Budget
Hindi news home page

लंबी उम्र चाहिए तो बड़ा परिवार ही बेहतर है : रिसर्च

ईमेल करें
टिप्पणियां
लंबी उम्र चाहिए तो बड़ा परिवार ही बेहतर है : रिसर्च
टोरंटो: अगर आप लंबी उम्र चाहते हैं, तो एक से अधिक बच्चों के बारे में सोचते समय हिचके नहीं, क्योंकि एक नए अध्ययन के मुताबिक किसी महिला द्वारा जन्म दिए गए बच्चों की संख्या उसकी उम्र को प्रभावित करती है। शोध से प्राप्त निष्कर्षों के आधार पर वैज्ञानिकों ने अधिक बच्चे पैदा करने से जल्दी बुढ़ापा आने वाले सिद्धांत का खंडन किया है। 

अध्ययन से पता लगा है कि जो महिलाएं अधिक बच्चों को जन्म देती हैं, उनके टेलोमेयर्स लंबे होते हैं, जो कोशिकाओं की लंबी उम्र को दर्शाते हैं। टेलोमेयर्स डीएनए के आखिर में पाया जाता है और यह कोशिकाओं की उम्र दर्शाता है। यह टेलोमेयर कोशिका प्रतिरूप का अभिन्न अंग है, जो व्यक्ति की लंबी उम्र से संबंधित होते हैं।

इस शोध में 75 महिलाओं को शामिल किया गया था। इनके द्वारा जन्मे बच्चों की संख्या का आंकलन उनके दो पड़ोसी स्वदेशी ग्रामीण ग्वाटेमाला ग्रुप और टेलोमेयर लंबाई के आधार पर किया गया। शोध के दौरान सभी प्रतिभागियों के टेलोमेयर की लंबाई, राल (थूक) के नमूनों और माउथ (मुख) स्वैब की सहायता से दो बार मापी गई। माउथ स्वैब जबड़े की कोशिकाओं के अंदर से डीएनए को इकट्ठा करने की एक विधि है।

साइमन फ्रेसर यूनिवर्सिटी के स्वास्थ्य विज्ञान के प्रोफेसर पाब्लो नेपोमैंशी के अनुसार, "ये निष्कर्ष जीवन इतिहास के उन सिद्धांतों का खंडन करते हैं, जो यह बताते हैं कि बच्चों को जन्म देने की संख्या जैविक बुढ़ापे की गति को बढ़ाती है।"

उन्होंने बताया, "अधिक संतानों वाले प्रतिभागियों में छोटे टेलोमेयर की धीमी गति पाई गई थी, हालांकि इसके लिए एस्ट्रोजन हार्मोन की वृद्धि को जिम्मेदार ठहराया जा सकता है।"


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement