Haldi (Turmeric) Milk: इम्युनिटी बढ़ाने में मददगार है Golden Milk, जानें हल्‍दी वाला दूध पीने का सही समय, फायदे और कितनी हल्‍दी डालें

Boost Your Immune System Naturally: आयुष मंत्रालय के वो 10 इम्युनिटी बढ़ाने के टिप्स दिए हैं. इनमें से एक है गोल्डन मिल्क (Golden Milk) पीने का. मंत्रालय ने यह भी बताया है कि कितने दूध में कितनी हल्दी (How Much Haldi)  का इस्तेमाल किया जाना चाहिए. आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH) द्वारा जारी एडवाइजरी में कहा गया है कि दिन में कम से कम एक या दो बार हल्दी वाला दूध (Golden Milk) लें. 150 मिली लीटर गर्म दूध में करीब आधी छोटी चम्मच हल्दी मिलाकर पीएं.

Haldi (Turmeric) Milk: इम्युनिटी बढ़ाने में मददगार है Golden Milk, जानें हल्‍दी वाला दूध पीने का सही समय, फायदे और कितनी हल्‍दी डालें

Haldi Wala Doodh: हल्‍दी वाला दूध रात में लेने से बहुत से फायदे होते हैं.

खास बातें

  • हल्दी वाला दूध किसे नहीं पीना चाहिए?
  • हल्दी वाले दूध के बहुत से फायदे होते हैं.
  • यही वजह है क‍ि इसे सुपर ड्रिंक कहा जाता है.

Boost Your Immune System Naturally: आयुष मंत्रालय के वो 10 इम्युनिटी बढ़ाने के टिप्स दिए हैं. इनमें से एक है गोल्डन मिल्क (Golden Milk) पीने का. मंत्रालय ने यह भी बताया है कि कितने दूध में कितनी हल्दी (How Much Haldi)  का इस्तेमाल किया जाना चाहिए. आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH) द्वारा जारी एडवाइजरी में कहा गया है कि दिन में कम से कम एक या दो बार हल्दी वाला दूध (Golden Milk) लें. 150 मिली लीटर गर्म दूध में करीब आधी छोटी चम्मच हल्दी मिलाकर पीएं. हल्‍दी वाला दूध (Turmeric Milk) कहें या हल्‍दी लाटे (Turmeric Latte) या हल्दी दूध भारत में सदियों से लोग इसका सेवन कर रहे हैं और बहुत से स्‍वास्‍थ्‍य लाभ पा रहे हैं. हल्दी वाले दूध के बहुत से फायदे होते हैं. यही वजह है क‍ि इसे सुपर ड्रिंक कहा जाता है. हल्‍दी दूध को पीने का सही समय क्‍या होता है? क्‍या हम रोज हल्‍दी वाला दूध पी सकते हैं (Can We Drink Haldi Milk Daily) या हल्दी वाला दूध किसे नहीं पीना चाहिए.

इन सभी सवालों के जवाब जानते हैं इस लेख में. हल्‍दी वाला दूध अपने डेली रुटीन में शामिल करने से पहले यह समझ लेने की जरूरत है क‍ि हल्दी दूध के फायदे  और (Haldi Doodh Benefits) नुकसान क्‍या हैं. सोने से पहले हल्दी दूध के लाभ या हल्दी दूध कैसे (How To Make Haldi Doodh) बनाये यह सभी हम आपको इस लेख में बताएंगे. हल्दी वाले दूध पीने के फायदों (Turmeric Milk Benefits) की बात करें तो एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है. हल्दी आपकी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद (Haldi Doodh Ke Fayde) है. इसमें करक्यूमिन एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो शरीर को मजबूत करने में मदद करते हैं. और दूध के गुणों के बारे में भले ही हमें पूरी तरह नहीं पता हो, लेकिन हम यह जानते हैं क‍ि यह बहुत फायदेमंद होता है. ऐसे में यह दोनों मिलकर एक बहुत ही सेहतमंद पेय बनाते हैं. 

बहुत से लोग अपने दैनिक आहार में हल्‍दी वाला दूध शामिल हैं, लेकिन उनमें से सभी नहीं जानते कि हल्‍दी वाले दूध का सेवन कैसे करना है, कब करना है और कितनी मात्रा में करना है. हल्‍दी वाले दूध का पूरा फायदा आप तभी उठा सकते हैं जब आप इससे जुड़ी बातों को सही तरह से जानते हैं और इसे सही मात्रा में और सही समय पर लेते हैं. रुजुता दिवेकर, जो करीना कपूर खान जैसी कई हस्तियों की पोषण विशेषज्ञ हैं, इसमें आपकी मदद कर सकती हैं. उन्‍होंने हाल ही में इस पेय के बारे में कुछ तथ्यों को साझा किया, कुछ अक्सर पूछे जाने वाले सवालों के जवाब दिए और बताया कि हल्‍दी वाले दूध को कैसे पीना है, इस पर बुनियादी दिशानिर्देश दिए.

m3fahq0o

150 मिली लीटर गर्म दूध में करीब आधी छोटी चम्मच हल्दी मिलाकर पीएं.

रुजुता दिवेकर ने बताया हल्‍दी दूध से जुड़ी बातें क्‍या करना चाह‍िए और क्‍या नहीं (Facts, Dos And Don'ts About Turmeric Milk)

हल्‍दी दूध के लिए सामान्‍य दूध का इस्‍तेमाल करें (Use Regular Milk For Haldi Doodh)

रुजुता आपके स्थानीय डेयरी संस लेबल और पैकेजिंग से गैर-ब्रांडेड, नियमित, पूर्ण वसा वाले दूध का उपयोग करने का सुझाव देती हैं. लेकिन, अगर आप एक ऐसे क्षेत्र में रहते हैं, जहां नियमित रूप से दूध मिलना मुश्किल है, तो इसे मुफ्त में चरने वाली गायों से प्राप्त करने का प्रयास करें. वह आगे बताती है कि सबसे अच्छा दूध वह होता है, जो गरम न किए जाने पर एक दो घंटे में खराब हो जाता है.

कैसे हल्‍दी का करें इस्‍तेमाल (Use naturally grown haldi)

हल्‍दी वाले दूध के फायदे उठाने के लिए सबसे जरूरी है कि जो भी सामग्री आप इस्‍तेमाल कर रहे हैं वह बेहतर क्‍वालिटी की हो. रुजुता कहती हैं क‍ि नियमित रूप से हल्दी पाउडर खरीदने की कोशिश करें जो स्वाभाविक रूप से और स्थानीय रूप से उगाया जाता है. विशेष रूप से, वह जो केले के पेड़ की छाया में उगता है और उसके बगल में गेंदा फूल और मिर्च का पौधा हो.

हल्‍दी दूध को रात में पीते हैं तो इस मसाले को भी करें शामिल (Turmeric milk at night)

दूध में एक चुटकी हल्दी डालने से यह आपकी सेहत को कई तरह के फायदे पहुंचाता है. लेकिन अगर आप इसे रात के समय में ले रहे हैं तो इसमें काली मिर्च या जायफल भी शामिल कर सकते हैं. ऐसा करने से यह सुनिश्चित होता है कि रात को हल्दी वाला दूध पीने से आपको खांसी या जुकाम नहीं होता है. वास्तव में, यह पेय ऐसे संक्रमणों को रोकने में मदद कर सकता है. इसके अलावा, सोते समय दूध पीने से वजन कम करने में भी मदद मिल सकती है क्योंकि हल्दी और दूध आवश्यक फैटी एसिड, एंटीऑक्सिडेंट और विरोधी भड़काऊ एजेंटों का एक शक्तिशाली संयोजन है.

mgeiue18

हल्दी वाले दूध पीने के फायदों (Turmeric Milk Benefits) की बात करें तो एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है.

हल्दी वाला दूध कब और कैसे पीना चाहिए या क्‍या सुबह हल्‍दी दूध पीना चाहिए  (Can You Drink Turmeric Milk In The Morning)

हल्‍दी दूध को अगर आप सुबह लेते हैं तो यह आपको ठीक वैसे ही फायदे देता है जैसे इसे रात में पीने पर मिलते हैं. तो इस सवाल का जवाव है हां, आप हल्‍दी दूध सुबह पी सकते हैं. रात के समय हल्‍दी दूध लेने की जो सबसे बड़ी वजह है वह यह है क‍ि यह आपको सोने में भी मदद करता है. और क्‍योंकि दूध आपको नींद दिला सकता है इसलिए यह सुबह के समय नहीं लेते. लेक‍िन जहां तक इसके गुणों की बात है यह सुबह और शाम किसी भी समय लेने पर एकसे होते हैं.

पीसीओडी में मददगार हो सकता है हल्‍दी दूध (Turmeric milk may help manage PCOD)

पीसीओडी रोगियों के लिए हल्दी दूध एक अच्छा पेय है. खासकर, अगर किसी को सिस्टिक मुंहासे हैं. ऐसे में एक चुटकी एलिव सीड्स डालना ज्यादा मददगार होगा.

हल्‍दी दूध में कितनी हल्‍दी डालनी चाहिए (Benefits of Golden (Turmeric) Milk and How to Make It) 

Newsbeep

अगर आप काफी मात्रा में हल्‍दी खाते हैं, तो यह अम्लता और सूजन को जन्म दे सकता है. हालांकि, दूध के साथ एक चुटकी या मसाले के रूप में, जब हर दिन सब्ज़ियां और दाल पकाते हैं, पूरी तरह से सुरक्षित है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


तो अगर आप भी हल्‍दी वाला दूध पीना शुरू करने वाले हैं तो इन बातों का ध्‍यान रखें.