NDTV Khabar

गर्मियों में एलर्जी से बचने के आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

जब कोई व्यक्ति इन एलर्जेन्स के सम्पर्क में आता है, तब शरीर हिस्टामाइन्स नामक रसायन उत्पन्न करता है, जिससे एलर्जी की समस्या उत्पन्न होती है. 

5 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
गर्मियों में एलर्जी से बचने के आसान उपाय और घरेलू नुस्खे
गर्मियां आ चुकी हैं और इस मौसम में आंखों से पानी आने, जलन होने और छींकने वाली एलर्जी जनित समस्याएं सिर उठाने लगती हैं. एलर्जी कारक तत्व नाक बंद करने के अलावा नाक व गले में कफ भी पैदा कर देते हैं. गर्मियों के मौसम हमारे शरीर का वास्ता अनेक तरह के एलर्जी कारक तत्वों से पड़ता है और इनके जवाब में तंत्रिका तंत्र एलर्जी विरोधी एंटीबॉडीज का निर्माण करने लगता है, जिन्हें इम्यूनोग्लोबिन्स कहते हैं. ये नेत्रों, नाक, फेफड़ों और त्वचा में उपस्थित रहते हैं. जब कोई व्यक्ति इन एलर्जेन्स के सम्पर्क में आता है, तब शरीर हिस्टामाइन्स नामक रसायन उत्पन्न करता है, जिससे एलर्जी की समस्या उत्पन्न होती है. 

एलर्जी से बचने के लिए ये उपाय अपनाएं : 

-बाहर निकलते समय अपने साथ पानी की बोतल रखें. अधिक गर्मी में पसीने के कारण शरीर से खनिज लवणों का ह्रास होता रहता है. इसकी भरपाई के लिए पानी में थोड़ा स्वाद, नमक व मिठास घोल लेना उपयुक्त होगा. 

-चीनी युक्त पेय व डिब्बाबंद जूस न पिएं, क्योंकि ये शरीर में तरल पदार्थो के अवशोषण की प्रक्रिया को धीमा कर देते हैं.

-गहरे रंग वाले और तंग वस्त्र न पहनें. ये त्वचा पर मौजूद छिद्रों को बंद करके शरीर का तापमान बढ़ाने का काम कर सकते हैं. हल्के रंगों वाले और ढीले ढाले व सूती वस्त्रों को प्राथमिकता दें. 

-मौसमी फलों व सब्जियों का सेवन करें. खासतौर पर तरबूज, खरबूज, ककड़ी जैसे फलों का सेवन करें, जिनमें जल व लवणों की मात्रा अधिक होती है.

- छायादार स्थान में रहना लाभदायक रहता है, परंतु यदि यात्रा करना आवश्यक हो तो शरीर को ठंडा और आरामदायक रखने की व्यवस्था सुनिश्चित कर लें. सिर पर टोपी पहनें तो बेहतर होगा.

-अपने मूत्र के रंग पर ध्यान देते रहें. गहरे पीले रंग के मूत्र का मतलब है शरीर में द्रव्य की कमी है और पानी अधिक पीने की आवश्यकता है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement