गुजरात के राजकोट में दलित की पीट-पीटकर हत्या, पत्नी भी गंभीर रूप से घायल

पति कि पिटाई देख महिला भागकर कुछ दूसरे लोगों को लेकर आई और पीड़ित मुकेश को आनन-फानन में राजकोट के सरकारी अस्पताल में ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

गुजरात के राजकोट में दलित की पीट-पीटकर हत्या, पत्नी भी गंभीर रूप से घायल

घटनास्थल से मिले वीडियो से ली गई तस्वीर

खास बातें

  • गुजरात के राजकोट की घटना
  • कूड़ा बीनने आया था परिवार
  • पुलिस ने 5 को किया गिरफ्तार
राजकोट:

गुजरात के राजकोट से एक दिल दहला देने वाला वीडियो सामने आया है जहां कूड़ा बीनने आए एक दलित जोड़े की भीड़ ने जमकर पिटाई कर दी. इस घटना में पति की मौत हो गई जबकि उसकी पत्नी गंभीर रूप से घायल हो गई. घटना के बाद से पीड़ित परिवार पोस्टमार्टम हाउस के बाहर धरने पर बैठा हुआ है. दरअसल राजकोट रादादिया इलाक़े में ये परिवार कूड़ा बीनने आए था. आरोप है कि उसी वक़्त वहां मौजूद एक फैक्टरी के मालिक ने उन्हें चोर समझ कर पिटाई शुरू कर दी. वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि किस कदर बेहरमी ने रॉड और लाठी से इस जोड़े की कुछ लोग पिटाई कर रहे हैं. 

SDM का दलितों को बारात निकालने की पुलिस से मंजूरी लेने का फरमान डीएम ने किया निरस्त

पति कि पिटाई देख महिला भागकर कुछ दूसरे लोगों को लेकर आई और पीड़ित मुकेश को आनन-फानन में राजकोट के सरकारी अस्पताल में ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. इस मामले में पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार है जिसमें फैक्टरी के मालिक शामिल हैं. उनके खिलाफ हत्या सहित एससी/एसटी एक्ट का भी मुकदमा दर्ज किया गया है. इस मामले की जांच के लिए डिप्टी एसपी रैंक के अफसर को जिम्मेदारी दी गई है. 

उमा भारती बोलीं, 'जब दलित हमारे घर आकर साथ बैठकर भोजन करेंगे तब हम पवित्र हो जाएंगे'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि इससे पहले ऊना में दलितों को पीटने का मामला सामने आया था जो उस समय देश की राजनीति का  और गुजरात विधानसभा चुनाव में अहम मुद्दा बना था. इस घटना पर दलित नेता और विधायक जिग्नेश मेवानी ने भी ट्वीट किया है.