NDTV Khabar

Diabetes Diet: डायबिटीज में क्या खाएं शहद या चीनी? पढ़ें मधुमेह में शहद के फायदे और पोषक तत्वों के बारे में

Diabetes Diet Management: इसी तरह के कई सवाल जैसे डायबिटीज डाइट चार्ट वेजीटेरियन (vegetarian diet), डायबिटीज लेवल, डायबिटीज कंट्रोल, डायबिटीज क्या है, डायबिटीज डाइट या डायबिटीज आहार कैसा हो, डायबिटीज की दवा कौन सी होती है वगैरह वगैरह लोग अक्सर पूछते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Diabetes Diet: डायबिटीज में क्या खाएं शहद या चीनी? पढ़ें मधुमेह में शहद के फायदे और पोषक तत्वों के बारे में

Diabetes treatment: शहद, डायबिटीज से लड़ने में मदद कर सकता है.

खास बातें

  1. डायबिटीज में क्या खाएं चीनी या शहद?
  2. यह जान लेना भी जरूरी है क‍ि शुगर क्यों बढ़ती है (diabetes causes).
  3. सही शहद की पहचान के ल‍िए देखें क‍ि वह दानेदार हो.

Diabetes Diet: डायबिटीज़ यानी मधुमेह एक ऐसी समस्या है, जि‍समें अगर छोटी-छोटी बातों का ख्याल न रखा जाए तो यह और रोगों को बुला सकती है और खतरनाक साब‍ित हो सकती है. इसलिए यह जरूरी है क‍ि डायब‍िटीज के लक्षण (Diabetes Symptom) समय रहते पहचान लिए जाएं और डायब‍िटीज का इलाज (Diabetes Treatment) क‍िया जाए. हालांक‍ि डायब‍िटीज की दवा (Diabetes Medicine) लेने से इसे कंट्रोल क‍िया जा सकता है, लेकिन यह कोई सेहतमंद व‍िकल्प नहीं. आप डायबि‍टीज के लिए अपने भोजन (Diabetes Diet) में बदलाव कर खुद को सेहतमंद बनाए रख सकते हैं. लेक‍िन एक डायब‍िटीक को खाने से जुड़े कई सवालों और सुझावों का सामना करना पड़ता है. डायबि‍टीज में क्या खाएं और क्या नहीं यह भी सही तरह पता होना चाहि‍ए. इसी तरह के कई सवाल जैसे डायबिटीज डाइट चार्ट वेजीटेरियन (vegetarian diet), डायबिटीज लेवल, डायबिटीज कंट्रोल, डायबिटीज क्या है, डायबिटीज डाइट (Diabetes Diet) या डायबिटीज आहार कैसा हो, डायबिटीज की दवा कौन सी होती है वगैरह वगैरह लोग अक्सर पूछते हैं. लेक‍िन एक बात ज‍िसका आपको ख्याल रखना चाहिए ताकी आपका ब्लड शुगर लेवल हमेशा कंट्रोल में रहे वह है मीठा खाने की मात्रा पर. इसके अलावा किस तरह का मीठा खाना चाहि‍ए और क‍िस तरह का नहीं. इससे जुड़े भी बहुत से सवाल मन में होते हैं. ऐसा ही एक सवाल है क‍ि क्या डायब‍िटीज में शहद खाना चाह‍िए (Is honey good for diabetes) या डायब‍िटीज में चीनी खानी चाह‍िए या शहद? तो चलिए जानते हैं- 

डायबिटीज में क्या खाएं चीनी या शहद | Is Honey Good For Diabetes In Hindi

चीनी से कैसे अलग है शहद 


शहद में मौजूद घटक इसे मीठा बनाते हैं. शहद में फ्रुक्टोज़ और ग्लूकोज़ होते हैं. शहद खनिज और विटामिन्स के अलावा कई दूसरे पोषक तत्वों से भरपूर होता है. असल में शहद शक्कर से भी ज़्यादा मीठा होता है. तो अगर आप चीनी ज‍ितना ही शहद इस्तेमाल करेंगे तो आपको म‍िठास में किसी तरह की कमी महसूस नहीं होगी. 

61oakdho

Diabetes Diet: डायबिटीज डाइट में शहद शाम‍िल करें, शहद में फ्रुक्टोज़ और ग्लूकोज़ होते हैं.

शहद के पोषक तत्व

यूएसडीए के अनुसार एक चम्मच शहद (तकरीबन 21 ग्राम शहद) में 64 कैलोरी, 17.3 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, फैट और प्रोटीन 0 ग्राम होता है. यही वजह है क‍ि शहद आपको वेट गेन क‍िए बि‍ना ही स्वास्थ्य बेहतर बना सकता है. शहद के पोषक तत्वों पर नजर डाली जाए तो पता चलेगा क‍ि शहद में कैलोरी कम होती है और फैट ब‍िलकुल नहीं होता. तो यही वजह है क‍ि शहद वजन कम करने में भी मददगार है.

शहद के 5 फायदे

1. शहद के नियमित रूप से सेवन से खून साफ होता है और दिल से संबंधित बीमारियां होने की संभावना बहुत कम हो जाती है. 

2.  रोजाना दो चम्मच शहद खाने से बालों को गिरने से रोका जा सकता.

3. शहद की मदद से शरीर को ऊर्जावान बनाया जा सकता है. नियमित रूप से एक बड़े चम्मच शहद का सेवन करने से शरीर को ऊर्जा मुहैया करवाई जा सकती है.
 
4. शहद के कई फायदे हैं. यह मांसपेशियां मजबूत करने में भी मददगार है. शरीर की मांसपेशियां जितनी मजबूत होंगी, शरीर उतनी फर्ती से ही मुश्किल काम कर पाएगा. ऐसे में शरीर की मांसपेशियां मजबूत करने के लिए शहद का सेवन करना काफी लाभ पहुंचा सकता है.

5. त्वचा को खूबसूरत और चमकदार बनाने के लिए भी शहद का सेवन मददगार हो सकता है. त्वचा में निखार लाने के लिए ठंडे पानी में शहद मिलाकर रोजाना पीना चाहिए. 

4nrfm588

Diabetes diet chart vegetarian: अक्सर शाकाहारी लोग मधुमेह के ल‍िए डाइट चार्ट तलाशते हैं. 

क्यों डायबि‍टीज में चीनी से बेहतर है शहद 

Sugar Or Honey? शहद की ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू चीनी या शक्कर के मुकाबले कम होती है. असल में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू वाले आहार डायबिटिक लोगों के लिए अच्छे माने जाते हैं. क्योंकि ग्लाइसेमिक इंडेक्स असल में खाने की वह वैल्यू या मूल्य बताता है, ज‍िसमें किसी भी खाने से आपके ब्लड ग्लूकोज़ लेवल के धीमे या तेजी से बढ़े का पता चल सकता है. शहद में ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू 55 है. इसका मतलब यह हुआ क‍ि यह शक्कर के ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू से कम है, जोक‍ि 65 होता है. इस बात का मतलब यह हुआ क‍ि शहद, चीनी की तुलना में कम तेज़ी से ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता है.


डायबि‍टीज को कंट्रोल करने के लिए शहद कैसे चुनें

जरूरी है कि‍ आप बाजार में उपलब्ध बेहतर शहद लें. सही शहद की पहचान के ल‍िए देखें क‍ि वह दानेदार हो. सबसे अच्छा होगा क‍ि कच्चे शहद को चुनें. जिसमें कुछ भी ना मिलाया गया हो. कोश‍िश करें क‍ि प्रोसेस्ड शहद का इस्तेमाल न करें.
 

 

कैसे डायबि‍टीज को कंट्रोल करने में मददगार है शहद 

- एंटीऑक्सीडेंट डायबिटिक लोगों के लिए फ़ायदेमंद मानी जाती है. शहद में काफी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं. जो चीनी के मुकाबले शहद में ज्यादा होता है. 
- हाल ही में हुई एक रिसर्च के मुताब‍िक टाइप 2 डायबिटिक लोगों के ल‍िए शहद का सेवन अच्छा होता है. 
- टाइप 2 डायबिटीज़ में जब ब्लड शुगर लेवल स्थिर रहता है, तो शक्कर की जगह शहद को आहार में शामि‍ल करें. 

डायबिटीज डाइट में कैसे शाम‍िल करें शहद

डायबिटीज में सबसे जरूरी है सही आहार यानी डाइट लेना. तो जैसा क‍ि हम आपको बता चुके हैं क‍ि शहद में ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू चीनी से कम होती है, तो यह आपके लिए चीनी का अच्छा विकल्प साब‍ित हो सकता है. आप इसे कॉफी में, चाय में, गर्म पानी में या सलाद के साथ ले सकते हैं. 

(यह लेख बीएचएमएस डॉक्टर स्वात‍ि भारद्वाज से बातचीत पर आधार‍ित है.)

डायबिटीज से जुड़ी और खबरों के लिए क्लिक करें.

Diabetes Treatments : 4 मसाले जो करेंगे ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल

कैसे होती है शुगर की बीमारी? कैसे डायबिटीज कंट्रोल करेगा आंवला? पढ़ें आंवला के फायदे

टिप्पणियां

Improve Sex Life: सेक्स पावर बढ़ाएंगे ये 10 फूड, आज ही करें ट्राई



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement