November 2020 Festivals And Holidays: नवंबर में कब कौन सा है त्योहार? यहां जानें व्रत, रेसिपी और त्योहार की पूरी लिस्ट

November 2020 Festivals And Holidays: भारत को त्योहारों का देश कहा जाता है. भारत में होली, दीवाली, दशहरा, रक्षाबंधन, भाई दूज जैसे कई प्रमुख हिंदू तीज-त्योहार मनाए जाते हैं.

November 2020 Festivals And Holidays: नवंबर में कब कौन सा है त्योहार? यहां जानें व्रत, रेसिपी और त्योहार की पूरी लिस्ट

मौसम बदलते ही देश में त्योहारों का माहौल शुरू हो जाता है.

खास बातें

  • दिवाली त्योहारो के मौके पर खास तरह के मीठे बनाए जाते हैं.
  • करवा चौथ के व्रत की शुरुआत सरगी से होती है.
  • भारत सरकार धनतेरस को राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के रूप में मनाती है.

November 2020 Festivals And Holidays: भारत को रंगों का देश कहा जाता है. क्योंकि भारत में हर जाति हर वर्ग और हर समुदाय के लोग रहते हैं. भारत त्योहारों का देश है. जब भी मौसम बदलता है इस देश में त्योहारों का माहौल बन जाता है. भारत में होली, दीवाली, दशहरा, रक्षाबंधन, भाई दूज जैसे कई प्रमुख हिंदू तीज-त्योहार मनाए जाते हैं. इसी लिस्ट को आगे बढ़ा रहा है नवंबर का महीना. इस महीने में करवा चौथ, धनतेरस, और दिवाली , नरक चतुर्दशी जैसे त्योहार आ रहे हैं. तो अगर आप भी नवंबर के त्यौहार 2020 के कलैंडर में देख रहे हैं, तो यह लेख इसमें आपकी मदद कर सकता है. त्योहारों का सीजन शुरू होते ही हम सभी सोचते हैं कि दिवाली 2020 कब है या करवाचौछ कब है. इस बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं 2020  में नवंबर महीने के त्योहारों की लिस्ट. तो चलिए हम आपको बताते है नवंबर माह में पड़ने वाले त्योहारों के बारे में.

नवंबर 2020 के व्रत और त्योहार: (November 2020 Festivals And Holidays)

4 नवंबर बुधवार संकष्टी चतुर्थी, करवा चौथ
8  नवबंर रविवार अहोई अष्टमी
12 नवबंर गुरुवार गोवत्स द्वादशी
11 नवंबर बुधवार रमा एकादशी
13 नवंबर शुक्रवार मासिक शिवरात्रि , धनतेरस , प्रदोष व्रत (कृष्ण)
14 नवंबर शनिवार दिवाली , नरक चतुर्दशी
15 नवंबर रविवार गोवर्धन पूजा , कार्तिक अमावस्या
16 नवंबर सोमवार भाई दूज , वृश्चिक संक्रांति
20 नवंबर शुक्रवार छठ पूजा

कब है करवा चौथ 2020?

6vakgtno

करवाचौथ4 नवंबर 2020 को है. करवा चौथ एक ऐसा फेस्टिवल है, जिसका इंतजार लगभग सभी शादीशुदा महिलाओं को होता है. इस दिन सुहागनें अपने पति की लंबी उम्र के लिए प्रार्थना करती हैं. हिंदू मान्यता के अनुसार करवा चौथ महज एक व्रत नहीं है, यह पति-पत्नी के रिश्ते का जश्न है. उसकी मर्यादा और स्नेह के अनोखे संतुलन का एक खूबसूरत त्यौहार है. जिसमें पत्ति अपने पति की लंबी उर्म की कामना करती है. करवा चौथ के व्रत की शुरुआत सरगी से होती है. सरगी में क्या खाएं यहां जानें.

करवाचौथ के शुभ मुहूर्तः

करवाचौथ हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष में पड़ने वाली चतुर्थी को मनाया जाता है. इस साल करवा चौथ बुधवार यानी 4 नवंबर को है.
4 नवंबर यानी कार्तिक कृष्ण चतुर्थी के दिन व्रत के लिए कुल 13 घंटे 37 मिनट का समय है,
आपको सुबह 06 बजकर 35 मिनट से रात 08 बजकर 12 मिनट तक करवा चौथ का व्रत रखना होगा.

कब है धनतेरस 2020?

t9u8oui

धनतेरस को 'धन्य तेरस' या 'ध्यान तेरस' भी कहा जाता है. हर साल कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि के दिन धनतेरस मनाया जाता है. इस साल 13 शुक्रवार मासिक शिवरात्रि , धनतेरस , प्रदोष व्रत (कृष्ण) पड रहा है. भारत सरकार धनतेरस को राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के रूप में मनाती है.
धनतेरस की रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

धनतेरस 2020 तिथि और शुभ मुहूर्तः

धनतेरस तिथि - शुक्रवार, 13 नवंबर 2020

धनतेरस पूजन मुहूर्त - शाम 05:25 बजे से शाम 05:59 बजे तक।

प्रदोष काल - शाम 05:25 से रात 08:06 बजे तक।

वृषभ काल - शाम 05:33 से शाम 07:29 बजे तक।

त्रयोदशी तिथि प्रारंभ-12 नवंबर 2020 की रात 09:30 बजे से

 कब है दिवाली 2020?

tin33fik

दिवाली हिंदू धर्म का सबसे बड़ा त्योहार है. अगर आप भी करवाचौथ या दशहरे के बाद यह हिसाब लगाने लगे हैं कि दीवाली 2020 कब है, तो आपको बता दें कि दीपावली 2020 इस बार  14 नवंबर शनिवार को दिन है. दिवाली का त्योहार पूरे पांच दिनों का त्योहार होता है. धनतेरस, छोटी दिवाली, बडी दिवाली, गोवर्धन पूजा, और भाई दूज, आते है.

दिवाली 2020 शुभ पूजन मुहूर्तः

लक्ष्मी पूजा मुहूर्त: 14 नवंबर की शाम 5 बजकर 28 मिनट से शाम 7 बजकर 24 मिनट तक

प्रदोष काल मुहूर्त: 14 नवंबर की शाम 5 बजकर 28 मिनट से रात 8 बजकर 07 मिनट तक

वृषभ काल मुहूर्त: 14 नवंबर की शाम 5 बजकर 28 मिनट से रात 7 बजकर 24 मिनट तक 

दिवाली पर खास मिठाइया बनाई जाती हैंः (Special Foods and Sweets for Diwali)

भारत में बात त्योहार की हो और वहां मीठा ना हो ऐसा हो ही नहीं सकता. त्योहारो के मौके पर खास तरह के मीठे बनाए जाते हैं. त्योहारों में जमकर मीठा और अलग अलग तरह के पकवान पकाए व खाए जाते हैं. बाजार में चारों तरफ अलग-अलग तरह के मिष्ठान नजर आते हैं. और अगर मौका दिवाली का हो तो पकवानों और मिष्ठानों की यह लिस्ट और भी लंबी हो जाती है क्योंकि दिवाली तो त्योहार ही मिठाई बांटने का है. इस मौके पर लोग अपने नाते-रिश्तेदारों से मिलते हैं और ड्राईफ्रूट और मिठाईयों का अदान-प्रदान करते हैं.  इसके साथ ही जब घर में मेहमान आते हैं तो उन्हें भी खाने के अलग-अलग तरह की चीजें परोसी जाती हैं. इस मौके पर तैयार किए गए ज्यादातर मिष्ठान और पकवान देसी घी में बनाए जाते हैं. तो दिवाली पर रसोई में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली चीजें इस दौरान होती हैं देसी घी, चीनी, मावा वगैरह का इस्तेमाल किया जाता है.

कब है गोवर्धन पूजन 2020?

encnd2dc

दीपावली के अगले दिन यानि कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को गोवर्धन पूजा का पर्व मनाया जाता है. इस बार गोवर्धन पूजा 15 नवंबर को है. इस दिन खास तरह के व्यंजन बनाए जाते हैं. रेसिपी के लिएयहां क्लिक करें.

गोवर्धन पूजा पर्व तिथि - रविवार, 15 नवंबर 2020

गोवर्धन पूजा सायं काल मुहूर्त - दोपहर बाद 15:17 बजे से सायं 17:24 बजे तक

प्रतिपदा तिथि प्रारंभ - 10:36 (15 नवंबर 2020) से

प्रतिपदा तिथि समाप्त - 07:05 बजे (16 नवंबर 2020) तक

कब है भैया दूज 2020?

1np2opqo

रक्षाबंधन पर्व के समान भाई दूज पर्व कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है.  इस दिन बहनें अपने भाई की लंबी उम्र के लिए कामना करेंगी. भाई दूज को भाऊ बीज और भातृ द्वितीया के नाम से भी जाना जाता है. भाई दूज दीपावली के दो दिन बाद आने वाला एक ऐसा उत्सव है, जो भाई के प्रति बहन के अगाध प्रेम और स्नेह को अभिव्यक्त करता है. इस बार भाई दूज 16 नवंबर को पड़ रहा है. रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

भाई दूज तिथि – सोमवार, 16 नवंबर 2020

भाई दूज तिलक मुहूर्त - 13:10 से 15:17 बजे तक (16 नवंबर 2020)

द्वितीय तिथि प्रारंभ - 07:05 बजे से (16 नवंबर 2020)

द्वितीय तिथि समाप्त - 03:56 बजे तक (17 नवंबर 2020)

छठ पूजा 2020: 

5drk2csg

नवरात्रि, दशहरा और दिवाली की तरह छठ पूजा भी हिंदुओं का प्रमुख त्योहार है. बिहार में छठ पूजा को लेकर एक अलग ही उत्साह देखने को मिलता है. छठ को बिहार में बड़े पैमाने पर पूजा जाता है. बिहार में छठ एक बेहद प्रमुख पर्व है. यह व्रत सुहागनें अपने पति की लंबी उम्र के लिए रखती हैं. छठ पूजा में सूर्य देव की उपासना की जाती है. मान्यताओं के अनुसार, छठ माता को सूर्य देवता की बहन माना जाता है. कहते हैं कि सूर्य देव की उपासना करने से छठ माई प्रसन्न होती हैं और मन की सभी मुरादें पूरी करती हैं. रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

छठ पूजा 2020 की तिथि  20 नवंबर 2020

छठ पूजा के दिन सूर्योदय – 06 बजकर 48 मिनट तक

छठ पूजा के दिन सूर्यास्त – 17:26 तक

षष्ठी तिथि आरंभ – 21:58 (19 नवंबर 2020)

Newsbeep

षष्ठी तिथि समाप्त – 21:29 (20 नवंबर 2020)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.