NDTV Khabar

Type 2 Diabetes: क्या होती है टाइप-2 डायबिटीज, कारण और बचाव के उपाय

Type 2 diabetes | What it is and what causes it: विटामिन-सी की खुराक लेने से मधुमेह यानी डायबिटीज रोगियों को दिनभर में बढ़ा हुआ रक्त शर्करा स्तर कम करने में मदद मिल सकती है. भारत में डायबिटीज से पीड़ित 25 साल से कम उम्र के हर चार लोगों में से एक (25.3 फीसदी) को वयस्क टाइप 2 मधुमेह (Type 2 Diabetes) है. यह स्थिति आदर्श रूप में मधुमेह (Diabetes), मोटापा (Obesity), अस्वास्थ्यकर आहार और निष्क्रियता के पारिवारिक इतिहास वाले केवल बड़े वयस्कों को होनी चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Type 2 Diabetes: क्या होती है टाइप-2 डायबिटीज, कारण और बचाव के उपाय

टाइप 2 मधुमेह (Type 2 Diabetes) के लक्षण समय के साथ धीरे-धीरे विकसित होते हैं.

Type 2 diabetes | What it is and what causes it: विटामिन-सी की खुराक लेने से मधुमेह यानी डायबिटीज रोगियों को दिनभर में बढ़ा हुआ रक्त शर्करा स्तर कम करने में मदद मिल सकती है. इस बात का एक अध्ययन में पाया गया है. शोध में यह भी पाया गया है कि विटामिन-सी टाइप-2 डायबिटीज वाले लोगों में रक्तचाप को कम करता है, जिससे हृदय की हालत अच्छी रहती है. सच तो यह है कि शारीरिक गतिविधि, अच्छा पोषण और मधुमेह की दवाएं मानक देखभाल और टाइप-2 मधुमेह प्रबंधन (Management of Type-2 Diabetes Mellitus in Adults) के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं, कुछ लोगों को दवा के साथ भी अपने रक्त शर्करा के स्तर का प्रबंधन करना मुश्किल हो सकता है. यह ध्यान देने वाली बात है कि भारत में डायबिटीज से पीड़ित 25 साल से कम उम्र के हर चार लोगों में से एक (25.3 फीसदी) को वयस्क टाइप 2 मधुमेह (Type 2 Diabetes) है. यह स्थिति आदर्श रूप में मधुमेह (Diabetes), मोटापा (Obesity), अस्वास्थ्यकर आहार और निष्क्रियता के पारिवारिक इतिहास वाले केवल बड़े वयस्कों को होनी चाहिए.

 


Ayurveda Skincare: 5 अद्भुत आयुर्वेदिक टिप्स, जो आपको देंगे Flawless Skin

 

hjgg2fr8

टाइप 2 मधुमेह कारकों (Type 2 Diabetes Causes) के संयोजन का एक परिणाम हो सकता है. 

 

क्या होता है टाइप 2 डायबिटीज- (Type 2 diabetes | What it is and what causes it) 

टाइप 2 मधुमेह (Type 2 diabetes) वाले व्यक्ति में, शरीर इंसुलिन का सही उपयोग नहीं कर पाता है और इस स्थिति को इंसुलिन प्रतिरोध कहा जाता है. अग्न्याशय या पेंक्रियास पहले इसके लिए अतिरिक्त इंसुलिन बनाता है. हालांकि, समय के साथ, यह रक्त शर्करा को सामान्य स्तर पर रखने के लिए पर्याप्त नहीं बना पाता है. हालांकि इस स्थिति के लिए सटीक ट्रिगर ज्ञात नहीं है, टाइप 2 मधुमेह कारकों (Type 2 Diabetes Causes) के संयोजन का एक परिणाम हो सकता है. कुछ ट्रिगर आनुवंशिक रूप से इस स्थिति के लिए पूर्वनिर्धारित हो सकते हैं.

 

डायबिटीज से जुड़ी और खबरों के लिए क्लिक करें.

 

Obesity and Type 2 Diabetes: मोटापे के पारिवारिक इतिहास वाले लोग इंसुलिन प्रतिरोध और मधुमेह के विकास के जोखिम में हैं. जो लोग मोटे हैं, उनके शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में इंसुलिन का उपयोग करने की क्षमता पर दबाव बढ़ जाता है. इससे टाइप 2 डायबिटीज (Obesity and Type 2 Diabetes) हो सकती है. किसी व्यक्ति के शरीर में जितना अधिक वसायुक्त ऊतक होते हैं, उसकी कोशिकाएं उतनी ही अधिक प्रतिरोधी होती हैं. जीवनशैली कारकों की भी इसमें प्रमुख भूमिका होती है.

4v9j675o

टाइप 2 मधुमेह (Type 2 Diabetes) के लक्षण समय के साथ धीरे-धीरे विकसित होते हैं.Photo Credit: iStock

 

टाइप 2 मधुमेह (Type 2 Diabetes) के लक्षण

टाइप 2 मधुमेह (Type 2 Diabetes) के लक्षण समय के साथ धीरे-धीरे विकसित होते हैं. उनमें से कुछ में प्यास और भूख में वृद्धि, बार-बार मूत्र त्याग की इच्छा होना, वजन कम होते जाना, थकान, धुंधली दृष्टि, संक्रमण और घावों का धीमी गति से भर पान तथा कुछ क्षेत्रों में त्वचा का काला पड़ना शामिल हैं.

स्वस्थ आहार आम तौर पर अस्वास्थ्यकर आहार की तुलना में अधिक महंगा होता है. कम पोषक तत्वों वाले सस्ते भोजन की व्यापक उपलब्धता से टाइप 2 मधुमेह की वैश्विक महामारी में इजाफा होता है. सब्जियों, ताजे फलों, साबुत अनाजों और असंतृप्त वसा जैसे टाइप 2 मधुमेह (Type 2 Diabetes) के जोखिम को कम करने वाले खाद्य पदार्थों की व्यापक रूप से उपलब्धता और दाम कम किये जाने की आवश्यकता है.

 

 

टाइप 2 डायबिटीज के नुकसान कम करने के कुछ उपाय : (Tips to help you reduce your risk of Type 2 Diabetes)

 

- व्यायाम अधिक से अधिक करें. 
- व्यायाम से विभिन्न लाभ होते हैं, जिनमें वजन बढ़ना, रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करना और अन्य स्थितियां शामिल हैं. 
- हर दिन कम से कम 30 मिनट की शारीरिक गतिविधि बहुत फायदेमंद है.
- सेहतमंद भोजन खाएं. 
- साबुत अनाज, फल और सब्जियों से भरपूर आहार शरीर के लिए बहुत अच्छा होता है. 
- रेशेदार भोजन यह सुनिश्चित करेगा कि आप लंबी अवधि के लिए पेट भरा महसूस करें और किसी भी तरह की तलब को रोकें. 
- जितना हो सके, प्रोसेस्ड और रिफाइंड फूड से बचें.
- शराब के सेवन को सीमित करें और धूम्रपान छोड़ दें. 
- बहुत अधिक शराब वजन बढ़ाने की ओर ले जाती है और आपके रक्तचाप और ट्राइग्लिसराइड के स्तर को बढ़ा सकती है. 
- पुरुषों को दो ड्रिंक प्रतिदिन और महिलाओं को एक ड्रिंक प्रतिदिन तक सीमित रखना चाहिए. 
- धूम्रपान करने वालों को धूम्रपान न करने वालों की तुलना में मधुमेह का दोगुना रिस्क रहता है. इसलिए, इस आदत को छोड़ना एक अच्छा विचार है.
- अपने जोखिम कारकों को समझें. ऐसा करना आपको जल्द से जल्द निवारक उपाय करने और जटिलताओं से बचने में मदद कर सकता है. (इनपुट-आईएएनएस)

टिप्पणियां

 

डायबिटीज से जुड़े और घरेलू नुस्खों और डाइट टिप्स के लिए क्लिक करें.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement