NDTV Khabar

गुजरात : BJP में नहीं जा रहे हैं शंकर सिंह वाघेला, 24 को शक्ति प्रदर्शन में करेंगे रणनीति का खुलासा

भाजपा में घर वापसी की अटकलों को विराम देते हुए गुजरात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शंकर सिंह वाघेला ने साफ कर दिया है कि वे बीजेपी में नहीं जा रहे हैं. उनकी नाराजगी कांग्रेस पार्टी से नहीं बल्कि पार्टी की कार्य प्रणाली को लेकर है.

8 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुजरात : BJP में नहीं जा रहे हैं शंकर सिंह वाघेला, 24 को शक्ति प्रदर्शन में करेंगे रणनीति का खुलासा

शंकर सिंह वाघेला 24 जून को अपनी भविष्य की रणनीतियों का खुलासा करेंगे (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. 21 साल पहले बीजेपी से अलग हुए थे शंकर सिंह वाघेला
  2. बीजेपी में शामिल होने को लेकर अटकलों का बाजार गर्म
  3. इस साल के आखिर में हैं गुजरात में विधानसभा चुनाव
गांधीनगर: गुजरात में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शंकर सिंह वाघेला कांग्रेस में रहेंगे या नहीं, वे बीजेपी में जाएंगे या अपना खुद का संगठन खड़ा करेंगे, इन तमाम अटकलों का आज मंगलवार को भी कोई जवाब नहीं मिल सका. कयास लगाए जा रहे थे कि कांग्रेस से नाराज चल रहे वाघेला आज कुछ धमाका कर सकते हैं. लेकिन उन्होंने अपने रहस्यों से पर्दा उठाने के लिए अब 24 जून का दिन मुकर्रर किया है. 

वाघेला अब अपने भविष्य की रणनीति का खुलासा 24 तारीख को करेंगे. इसके लिए उन्होंने अपने समर्थकों का एक सम्मेलन बुलाया है. उन्होंने कहा कि वे अपने सहयोगी और मित्रों से सलाह-मशविरा करके कोई कदम उठाएंगे. साथ ही उन्होंने यह भी साफ कर दिया कि वे बीजेपी में तो कतई नहीं जा रहे हैं. 

जानकार बताते हैं कि पूर्व मुख्यमंत्री शंकर सिंह वाघेला द्वारा आहुत समर्थकों का सम्मेलन कांग्रेस पर दबाव बनाने की आखिरी तुरुप चाल होगी. वे शक्ति प्रदर्शन के जरिए कांग्रेस आलाकमान को यह साबित करना चाहेंगे कि आने वाले विधानसभा चुनावों में वे ही कांग्रेस की तरफ से सबसे मजबूत मुख्यमंत्री के दावेदार हैं. 

अटकलें लगाई जा रही थीं कि 77 वर्षीय वाघेला खुद को कांग्रेस से अलग कर अपना स्वयं का संगठन बना सकते हैं. ये भी कयास थे कि आज यानी मंगलवार को उनके द्वारा बुलाए संवाददाता सम्मेलन में इस बात की घोषणा की जाएगी. लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. 

वाघेला ने पत्रकारों को बताया कि वे कांग्रेस और कांग्रेस आलाकमान से बिल्कुल भी नाराज़ नहीं हैं. उनकी नाराज़गी चुनावी तैयारियों को लेकर हैं जो कि इस समय नहीं के बराबर हैं. 

बता दें कि पिछले काफी दिनों से वाघेला कांग्रेस में अपनी उपेक्षा के चलते काफी नाराज चल रहे हैं. उन्होंने इस बारे में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से भी मुलाकात की थी. बीच में चर्चा चली थी कि कांग्रेस के बड़ी संख्या में नाराज विधायक बीजेपी का दामन थामने की तैयारी कर रहे हैं. इस चर्चा से घबराई कांग्रेस को मौजूदा सभी विधायकों को टिकट देने की घोषणा करनी पड़ी. कांग्रेस के वर्तमान में 57 विधायक हैं.  
 
उधर, सत्ताधारी भाजपा, जो कि लगातार तीन बार से शासन कर रही है, ने चुनावी तैयारियां काफी पहले ही शुरू कर दी थीं. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह चुनावी अभियान शुरू कर चुके हैं और सीटों के लिए संख्या का लक्ष्य तय करते हुए "मिशन 150" घोषित कर चुके हैं. वर्तमान में गुजरात विधानसभा की 182 सीटें में से 115 पर बीजेपी का कब्जा है.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement