राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को झटका: एक और विधायक ने दिया इस्तीफा, 5 बागी MLAs को किया निलंबित, बाकियों को जयपुर भेजा

गुजरात में राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के एक और विधायक ने इस्तीफा दे दिया है. पार्टी छोड़ने वाले कुल विधायकों की संख्या अब पांच हो गई है.

राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को झटका: एक और विधायक ने दिया इस्तीफा, 5 बागी MLAs को किया निलंबित, बाकियों को जयपुर भेजा

गुजरात में कांग्रेस के पांच विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • एक और कांग्रेस विधायक ने दिया इस्तीफा
  • अब तक 5 कांग्रेस विधायकों ने दिया इस्तीफा
  • कांग्रेस ने सत्ताधारी बीजेपी पर लगाया आरोप
गांधीनगर:

गुजरात में राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के एक और विधायक ने इस्तीफा दे दिया है. पार्टी छोड़ने वाले कुल विधायकों की संख्या अब पांच हो गई है. इससे कांग्रेस की दो राज्यसभा सीटें जीतने की संभावना धूमिल हो रही है. गुजरात विधानसभा के अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी ने सोमवार को सदन को सूचित किया कि कांग्रेस के पांच विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है और उन्होंने उनके इस्तीफे स्वीकार कर लिए हैं. विधायकों का इस्तीफा राज्यसभा चुनाव से कुछ दिन पहले हुआ है. कांग्रेस गुजरात से खाली हो रही राज्यसभा की चार में से दो सीटें जीतने को लेकर आश्वस्त थी, लेकिन अब दूसरी सीट जीतने की संभावना कमजोर हो रही है.

विधानसभा अध्यक्ष ने बताया कि ये पांच विधायक गढ़ड़ा के प्रवीण मारू, अबदसा के प्रद्युम्नसिंह जडेजा, लिंबडी के सोमा कोली पटेल, धारी से जे.वी काकड़िया और डांग से मंगल गावित हैं. पांच कांग्रेस विधायकों में से गावित ने रविवार को अपना त्याग पत्र सौंपा, जबकि अन्य ने शनिवार को विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दिया. सोमवार दोपहर को बजट सत्र की शुरुआत होते ही कांग्रेस के विधायकों और मुख्यमंत्री विजय रूपाणी एवं उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल के बीच तीखी तकरार हुई. कांग्रेस विधायकों अमित चावड़ा और परेश धनानी ने सत्तारूढ़ भाजपा पर भ्रष्ट आचरण में संलिप्त होने और विधायकों के इस्तीफे के पीछे उसका हाथ होने का आरोप लगाया.

अब गुजरात में विधायकों को बचाने के लिए राजस्थान भेजने की तैयारी में कांग्रेस!

इस पर मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री ने कड़ी आपत्ति जताई और विपक्षी कांग्रेस से माफी की मांग की. रूपाणी ने कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे को विपक्षी दल की अंदरूनी दिक्कतों का नतीजा बताया और कहा कि भाजपा का इससे कोई लेना देना नहीं है. इस बीच कांग्रेस प्रवक्ता मनीष दोशी ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस प्रमुख चावड़ा ने राज्यसभा चुनाव से पहले विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने वाले पांचों विधायकों को तत्काल प्रभाव से पार्टी से निलंबित कर दिया है. विपक्षी दल ने इनमें से एक विधायक की पत्नी को भी प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया. विधायक की पत्नी का दावा था कि उनके पति ने राज्यसभा सीटों के लिए अंदरूनी कलह के कारण इस्तीफा दिया है.

बीजेपी ने राज्यसभा उम्मीदवारों का किया ऐलान, लिस्ट में 11 में से दो कैंडिडेट सहयोगी दलों के

182 सदस्यीय विधानसभा में, भाजपा के पास 103 सीटें हैं. कांग्रेस के पास 73 (इस्तीफे से पहले) सीटें थी, जबकि दो सीटें भारतीय ट्राइबल पार्टी के पास हैं. एक राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के पास है और एक निर्दलीय है. अदालती मामलों के कारण दो सीटें खाली हैं. इस्तीफे के बाद कांग्रेस के विधायकों की संख्या 68 हो गई है. वहीं गुजरात कांग्रेस ने 26 मार्च को राज्यसभा चुनाव के मद्देनजर राज्य के अपने 68 विधायकों में से 67 को सोमवार को जयपुर में भेज दिया. कांग्रेस के एक नेता ने बताया कि एक विधायक से संपर्क नहीं हो पा रहा है. पार्टी ने दो दिन में अलग अलग समूहों में 42 विधायकों को जयपुर भेजा था. वहीं, विधानसभा से बहिर्गमन के बाद 25 विधायाकों को एक उड़ान के जरिए जयपुर भेज दिया. दोशी ने बताया कि वलसाड की कपराडा (आरक्षित) सीट से विधायक जीतू चौधरी से संपर्क नहीं हो पा रहा है. उनका मोबाइल फोन बंद आ रहा है.

VIDEO: वरिष्ठ वकील मुकुल रोहतगी ने उठाया सवाल "जब 6 का इस्तीफा स्वीकार हुआ तब 16 का क्यों नहीं?"



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com