NDTV Khabar

Solar Eclipse 2019: आज लगेगा सूर्य ग्रहण, जानें समय, सूतक और खाने से जुड़ी मान्यताओं के बारे में

Solar Eclipse 2019 In India: आज रात सूर्य ग्रहण लगेगा. यह सूर्य ग्रहण भारतीय समयानुसार (2 July Surya Grahan Time) आज रात 10 बजकर 25 मिनट पर लगेगा और सुबह 3 बजकर 21 मिनट पर खत्म होगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Solar Eclipse 2019: आज लगेगा सूर्य ग्रहण, जानें समय, सूतक और खाने से जुड़ी मान्यताओं के बारे में

Solar Eclipse 2019 In India: आज पूर्ण सूर्य ग्रहण लगेगा.

Solar Eclipse 2019 In India Date and Time: आज यानी मंगलवार को सूर्य ग्रहण लगेगा. अगर आप सोच रहे हैं कि आज सूर्य ग्रहण (Eclipse In July 2019) कितने बजे लगेगा या सूतक कब लगेगा (2 July Surya Grahan Time) तो बता दें कि यह सूर्य ग्रहण भारतीय समयानुसार आज रात 10 बजकर 25 मिनट पर लगेगा और सुबह 3 बजकर 21 मिनट पर खत्म होगा. हिंदू पंचाग (Hindu Panchang) के अनुसार साल 2019 में पड़ने या लगने वाले सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) में से आज लगने वाला सूर्य ग्रहण आषाढ कृष्ण पक्ष अमावस्या को होगा. यह सूर्य ग्रहण दक्षिण प्रशांत महासागर से शुरू होगा और दक्षिणी अमेरिका के कुछ भागो में भी इसका प्रभाव होगा. चिली और अर्जेंटीना में भी आज होने वाला सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse 2019 In India) खग्रास रूप में दिखेगा. अटलांटिका में भी इस ग्रहण का असर रहेगा. हरिद्वार के ज्योतिष पंडित निरंजन झा का कहना है कि क्योंकि यह सूर्य ग्रहण भारतीय समय अनुसार रात को होगा, तो इसका भारत में (Solar Eclipse July 2019 In India) कोई विशेष प्रभाव नहीं होता. अगर आप सोच रहे हैं कि सूर्य ग्रहण क्या होता है, तो आपको बता दें कि सूर्य ग्रहण एक खगोलीय घटना है, जो सूर्य, चंद्र और धरती की एक विशेष स्थिति के चलते होती है.

सूर्य ग्रहण कैसे होता है (How Solar Eclipse Occurs)? पृथ्वी अपनी धुरी पर घूमती है और वह इसके साथ ही साथ सूर्य के चक्कर भी लगाती है. जिस तरह धरती सूरज की परिक्रमा करती है ठीक उसी तरह चंद्रमा पृथ्वी का उपग्रह है और उसके चक्कर लगता है. एक तरह जब दोनों अपनी-अपनी धूरी पर परिक्रमा करते हैं और कभी चंद्रमा सूर्य और पृथ्वी के बीच में आ जाता है तो पृथ्वी पर सूर्य आंशिक या पूर्ण रूप से दिखना बंद हो जाता है. इसी पल को ग्रहण कहा जाता है.


कैसा है 'चैम्पियन' जाह्नवी कपूर का ब्रेकफास्ट! यहां देखें तस्वीर

सूर्य ग्रहण के दौरान की मान्यताएं (Religious Beliefs And Customs To Perform During Solar Epic)

- माना जाता है कि सूर्य ग्रहण को देखना नहीं चाहिए. 

- कहते हैं कि ग्रहण के दौरान नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव अधिक होता है, इसलिए हमेशा इस दौरान ईश्वर का ध्यान करना चाहिए.

-माना जाता है कि गर्भवती महिलाओं को इस दौरान कोई भी काम नहीं करना चाहिए. 

-मान्यता है कि सूर्य ग्रहण के दौरान कुछ भी खाना नहीं चाहिए. 

-कहते हैं कि सूर्य ग्रहण के दौरान खाना भी नहीं बनाना चाहिए.

-कहा जाता है कि जब भी सूर्य ग्रहण लगा हो, तो उस दौरान कपड़े नहीं सीलने चाहिए, न ही सूई का इस्तेमाल करना चाहिए.

-हिंदू धर्म में मान्यता है कि ग्रहण के दौरान नुकीली चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

- सूर्य ग्रहण के बाद स्नान करने की भी मान्यता है.

-प्रेग्नेंट महिलाओं, बुज़ुर्गों, रोगी और बच्चों को. साथ ही ग्रहण के दौरान खाना खाने और पकाने को भी मना किया जाता है. 

-कुछ लोग तो अपने घरों को भी पानी से धो डालते हैं. मान्यता है कि ग्रहण के बाद मन की शुद्धी के लिए दान-पुण्य भी करना चाहिए.

93n7s5m8

Solar Eclipse 2019 In India Date and Time: यह सूर्य ग्रहण भारतीय समयानुसार आज रात 10 बजकर 25 मिनट पर लगेगा  

सूर्य ग्रहण में खाएं या नहीं, जानें ग्रहण में खाने से जुड़ी मान्यताएं (Is eating food during solar or lunar eclipse really harmful?)

Sri Sri Tattva Panchakarma में सीनियर डॉक्टर मिताली मधुस्मिता कहती हैं कि ग्रहण शुरू होने के पहले या खत्म होने के बाद के दो घंटों में आप कुछ भी खा सकते हैं. जब सूर्य की किरणें नहीं होतीं, तो बैक्टिरीया काफी सक्रिय होते हैं. जो खाने के पोषक तत्वों को प्रभावित कर सकते हैं और आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकते हैं. इतना ही नहीं इस दौरान खाना पकाने से भी बचना चाहिए. लेकिन इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि बीमार लोगों को इस दौरान पूरी तरह से उपवास भी नहीं रखना चाहिए.

1. कौन रख सकता है उपवास? वे लोग जो बीमार हैं या जो बुजुर्ग हैं उन्हें इस दौरान उपवास नहीं करना चाहिए. लेकिन वे इस दौरान हल्का सात्विक भोजन ले सकते हैं. जो पचने में आसान हो और पेट के लिए भी हल्के हों. इस दौरान खाने में आप मेवे ले सकते हैं. यह कम मात्रा में खाने पर भी शरीर को पूरी एनर्जी देंगे. 

2. पानी पी सकते हैं? मिताली कहती हैं कि इस दौरान पानी पीने से भी बचना चाहिए. क्योंकि सूर्य की किरणें न होने के चलते बैक्टिरीया एक्टिव होते हैं. डॉक्टर मधुस्मिता कहते हैं -'' अगर आप बीमार हैं या आप गर्भवती हैं तो आप हल्का गर्म पानी पी सकते हैं. इसमें 8-10 बूंदे तुलसी का जूस या पत्ते ड़ाल कर उबाल सकते हैं. इसके साथ ही अगर आप सादा पानी नहीं पीना चाहते तो नारियल का पानी पी सकते हैं. सबसे बेहतर यह होगा कि आप ग्रहण से पहले ही अच्छी मात्रा में पानी पी लें.

और खबरों के लिए क्लिक करें.

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement