NDTV Khabar

Winter Sinus Pain: सर्दियों में साइनस से राहत दिलाएगी यह एक चीज, ऐसे करें सेवन...

Sinus Home Remedies: हमारे सिर में कई कैविटीज यानी खोखले छेद होते हैं, जो सांस लेने में मदद करने का काम करते हैं. इन्हीं छेदों को साइसन कहा जाता (What is Sinus) है. लेकिन जब किसी वजह से इन छेदों में गतिरोध पैदा हो जाए, तो इसे होता है, तब इस स्थिति को साइसन कहा जाता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Winter Sinus Pain: सर्दियों में साइनस से राहत दिलाएगी यह एक चीज, ऐसे करें सेवन...

साइनस दो तरह का होता है. एक्यूट साइनोसाइटिस (Acute Sinus) और क्रॉनिक साइनोसाइटिस (Chronic Sinus).

खास बातें

  1. हमारे सिर में कई कैविटीज यानी खोखले छेद होते हैं
  2. साइसन में गतिरोध के कई कारण हो सकते हैं.
  3. क्रॉनिक साइनोसाइटिस 12 हफ्तों या इससे भी ज्यादा समय तक प्रभावी रह सकता है

Remedy for Sinus: साइनस को अक्सर जुकाम के साथ जोड़कर देखा जाता है. जबकि दोनों अलग-अलग हैं. ऐसे में जरूरी है यह समझ लेना कि साइनस क्या होता है. असल में हमारे सिर में कई कैविटीज यानी खोखले छेद होते हैं, जो सांस लेने में मदद करने का काम करते हैं. इन्हीं छेदों को साइसन कहा जाता (What is Sinus) है. लेकिन जब किसी वजह से इन छेदों में गतिरोध पैदा हो जाए, तो इसे होता है, तब इस स्थिति को साइसन कहा जाता है. साइसन में गतिरोध के कई कारण (Sinus Cause) हो सकते हैं. अब अगर आप सोच रहे हैं कि साइनस के प्रकार (Types of Sinus) कितने होते हैं, तो बता दें कि साइनस दो तरह का होता है. एक्यूट साइनोसाइटिस (Acute Sinus) और क्रॉनिक साइनोसाइटिस (Chronic Sinus). आमतौर पर एक्यूट साइनोसाइटिस 3 से 5 हफ्तों तक रह सकता है वहीं क्रॉनिक साइनोसाइटिस 12 हफ्तों या इससे भी ज्यादा समय तक प्रभावी रह सकता है.

Winter Diet: सर्दियों में प्याज पाचन, डाइबिटीज, इंफेक्शन, एलर्जी के लिए है अचूक उपाय! जानें प्याज के कई गजब फायदे

क्या होते हैं साइनस के लक्षण | Sinus Symptoms


साइनस के लक्षण समझना कई बार मुश्किल हो सकता है. क्योंकि यह आम जुकाम जैसे ही लक्षण देता है. लेकिन फिर भी जब यह लक्षण लंबे समय तक बने रहें तो अपने डॉक्टर से सलाह जरूर करें- 
1. कब्ज या पेट खराब रहना.
2. चेहरे में नाक के आसपास और भौंहों के ऊपर की हड्डी में दर्द होना. 
3. सिर भारी रहना. 
4. नाक बहना और नाक से गाढ़ा चिकना पदार्थ बाहर आना. 

Winter Healthy Superfood: ठंड के मौसम खाएं ये 5 फल, बीमारियां रहेंगी दूर, रहेंगे फिट...

साइनस से बचाव के लिए रसोई में मौजूद सामग्री से तैयार करें यह नुस्खा (Home Remedy for Sinus Drainage)

अक्सर लोग साइनस के लिए डॉक्टर को दिखाते हैं, लेकिन कुछ लोग इसके लिए घरेलू नुस्खे भी अपनाते हैं. तो अगर आप भी साइनस के लिए घरेलू नस्खे आजमाना चाहते हैं तो हम आपको बता रहे हैं एक ऐसी चीज के बारे में जो साइनस के लिए प्रचलित घरेलू उपायों में इस्तेमाल की जाती है. हम बात कर रहे हैं एक ऐसे इंग्रीडिएंट की जो आप रोजमर्रा के कामों में इस्तेमाल करते हैं. यह चीज है रसोई में आराम से मिलने वाली हल्दी. जी हां, हल्दी भी साइन से सराहत दिला सकती है.

Winter Superfoods: ये खाओ और सर्दियों की समस्याओं को दूर भगाओ... ये हैं 'सुपर फूड्स'...

हल्दी के फायदे (Turmeric Benefits)

हल्दी एक गुणकारी औषधि भी है. आयुर्वेद में इसे कई दवाओं में इस्तेमाल किया जाता है. हल्दी में एंटीऑक्सिडेंट होने से लेकर एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल जैसे गुण मौजूद हैं. प्राचीनकाल से ही आयुर्वेद में हल्दी का उपयोग काफी दवाओं में किया जाता रहा है. स्वास्थ्य के लिहाज से हल्दी का इस्तेमाल बहुत से व्यंजनों में किया जाता है तो चलिए जानते हैं हल्दी से होने वाले ऐसे ही कुछ फायदों के बारे में.

Weight Loss: हल्दी है वजन घटाने के लिए रामबाण इलाज! जानें इस सुपरफूड के कमाल के फायदे

turmericसाइनस के इलाज के लिए आयुर्वेदिक नुस्खा तलाश रहे हैं, तो यह काढ़ा मददगार साबित होगा.


साइनस के लिए यूं बनाएं हल्दी का काढ़ा 

अगर आप साइनस से परेशान हैं और इसके लिए कोई आयुर्वेदिक नुस्खा या इलाज तलाश रहे हैं, तो हम आपको बताते हैं कि कैसे आप हल्दी से काढ़ा तैयार कर सकते हैं. हल्दी का काढ़ा दिन में दो बार सुबह-शाम लेने से साइनस में राहत मिल सकती है. काढ़ा बनाने के लिए आप एक कप पानी में हल्दी और काली मिर्च डाल कर इसे तब तक उबाल लें जब तक की यह आधा न हो जाए. आप अगर इसे और प्रभावी बनाना चाहते हैं तो इसमें तुलसी के पत्ते और अदलक भी शामिल कर सकते हैं. यह काढ़ा साइनस से राहत दिलाने में मदद कर सकता है.


(अस्वीकरण: यहां दी गई सामग्री या सलाह केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

और खबरों के लिए क्लिक करें

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... सेक्स कम करने से 35 की उम्र के बाद महिलाओं में आती है ये परेशानी

Advertisement