्र नवरात्रि (First day of Navratri) का पहला दिन शुरू होता है. चैत्र नवरात्रि 2019 (Chaitra Navratri 2019) में नौ दिनों तक मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है और अपनी अपनी परंपरा के तहत लोग आष्ठमी या नवमी के दिन पूजा कर राम नवमी मनाते हैं. 

गुड़ी पड़वा के दिन कैसे बनाएं पूरन पोली | How To Make Puran Poli on Gudi Padwa

अगर आप भी जानना चाहते हैं कि गुड़ी पड़वा के दिन कैसे बनाएं पूरन पोली, तो हम आपको बताते हैं घर पर पूरन पोली बनाने का आसान तरीका. पूरन पोली महाराष्ट्र में बनाई जाने वाली डिश है. यह महाराष्ट्र की एक पारम्परिक स्वीट डिश है. गुड़ी पड़वा पर महाराष्ट्र में पूरन पोली बनाई जाती है. गुड़ी पड़वा के दिन घर पर ही पूरन पोली बनाने का रिवाज बहुत पुराना है. यहां चने की दाल की पूरन पोली बहुत पसंद की जाती है. यह खाने में खूब पसंद की जाती है. पूरन पोली जब भी घर पर बनाई जाती है तो काफी मात्रा में बनाई जाती है क्योंकि यह 2-3 दिन तक खराब नहीं होती.


क्यों मनाई जाती है गुड़ी पड़वा, क्या है इसका महत्व और गुड़ी पड़वा की कथा | Gudi Padwa 2019: History, Significance And Celebration


चैत्र माह की पहली तिथि को गुड़ी पड़वा मनाई जाती है. इस साल गुड़ी पड़वा 6 अप्रैल को है. गुड़ी का मतलब होता है ‘विजय पताका‘. गुड़ी पड़वा की कथा क्या है, अगर आप यह जानना चाहते हैं तो हम आपको बताते हैं. प्रचलित कथा के अनुसार शालिवाहन नाम के एक कुम्हार के बेटे ने मिट्टी के सैनिकों की सेना बनाई और उसमें प्राण फूंक दिए थे. कुम्हार के बेटे ने अपनी इस सेना की मदद से दुश्मनों को हरा दिया था. इस जीत के प्रतीक के रूप में ही शालिवाहन शक का प्रारंभ हुआ. इसके अलावा एक और कहानी है. जिसके अनुसार इसी दिन भगवान राम ने वानरराज बाली से दक्षिण की प्रजा को बाली के त्रास से मुक्ति दिलाई थी. इसके बाद प्रजा ने घरों में ध्वज (गुड़िया) फहराए थे. यही वजह है कि महाराष्ट्र में आज के दिन घर के आंगन में गुड़ी खड़ी की जाती है.

Summer Weight Loss: गर्मियों में वजन कम कैसे करें? बस डाइट में शामिल करें ये 4 चीजें...

गुड़ी पड़वा के दिन कैसे बनाएं पूरन पोली | पूरन पोली रेसिपी | Puran Poli Recipe in Hindi

महाराष्ट्रियों के बीच यह नया साल के तौर पर मनाई जाती है. गुड़ी पड़वा को महाराष्ट्र में धूमधाम से मनाया जाता है. इस दिन हर घर में पूरन पोली बनाई जाती है. यह गुड़, नमक, नीम के फूल, इमली और कच्चे आम के मिश्रण से तैयार होती है. 

पूरन पोली रेसिपी | Maharashtrian Pooran Poli - Sweet Puran Poli 

k924co2g

Maharashtrian Pooran Poli: महाराष्ट्र में गुड़ी पड़वा के दिन पूरन पोली बनाने का रिवाज है.

वैसे तो पूरन पोली कई तरह से बनाई जाती है लेकिन चने की दाल से बनी पूरन पोली ज्यादा लो​कप्रिय है. इसे बनाने के लिए चने की दाल के अलावा चीनी, गुड़, इलाइची पाउडर आदि का इस्तेमाल किया जाता है. इन सब सामग्रियों को मिलाकर फीलिंग तैयार करने के बाद मैदे की रोटी बनाकर उसमें इसे फीलिंग को भरा जाता है. यहां पढ़ें कैसे बनाएं पूरन पोली. 

Happy Gudi Padwa!

और खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें.

ये भी पढ़ें - 

High Blood Pressure: क्या हाई बीपी के मरीज आलू खा सकते हैं? यहां पढ़ें आलू के फायदे और नुकसान

क्यों नहीं करनी चाहिए चाय से दिन की शुरुआत, सुबह खाली पेट चाय पीने के नुकसान...

Fenugreek Water For Diabetes: कैसे करें मेथी दाना से ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल

Eating Eggs in Summer: क्या गर्मियों में अंडे का सेवन आपके स्वास्थ के लिए ख़राब है?

Fibre-Rich Snacks: नहीं करेगा फ्राइड फूड खाने का मन, सेहत का खजाना हैं यह 3 हेल्दी स्नेक्स...

Weight Loss: ये 3 Protein-Rich Soups कम करेंगे बैली फैट

टिप्पणियां

Stress management: तो स्ट्रेस से बचने के लिए क्या करती हैं बॉलीवुड अदाकारा दिशा पटानी

एसिडिटी का कारण बन सकते हैं ये 7 खाद्य पदार्थ, इनसे बचें



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement