NDTV Khabar

Food Poisoning: क्या है फूड पॉइजनिंग की वजह, लक्षण और बचाव के तरीके...

वायरस और परजीवी भी फूड पॉइजनिंग (Food Poisoning) का कारण बन सकते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Food Poisoning: क्या है फूड पॉइजनिंग की वजह, लक्षण और बचाव के तरीके...

Food Poisoning Treatment: फूड पॉइजनिंग का इलाज करने का सबसे आम तरीका है कि आप बहुत सारे तरल पदार्थ पीएं.

खास बातें

  1. बैक्टीरिया 4-7 दिनों के बाद, 12 घंटे से 3 दिन तक बीमारी का कारण बनता है.
  2. फूड प्वॉइजनिंग के लक्षण लगभग 48 घंटों में गायब हो जाते हैं
  3. वायरस और परजीवी भी फूड पॉइजनिंग का कारण बन सकते हैं.
नई दिल्ली:

Food Poisoning: फूड पॉइजनिंग एक ऐसी समस्या है जिससे दुनियाभर में लाखों लोग प्रभावित होते हैं. फूड पॉइजनिंग की सबसे बड़ी वजह होती है अस्वस्थ खाना या साफ-सफाई का ध्यान न देकर तैयार खाना ग्रहण करना. खाद्य जनित बीमारियां या फूड पॉइजनिंग आम तौर पर उन खाद्य पदार्थो को खाने से होती है, जो दूषित बैक्टीरिया या उनके विषाक्त पदार्थो से होती है. चिकित्सकों का कहना है कि वायरस और परजीवी भी फूड पॉइजनिंग (Food Poisoning) का कारण बन सकते हैं. हार्ट केयर फाउंडेशन (एचसीएफआई) के अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल ने कहा, "लोग लंबे समय से जानते हैं कि कच्चे मांस, मुर्गी और अंडे भी रोगाणुओं का कारण बन सकते हैं. हाल के वर्षो में ताजे फल और सब्जियों के कारण खाद्य जनित बीमारियों का सबसे ज्यादा प्रकोप रहा है."


 

फूड पॉइजनिंग की वजह - Food Poisoning Caused By Bacteria

- फलों और सब्जियों की पूरी तरह से धुलाई और उचित तरीके से खाना पकाने से, खाद्य विषाक्तता का कारण बनने वाले अधिकांश बैक्टीरिया समाप्त हो सकते हैं, लेकिन कुछ स्ट्रेन हैं, जो प्रतिरोधी के रूप में उभर रहे हैं.

- इस प्रकार यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि स्रोत पर ही नुकसान को कम किया जाए. खाद्य जनित बीमारियां या फूड पॉइजनिंग आम तौर पर उन खाद्य पदार्थो को खाने से होती है, जो दूषित बैक्टीरिया या उनके विषाक्त पदार्थो से होते हैं. वायरस और परजीवी भी फूड पॉइजनिंग का कारण बन सकते हैं.

 

क्या हैं फूड पॉइजनिंग के लक्षण- Food Poisoning Symptoms

फूड पॉइजनिंग के कुछ लक्षणों में 
- पेट में दर्द, 
- मतली, 
- सिरदर्द, 
- थकान, 
- उल्टी, 
- दस्त और निर्जलीकरण शामिल हैं. 

ये खराब भोजन लेने के बाद कई घंटों से लेकर कुछ दिन तक दिखाई दे सकते हैं. उदाहरण के लिए, साल्मोनेला बैक्टीरिया 4-7 दिनों के बाद, 12 घंटे से 3 दिन तक बीमारी का कारण बन सकता है. फूड प्वॉइजनिंग के लक्षण लगभग 48 घंटों में गायब हो जाते हैं, लेकिन फिर भी निम्न युक्तियां स्थिति से मुकाबला करने में मदद कर सकती हैं.

 

 

food poisoning

Food Poisoning: फूड प्वॉइजनिंग के लक्षण लगभग 48 घंटों में गायब हो जाते हैं. 

 

फूड पॉइजनिंग के इलाज- Food Poisoning Treatment

फूड पॉइजनिंग का इलाज करने का सबसे आम तरीका है कि आप बहुत सारे तरल पदार्थ पीएं. बीमारी आमतौर पर कुछ दिनों में कम हो जाती है. हालांकि, कुछ बुनियादी कदमों के साथ स्वच्छता बनाए रखना भी जरूरी है. सबसे महत्वपूर्ण है हाथ धोना. खुले में शौच से बचना चाहिए और उपभोग से पहले फलों और सब्जियों को साफ पानी से धोया जाना चाहिए.

 

कैसे बचें फूड पॉइजनिंग से - Food Poisoning Prevention

- अपने पेट को व्यवस्थित होने दें. कुछ घंटों के लिए खाना-पीना बंद कर दें. 
- बर्फ के चिप्स चूसने या पानी के छोटे घूंट लेने की कोशिश करें. 
- जब आप सामान्य रूप से मूत्र त्याग कर रहे होते हैं और आपका मूत्र स्पष्ट और डार्क नहीं होता है, तो इसका मतलब है कि शरीर पर्याप्त हाइड्रेटेड है.
- धीरे-धीरे खाना शुरू करें. 
- कम वसा वाले, आसानी से पचने वाले खाद्य पदार्थ, जैसे कि टोस्ट, केला और चावल खाना शुरू करें. 
- अगर आपको फिर से मतली होने लगे तो खाना बंद कर दें. 
- जब तक आप बेहतर महसूस नहीं करते, तब तक कुछ पेय और खाद्य पदार्थो से बचें. इनमें डेयरी उत्पाद, कैफीन, शराब, निकोटीन, और वसायुक्त या अत्यधिक तले हुए खाद्य पदार्थ शामिल हैं. (इनपुट-आईएएनएस)

टिप्पणियां

और खबरों के लिए क्लिक करें.

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Good Newwz Box Office Collection Day 22: अक्षय कुमार की फिल्म ने 22वें दिन भी की धुआंधार कमाई, जानें कुल कलेक्शन

Advertisement