इसलिए मैच से दो दिन पहले स्पेनिश कोच हुए बर्खास्त, स्पेन में हड़कंप

इसलिए मैच से दो दिन पहले स्पेनिश कोच हुए बर्खास्त, स्पेन में हड़कंप

स्पेन के पूर्व कोच जुलेन लोपतेगुई

खास बातें

  • लोपेतेगुई ने हमारा भरोसा तोड़ा, स्पेन फुटबॉल संघ ने कहा
  • रियल मैड्रिड के पूर्व दिग्गज डिफेंडर फर्नाडो हिएरो होंगे नए कोच
  • स्पेन का पहला मैच 15 जून को पुर्तगाल से
नई दिल्ली:

इस कदम के बारे में स्पेन फुटबाल महासंघ के अध्यक्ष लुइस रुबियालेस ने एक बयान में कहा कि उन्होंने लोपेतेगुई में विश्वास खो दिया है. उन्हें रियल मैड्रिड द्वारा उनके फैसले के ऐलान से महज पांच मिनट पहले इसकी जानकारी मिली कि वह रियल के साथ जा रहे हैं. लुइस ने कहा कि मैं लोपतेगुई की प्रशंसा करता हूं और उनका सम्मान भी. वह शीर्ष स्तर के प्रशिक्षक हैं और इसी कारण हमारे लिए यह फैसला लेना बहुत मुश्किल था. आप इस प्रकार से विश्व कप की शुरुआत से दो-तीन दिन पहले ऐसी चीजें नहीं कर सकते, लेकिन हमें इस फैसले के लिए मजबूर होना पड़ा.

लोपतेहुई ने साल 2016 में स्पेन के मुख्य कोच पद का कार्यभार संभाला था. उनके मार्गदर्शन में खेले गए 20 में से 14 मैचों में स्पेन ने जीत हासिल की थी और बाकी छह मैच उसके ड्रॉ रहे थे. स्पेनिश फुटबाल संघ ने हिएरो को मुख्य कोच की जिम्मेदारी सौंप दी है.

यह भी पढ़ें: FIFA WORLD CUP 2018: जानें किन टीमों को खिताब का प्रबल दावेदार मान रहे सुनील छेत्री

टीम के नए कोच हिएरो एक खिलाड़ी के रूप में रियल मैड्रिड से खेल चुके हैं, लेकिन एक कोच के रूप में वह कम अनुभवी हैं. हिएरो एक वर्ष के लिए रियल के सहायक कोच और रियल ओविएडो के मुख्य कोच रहे चुके हैं. स्पेन का मुख्य कोच नियुक्त होने से पहले 50 वर्षीय हिएरो स्पेन के खेल निदेशक के पद पर थे. 

VIDEO: भारत के नॉर्थ-ईस्ट में फुटबॉल की लोकप्रियता लगातार ऊपर की ओर जा रही है.

स्पेन फुटबाल महासंघ (आरएफईएफ) ने कहा कि उसे 51 वर्षीय लोपतेगुई के रियल मेड्रिड के साथ हुए करार की जानकारी पहले मिली होती तो स्थिति कुछ और हो सकती थी लेकिन यह जानकारी छिपाई गई और इस कारण लोपतेगुई को कोच पद से हटाना पड़ा है.
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com