NDTV Khabar

गुजरात विधानसभा चुनाव : आतंकवाद और राष्ट्रवाद का एजेंडा हुआ हावी, कांग्रेस को ढूंढनी होगी काट

राज्य में विकास के नाम पर शुरू की गई गौरव यात्रा में उसे अच्छा समर्थन नहीं मिला तो बीजेपी ने राष्ट्रवाद और आतंकवाद का मुद्दा उठा दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुजरात विधानसभा चुनाव : आतंकवाद और राष्ट्रवाद का एजेंडा हुआ हावी, कांग्रेस को ढूंढनी होगी काट

पीएम मोदी सरदार पटेल की 142वीं जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए

खास बातें

  1. विकास का मुद्दा हुआ गायब
  2. अहमद पटेल को घेरने में जुटी बीजेपी
  3. पीएम मोदी ने भी छेड़ा एक पुराना मुद्दा
गांधीनगर:

गुजरात विधानसभा चुनाव  में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भले ही जोर-शोर प्रचार किया था. लेकिन बीजेपी ने अपनी रणनीति बदल दी है. राज्य में विकास के नाम पर शुरू की गई गौरव यात्रा में उसे अच्छा समर्थन नहीं मिला तो बीजेपी ने राष्ट्रवाद और आतंकवाद का मुद्दा उठा दिया है. कांग्रेस के राज्यसभा सांसद और सोनिया गांधी के करीबी अहमद पटेल को निशाने पर रखकर बीजेपी अब आतंकवाद के मुद्दे पर कांग्रेस को घेर रही है. पिछले ही हफ्ते ही गुजरात में आईएस से संबंध रखने वाले दो संदिग्ध पकड़े गए थे. जिनमें से एक उस अस्पताल का कर्मचारी निकल जिसका संबंध कथित तौर पर अहमद पटेल से है. मौका मिलते ही बीजेपी ने तुरंत इसको भुनाया और मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने तुरंत प्रेस कांन्फ्रेंस कर अहमद पटेल से इस्तीफे की मांग कर डाली. हालांकि बाद में अहमद पटेल ने भी गृह मंत्रालय को चिट्ठी लिखकर इस पूरे मामले की जांच की मांग की है.

गुजरात विधानसभा चुनाव में पार्टी उम्मीदवार उतारने को तैयार नीतीश कुमार, तेजस्वी यादव ने कसा तंज


टिप्पणियां

लेकिन ऐसा वकाया अचानक सामने आने के बाद कांग्रेस की स्थिति भी थोड़ा असहज हो गई. कांग्रेस की ओर से विजय रुपानी के आरोपों को बेबुनियाद बताया गया और बीजेपी पर आरोप लगाया कि वो मुद्दों से पीछे भाग रही है. बीजेपी के रणनीतिकारों और चुनावी विशेषज्ञों को लगता है कि अगर बीजेपी बीच चुनाव में इसी तरह से अहमद पटेल के पीछे पड़ गई तो कांग्रेस के लिए मुश्किल हो सकती है क्योंकि आतंकवाद और राष्ट्रवाद दो ऐसे मुद्दें हैं जिनका फायदा बीजेपी हमेशा से उठाते रही है. दूसरी ओर प्रधानमंत्री मोदी की ओर से कार्यकर्ता से बातचीत का ऑडियो भी बीजेपी की ही रणनीति का हिस्सा है. जिसमें वह 'मौत का सौदागर' वाली बात का जिक्र कर रहे हैं. जो गुजरात के लिहाज से बेहद संवेदनशील मुद्दा है.

वीडियो : धारा 370 का सच

कुल मिलाकर यह तो साफ नजर आ रहा है कि पीएम मोदी ने इस बात का जिक्र करके गुजरात चुनाव का एजेंडा सेट करने की कोशिश की है और अहमद पटेल पर आरोप लगाक कांग्रेस को घेरती नजर आ ही है. शुरुआती दौर में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी जहां बीजेपी को अपने सवालों से परेशान कर रहे थे वहीं अब बीजेपी भी उल्टे सवाल दाग रही है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement