NDTV Khabar

पेट की गैस, दर्द, भारीपन और पेट की सूजन से राहत पाने के आयुर्वेदि‍क नुस्खे

Acidity: पेट की गैस के घरेलू उपाय मौजूद हैं. आप पेट की गैस के लिए योग भी कर सकते हैं. अगर आप पेट की गैस की अचूक दवा, पेट की गैस का तुरंत इलाज, पेट की गैस का रामबाण इलाज, पेट की गैस की दवा या पेट की गैस कैसे खत्म करें जैसे सवालों से घि‍रे हैं तो हम आपको बताते हैं पेट की गैस का घरेलू उपचार. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पेट की गैस, दर्द, भारीपन और पेट की सूजन से राहत पाने के आयुर्वेदि‍क नुस्खे

Acidity: पेट की गैस के घरेलू उपाय मौजूद हैं.

Home Remedies for Acidity in Hindi: हम सभी को स्वादिष्ट और शानदार खाद्य पदार्थों का लुत्फ उठाना पसंद है. लेकि‍न ज्यादातर स्वादिष्ट खाने में मसालों का खूब जमकर इस्तेमाल कि‍या जाता है और उनमें बड़ी मात्रा में तेल होता है. हालाँकि ये चीजें व्यंजनों में स्वाद बढ़ाती हैं, लेकिन साथ ही, ये आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के साथ भी खिलवाड़ करने की क्षमता रखती हैं. आपके खाने में कैलोरी लोड जोड़ने के अलावा, ये चिकना खाद्य पदार्थ आपके पाचन स्वास्थ्य पर भी भारी पड़ सकता है. अम्लता यानी एसिडिटी (Acidity),पेट फूलना (flatulence), पेट फूलना (bloating) पाचन संबंधी कुछ समस्याएं हैं जो इस तरह के खाद्य पदार्थों के कारण उत्पन्न हो सकती हैं. आपने देखा होगा कि हेवी मील के बाद, गैस और सूजन (gas and bloating) दो ऐसी परेशान‍ियां हैं, जिनका सामना कई लोगों को करना पड़ता है. हेवी खाना स‍िर्फ असुविधा की भावना पैदा करता है, बल्कि पाचन और आंत के स्वास्थ्य को भी काफी हद तक प्रभावित करता है. अगर आप गैस व पेट फूलने की शिकायत से परेशान होते हैं तो पेट फूलने के कारण और दवा के बारे में जरूर सर्च कर रहे होंगे. पेट फूलना या गैस बनना ऐसी समस्या है जिससे बहुत लोग प्रभावि‍त होते हैं. पेट फूलना और इसके लक्षण, पेट फूलना ट्रीटमेंट, पेट फूलने पर क्या करना चाहिए, पेट फूलने के लक्षण, बच्चों का पेट फूलना और खाना खाने के बाद पेट में भारीपन ऐसी समस्याएं हैं ज‍िनके लि‍ए अक्सर लोग डॉक्टर से दवा लेने के बाद भी राहत महसूस नहीं करते. जरूरी है क‍ि आप गैस के लक्षण समझें और गैस जड़ से खत्म करने के लि‍ए घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल करें. उसी से छुटकारा पाने के लिए, आप अपनी रसोई में आसानी से उपलब्ध सामग्री का उपयोग कर सकते हैं, जो कि सभी प्राकृतिक हैं. जी हां, आपने एकदम ठीक पढ़ा. इस रोजमर्रा की समस्या को आप रसोई में रखी चीजों से ही ठीक कर सकते हैं. भारतीय रसोई घर उन सामग्रियों का खजाना हैं, जिनमें गुणकारी उपचार गुण हैं. 

 


Acidity: Symptoms, Treatment, and Home Remedies: पेट की गैस के घरेलू उपाय मौजूद हैं. आप पेट की गैस के लिए योग भी कर सकते हैं. लेकि‍न अगर आपके पास योगा का समय नहीं है और आप पेट की गैस की अचूक दवा, पेट की गैस का तुरंत इलाज, पेट की गैस का रामबाण इलाज, पेट की गैस की दवा या पेट की गैस कैसे खत्म करें जैसे सवालों से घि‍रे हैं तो हम आपको बताते हैं पेट की गैस का घरेलू उपचार (Acidity Home Remedy). 

Ayurvedic Drink For Digestion: पेट की गैस को ठीक करने के लि‍ए आप एक पेय बना सकते हैं. जो सिर्फ तीन सामग्रियों का उपयोग करके फटाफट बनाया जा सकता है, वह है हरी इलायची (cardamom), जीरा (cumin) और सौंफ (fennel). आयुर्वेदिक विशेषज्ञ, डॉ. आशुतोष गौतम के अनुसार, "इन तीन अवयवों का उपयोग से बने नुस्खे को पेट की गैस या पेट फूलने पर इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है. सौंफ़ में मूत्रवर्धक गुण होते हैं, जबकि इलायची और जीरा दोनों गैस्ट्रिक विकृति से राहत दिलाने में मदद करते हैं और प्रकृति में पाचक होते हैं."

सौंफ के बीजों में मौजूद वाष्पशील तेल गैस्ट्रिक एंजाइम के उत्पादन को बढ़ावा देने में मदद करते हैं, जो पाचन प्रक्रिया को और अधिक मजबूत बनाते हैं.

डॉ. आशुतोष कहते हैं के अनुसार "इसके अलावा, 1 चम्मच धनिया के बीज को 5 मिनट के लिए पानी में उबालें और फिर दिन में दो बार इसे पीने से यह पेट के फूलने (bloating) से जुड़ी समस्याओं में फायदेमंद हो सकता है. यह पेय शरीर में वॉटर र‍िटेंशन को कम करने में भी मदद करता है और हल्का महसूस करता है.'' धनिया के फायदे बहुत (benefits of coriander) ज्यादा होते हैं. इसमें मूत्रवर्धक गुण होते हैं और इसमें एक हार्मोन संतुलन क्रिया होती है, इसलिए इसे पूर्व-मासिक धर्म सिंड्रोम (pre-menstrual syndrome)  के लिए अच्छा माना जाता है. 

jeera water

Ayurvedic remedy for gas and bloating: गैस या एसिडिटी से बचने के लिए आप इस नुस्खे को आजमा सकते हैं.

कैसे बनाएं इन 3 चीजों से पेट की गैस दूर करने वाला आयुर्वेदि‍क ड्रिंक - How you can make this 3-ingredient Ayurvedic drink for bloating:

 सामग्री:
 

  • 1 बड़ा चम्मच हरी इलायची
  • 1 बड़ा चम्मच जीरा
  • 1 बड़ा चम्मच सौंफ के बीज

 तरीका:

  1. शुरुआत करने के लिए, एक कटोरा लें और उसमें पानी डालें. इसे तेज आंच पर उबलने रख दें.
  2. अगला, तीनों सामग्रियों में मिलाएं और उन्हें उबलने दें. 
  3. थोड़ी देर के बाद इसे छान लें और इस गर्म को पी लें. 

तो, अगली बार जब आप अपने मनपसंद फूड का लुत्फ उठाएं तो पेट की गैस या पेट के भारी होने के डर को दूर छोड़ दें.

और खबरों के लिए क्लिक करें.

ये भी पढ़ें- 

टिप्पणियां

Manage High Blood Pressure: क्या हाई बीपी को ठीक करने में मददगार है दही या योगर्ट?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement