NDTV Khabar

अमिताभ बच्चन से भी बड़े एक्टर हैं पीएम मोदी, आंसू बहाने के लिए उन्हें कॉन्टैक्ट लेंस की जरूरत नहीं पड़ती : राहुल गांधी

पीएम मोदी को निशाने पर लेते हुए राहुल ने कहा, 'आप देखेंगे कि चुनावों से दो-तीन दिन पहले फिर कैसे इस अभिनेता की आंखों से आंसू टपक पड़ते हैं.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमिताभ बच्चन से भी बड़े एक्टर हैं पीएम मोदी, आंसू बहाने के लिए उन्हें कॉन्टैक्ट लेंस की जरूरत नहीं पड़ती : राहुल गांधी

राहुल ने ली चुटकी, कहा- 'बिग बी' से भी बेहतर अभिनेता हैं पीएम मोदी

विसावदर (गुजरात):

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भावुक भाषणों पर चुटकी लेते हुए कहा कि वह अमिताभ बच्चन से भी बेहतर अभिनेता हैं. सावरकुंडला में एक चुनावी रैली में राहुल ने कहा, 'नरेंद्र मोदी जबर्दस्त अभिनेता हैं, अमिताभ बच्चन से भी बेहतर. अमूमन किसी अभिनेता को रोने के लिए कॉन्टैक्ट लेंस लगाना होता है. उसकी आंखों में जलन होती है और आंसू टपक पड़ते हैं. लेकिन नरेंद्र मोदीजी को अपनी आंखों से आंसू गिराने के लिए किसी कॉन्टैक्ट लेंस की जरूरत नहीं पड़ती.' मोदी को निशाने पर लेते हुए राहुल ने कहा, 'आप देखेंगे कि चुनावों से दो-तीन दिन पहले फिर कैसे इस अभिनेता की आंखों से आंसू टपक पड़ते हैं. वह हर मुद्दे पर बोलेंगे लेकिन यह नहीं बताएंगे कि गुजरात में अपने उत्पाद के लिए किसानों को कितने रुपये मिलते हैं, कर्ज माफी हुई कि नहीं या काले धन को सफेद कैसे कर लेते हैं.'

यह भी पढ़ें : गुजरात चुनाव: सोमनाथ मंदिर में राहुल गांधी की एक गैर-हिंदू के रूप में एंट्री से विवाद गहराया


टिप्पणियां

नोटबंदी के बाद एक भावुक भाषण में पीएम मोदी ने कहा था कि यदि वह काला धन वापस नहीं ला सके तो लोग उन्हें सूली पर लटका सकते हैं. चुनाव प्रचार के दौरान भावुक होकर प्रधानमंत्री ने हाल में कहा था कि गुजरात उनकी मां है और वह गुजरात के बेटे हैं. गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी को रबर स्टैंप करार देते हुए राहुल ने कहा कि दरअसल अमित शाह इस सरकार को चला रहे हैं. सौराष्ट्र क्षेत्र के विसावदर, सावरकुंडला और अमरेली में रैलियों को संबोधित करते हुए राहुल ने राफेल डील पर 'चुप्पी' एवं चुनिंदा उद्योगपतियों से कथित 'करीबी' के लिए पीएम मोदी पर हमला बोला.

VIDEO : सोमनाथ मंदिर में राहुल का 'धर्मसंकट'
साल 2015 में पाटीदार आरक्षण आंदोलन के दौरान इस समुदाय के 14 सदस्यों के पुलिस फायरिंग में मारे जाने की घटना का हवाला देते हुए राहुल ने विसावदर में कहा कि यदि कोई अपनी आवाज उठाता है तो गुजरात में या तो उसकी पिटाई कर दी जाती है या उसे गोलियों का सामना करना पड़ता है. (इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement