मेसी और रोनाल्डो को पीछे छोड़ यह खिलाड़़ी बना 'FIFA player of the year'

हर साल की तरह इस बार फिर फीफा प्लेयर ऑफ ईयर (FIFA player of the year 2020) के खिलाब की घोषणा की गई लेकिन इस साल मेसी और रोनाल्डो इस खिताब को नहीं जीत पाए. इस बार  FIFA का खिताब जीतने वाले पोलैंड के खिलाड़ी रॉबर्ट लेवांडोव्स्की (Robert Lewandowski) हैं

मेसी और रोनाल्डो को पीछे छोड़ यह खिलाड़़ी बना 'FIFA player of the year'

मेसी और रोनाल्डो को पीछे छोड़ यह खिलाड़़ी बना 'FIFA player of the year', रच दिया इतिहास

FIFA player of the year  2020: फुटबॉल की दुनिया में मेसी और रोनाल्डो (Lionel Messi and Cristiano Ronaldo) ऐसा नाम है जिसने अपने खेल से करोड़े फैन बनाए हैं. फुटबॉल के चाहने वाले मेसी और रोनाल्डो के खेल को हर समय देखना चाहते हैं. लेकिन साल 2020 में कुछ ऐसा हुआ है जिसने हर किसी को हैरान कर दिया. हर साल की तरह इस बार फिर फीफा प्लेयर ऑफ ईयर (FIFA player of the year 2020) के खिलाब की घोषणा की गई लेकिन इस साल मेसी और रोनाल्डो इस खिताब को नहीं जीत पाए. इस बार  FIFA का खिताब जीतने वाले पोलैंड के खिलाड़ी रॉबर्ट लेवांडोव्स्की (Robert Lewandowski) हैं. बता दें कि मेसी और रोनाल्डो ने पिछले 12 खिताब में से 11 खिताब अपने नाम किए हैं. रॉबर्ट लेवांडोव्स्की ने इस साल बेहतरीन परफॉर्मेंस कर इस खिताब से अपना बनाया है.

लेवांडोव्स्की चैंपियंस लीग में 15 गोल करने में सफल रहे थे और इस लीग में सबसे ज्यादा गोल करने वाले फुटबॉलर भी बने थे. चैंपियंस लीग में मेसी ने 3 और रोनाल्डो केवल 4 गोल ही कर पाए थे. लेवांडोव्स्की बेयर्न म्यूनिख के लिए खेलने वाले पहले खिलाड़ी हैं और साथ ही फीफा कि खिताबृ जीतने वाले पहले पोलैंड के खिलाड़ी भी हैं. पिछले 20 सालों में यह केवल तीसरी बार ही है जब यह खिताब बार्सिलोना या रियल मैड्रिड के किसी खिलाड़ी को नहीं मिला है. 

इसके अलावा बेयर्न म्यूनिख के स्ट्राइकर रॉबर्ट लेवांडोव्स्की र्मन फुटबॉल लीग बुंडेसलीगा में 250 से अधिक गोल करने वाले तीसरे फुटबॉलर बन गए हैं. 32 वर्षीय लेवांडोव्स्की के बुंडेसलीगा में 251 गोल हो गए हैं. उनसे पहले गर्ड मुलर (365) और क्लाउस फिशर (268) ही बुंडेसलिगा में 250 से ऊपर गोल करने में सफल रहे हैं. हालाँकि, लेवांडोव्स्की बुंडेसलीगा में 250 गोल करने वाले पहले गैर-जर्मन हैं.


लेवांडोव्स्की ने वुल्फ्सबर्ग के खिलाफ बायर्न म्यूनिख की 2-1 की जीत में यह उपलब्धि हासिल की. रॉबर्ट लेवांडोव्स्की ने जब चैंपियंस लीग का खिताब जीतने का कमाल किया था तो उन्होंने पोलैंड के झंडे के साथ ट्वीट किया, ‘‘ सपने देखना कभी बंद नहीं करें। असफल होने पर कभी हार ना माने. अपने लक्ष्य को पाने के लिए कड़ी मेहनत करें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इनपुट भाषा से भी)