Navratri Bhog For Nine Days 2020: नवरात्र प्रसाद में मां दुर्गा को लगाएं ये नौ अलग-अलग भोग, यहां देखें रेसिपी

Navratri Bhog For Nine Days 2020: माना जाता है कि मां दुर्गा को नौ दिन अलग-अलग उनका मनपंसद भोग लगाने से मां भगवती प्रसन्न होकरअपने भक्तों पर खास कृपा करती हैं.

Navratri Bhog For Nine Days 2020: नवरात्र प्रसाद में मां दुर्गा को लगाएं ये नौ अलग-अलग भोग, यहां देखें रेसिपी

नवरात्रि के नौ दिनों को बेहद पवित्र माना जाता है.

खास बातें

  • नवरात्रि के चौथे दिन मां कुष्मांडा की पूजा की जाती है.
  • स्कंदमाता को केले का भोग लगाया जाता है.
  • मां कात्यायनी को शहद और मीठे पान का भोग अति प्रिय है.

Navratri Bhog For Nine Days 2020: शरद नवरात्र  (Sharad Navratri) हिन्‍दुओं के प्रमुख त्‍योहारों में से एक हैं. जिसे दुर्गा पूजा (Durga Puja) के नाम से भी जाना जाता है. नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा के सभी नौ रूपों की पूजा की जाती है. मां दुर्गा को नौ दिन अलग-अलग उनका मनपंसद भोग लगाने से मां अपने भक्तों पर खास कृपा बरसाती हैं. नवरात्रि के नौ दिनों को बेहद पवित्र माना जाता है. इस दौरान लोग देवी के नौ रूपों की आराधना कर उनसे आशीर्वाद मांगते हैं. मान्‍यता है कि इन नौ दिनों में जो भी सच्‍चे मन से मां दुर्गा की पूजा करता है. उसकी सभी इच्‍छाएं पूर्ण होती हैं. कहा जाता है कि नवरात्र में पहले दिन से लेकर, अंतिम दिन तक मां भगवती को उनका मनपंसद भोग, लगाने से मां अपने भक्तों पर खास कृपा बरसाती हैं. तो आइए जानते हैं मां दुर्गा को किस दिन कौन से भोग लगाना चाहिए.

1. नवरात्रि का पहला दिन, मां शैलपुत्रीः

shailputri

नवरात्र के पहले दिन मां दुर्गा की शैलपुत्री के रूप में पूजा की जाती है. मां शैलपुत्री को गाय का घी अथवा उससे बने पदार्थों का भोग लगाया जाता है. माना जाता है कि इससे खुश होकर माता अपने भक्तों पर खास कृपा करती है. रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

2. नवरात्रि का दूसरा  दिन, मां ब्रह्मचारिणीः

maa brahmacharini

नवरात्र के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है. मां ब्रह्मचारिणी  को शक्कर या शक्कर से बनी चीजों का भोग चढ़ाया जाता है. माना जाता है, कि जो भक्त मां के इस रुप की पूजा करते हैं उनपर मां की अपार महिमा  बनी रहती है.रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

3. नवरात्रि का तीसरा दिन, मां चंद्रघंटाः

chandraghanta devi

नवरात्रि के तिसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है. मां के इस रूप में मस्तक पर घंटे के आकार का आधा चन्द्र बना होने के कारण इनका नाम चन्द्रघंटा पड़ा. माना जाता है कि मां की कृपा से साधक को संसार के सभी कष्टों से छुटकारा मिल जाता है. मां चंद्रघंटा को दूध या दूध से बनी चीजों का भोग लगाया जाता है.रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

4. नवरात्रि का चौथा दिन, मां कुष्मांडाः

us3v3dgg

नवरात्रि के चौथे दिन मां कुष्मांडा की पूजा की जाती है. मां कुष्ठमांडा ने अपने उदर से ब्रह्मांड को उत्पन्न किया था. माना जाता है जो भक्त मां के इस रूप की आराधना करते हैं, उनपर कभी किसी प्रकार का कष्ट नहीं आता. मां कुष्ठमांडा को मालपूआ का भोग लगाया जाता है.रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

5. नवरात्रि का पांचवां दिन, मां स्कंदमाताः

m21slg88

नवरात्र के पंचम दिन में आदिशक्ति मां दुर्गा की स्कंदमाता के रूप में पूजा की जाती है. इन्हें पद्मासनादेवी भी कहते हैं. कुमार कार्तिकेय की माता होने के कारण इनका नाम स्कंदमाता पड़ा. मां स्कंदमाता को केले का भोग लगाया जाता है. रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

6. नवरात्रि का छठा दिन, मां कात्यायनीः

3bu8p7d

 नवरात्र के छठे दिन मा कात्यानी की पूजा की जाती है. महर्षि कात्यायन की तपस्या से प्रसन्न होकर आदिशक्ति मां दुर्गा ने उनके घर पुत्री के रूप में जन्म लिया और उनका कात्यायनी नाम पड़ा. मां कात्यायनी को शहद और मीठे पान का भोग अति प्रिय है. रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

7. नवरात्रि का सातवां दिन, मां कालरात्रिः

kalratri

नवरात्रि के सातवें दिन मां कालरात्रि की पूजा की जाती है. सभी राक्षसों के लिए कालरूप बनकर आई मां दुर्गा के इस कालरात्रि के रूप में प्रकट हुई थी. मान्यता है कि मां कात्यायनी को खुश करने के लिए गुड़ या गुड़ से बने भोग लगाए जाते हैं. रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

8. नवरात्रि का आठवां दिन, मां महागौरीः

h0mf03e8

आठवें दिन आदिशक्ति मां दुर्गा के महागौरी रूप की पूजा की जाती है. मां ने काली रूप में आने के पश्चात घोर तपस्या की और पुन: गौर वर्ण पाया और महागौरी कहलाई. तथा मां को हलवे व नारियल का भोग लगाया जाता है. रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

9. नवरात्रि का नवां दिन, मां सिद्धिदात्रीः

fkc92rf

नवरात्र के नौवें दिन मां सिद्धीदात्री की पूजा की जाती है. माना जाता है कि मां का यह रूप साधक को सभी प्रकार की ऋद्धियां एवं सिद्धियां प्रदान करने वाला है. मां सिद्धिदात्री को खीर, हलवा पूरी का भोग लगाया जाता है. रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें. 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.   
 

 फूड की और खबरों के लिए जुड़े रहें.

High-Protein Diet: हेल्दी रहने के लिए अंडे को डाइट में करें शामिल, जानें ये 5 बेहतरीन लाभ

जानें नवरात्रि के तीसरे दिन का महत्व, देवी चंद्रघंटा को किसका लगाएं भोग

Navratri Immunity Food: नवरात्रि व्रत में इम्यूनिटी को मजबूत बनाने के लिए, इन 4 फूड्स का करें सेवन

Benefits Of Makhana: स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है मखाना खाना, जानें ये 5 शानदार लाभ!

Health Benefits Of Asafoetida: स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है हींग का इस्तेमाल, जानें ये 5 आश्चर्यचकित करने वाले लाभ

Weight Loss: टेस्ट ही नहीं वजन घटाने में भी मददगार है, ये हाई प्रोटीन मटर उपमा रेसिपी!

Newsbeep

जानिए क्या हैं कुट्टू के आटे के फायदे, नवरात्रि में इस बार बनाएं ये पांच बेहतरीन व्यंजन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Navratri 2020: नवरात्रि व्रत के दौरान हाइड्रेट और हेल्दी रहने के लिए, इन 4 ड्रिंक्स का करें सेवन