NDTV Khabar

गुजरात चुनाव : एग्जिट पोल के नतीजे सही साबित हुए तो क्या कांग्रेस अपनी ही बनाई 'पिच' पर ढेर हो गई

हालांकि अभी एग्जिट पोल के नतीजों पर यकीन कक लेना जल्दबाजी होगी लेकिन अगर नतीजे ऐसे ही आते हैं

579 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुजरात चुनाव : एग्जिट पोल के नतीजे सही साबित हुए तो क्या कांग्रेस अपनी ही बनाई 'पिच' पर ढेर हो गई

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ( फाइल फोटो )

खास बातें

  1. सभी एग्जिट पोल बीजेपी के पक्ष में
  2. कांग्रेस को फायदा लेकिन बीजेपी से काफी पीछे
  3. 18 दिसंबर को आएंगे नतीजे
गांधीनगर: गुजरात और हिमाचल प्रदेश  में चुनाव के बाद कई मीडिया समूहों की ओर से किए गए एग्जिट पोल में इन दोनों राज्यों में भाजपा की जीत की संभावना जताई गई है. हालांकि अभी एग्जिट पोल के नतीजों पर यकीन कक लेना जल्दबाजी होगी लेकिन अगर नतीजे ऐसे ही आते हैं तो एक बात जो सबसे पहले निकल कर सामने आती है वह यह कि क्या कांग्रेस अपने ही बनाए पिच पर हार गई है. कांग्रेस ने गुजरात चुनाव के पहले ही दिन से वहां पर जातिगत समीकरणों को अपने पाले में करने मे पूरी ताकत दिखा दी थी. पाटीदारों से लेकर उसने दलितों पर लगा रखा था. लेकिन एग्जिट पोल के नतीजों में वह फायदे में तो है लेकिन बीजेपी से काफी पीछे है.

कांग्रेस गुजरात जीते या हारे, मगर बीजेपी को राहुल गांधी से ये 5 बातें जरूर सीखनी चाहिए

इसकी एक वजह यह हो सकती है कि पाटीदारों के नेता हार्दिक पटेल ने जिस तरह से आक्रामक प्रचार किया उससे बाकी जातियां ने खुद को कांग्रेस से दूर पाया है. गुजरात में पिछले एक साल से हार्दिक पटेल ही मुद्दा रहे हैं इस चुनावी विश्लेषणों यही दिखाया जाता रहा है कि गुजरात में असली ताकत पाटीदारों के पास ही है और वह कई सीटों को प्रभावित कर सकते हैं लेकिन इन सबके बीच यह भी ध्यान रखना जरूरी था कि गुजरात में ओबीसी वोटबैंक सबसे ज्यादा है.  अगर गुजरात में बीजेपी को इतनी बड़ी जीत मिलती दिखाई दे रही थी तो जाहिर है कि पाटीदारों के अलावा बाकी जातियां बीजेपी के पक्ष में लामबंद हुई होंगी. इतना ही नहीं गुजरात के आदिवासियों ने भी इस बार बीजेपी को हो वोट दिया है जो कि अभी तक कांग्रेस का ही वोटबैंक रहा है. दूसरी एक आंकलन यह भी हो सकता है कि हार्दिक पटेल का उतना असर पाटीदारों के बीच नहीं दिखा जितना कांग्रेस ने अंदाजा लगाया था. यही हाल जिग्नेश मेवानी औ अल्पेश ठाकोर के साथ भी रहा है. कुल मिलाकर गुजरात के लिए कांग्रेस ने जो 'पिच' बनानी चाही वह उसी में ढेर में होती नजर आ रही है. 

एनडीटीवी   पर आए एक एग्जिट पोल में कहा गया कि भाजपा को 112 तथा कांग्रेस को 70 सीट मिल सकती हैं. तकरीबन सभी एक्जिट पोल में गुजरात में भाजपा को 100 से अधिक सीटें दी गई हैं. भाजपा इस राज्य में 22 साल से सत्ता में है. हिमाचल प्रदेश में भी भाजपा की जीत की संभावना जताई गई है. इस राज्य की राजनीति में यह देखा गया है कि हर पांच साल पर सत्ता परिवर्तन होता है. एक बार कांग्रेस तो दूसरी भाजपा सत्ता में आती है. फिलहाल हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है.

गुजरात चुनाव 2017 : दूसरे चरण की वोटिंग समाप्‍त, 68.70 फीसदी हुआ मतदान

‘टुडेज चाणक्य’ के एक्जिट पोल के अनुसार गुजरात में भाजपा को 135 सीटें मिलेंगी तो कांग्रेस को 47 सीटों से ही संतोष करना पड़ सकता है. टाइम्स नाउ-वीएमआर के एग्जिट पोल में कहा गया कि राज्य में भाजपा को 115, कांग्रेस को 64 तथा शेष सीट अन्य दलों को मिल सकती हैं. रिपब्लिक-सी वोटर के एग्जिट पोल के अनुसार भाजपा को 108 और कांग्रेस को 74 सीट मिलने का अनुमान है.

वीडियो :  चुनाव आयोग को बताया 'कठपुतली' बताया

कांग्रेस प्रवक्ता शोभा ओझा ने एक्जिट पोल के आकलन को खारिज करते हुए कहा कि चुनाव परिणाम के दिन ये अनुमान गलत साबित होंगे. उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि आप एक्जिट पोल पर कितना विश्वास करते हैं. हम बिहार, तमिलनाडु, पंजाब में एक्जिट पोल देख चुके हैं. ये सभी गलत साबित हुए. इसलिए आप एक्जिट पोल पर कितना यकीन कर सकते हैं.’’


 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement