गुजरात : नाम के आगे 'सिन्ह' शब्द का इस्तेमाल करने पर ओबीसी समुदाय के एक शख्स की पिटाई

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक पीड़ित का नाम हीमतसिन्ह चौहान (20) जो कि कोली ठकोर समुदाय से है, गुजरात में इस जाति को ओबीसी के अंतर्गत रखा गया है.

गुजरात : नाम के आगे 'सिन्ह' शब्द का इस्तेमाल करने पर ओबीसी समुदाय के एक शख्स की पिटाई

बनासकांठा के उन गांव की घटना है जो कि शुक्रवार को हुई थी.

खास बातें

  • गुजरात में लगातार तीसरी घटना
  • 6 लोगों को किया गया गिरफ्तार
  • नाम के आगे 'सिन्ह' का किया था इस्तेमाल
अहमदाबाद:

गुजरात में ओबीसी वर्ग  से आने वाले एक शख्स की सिर्फ इसलिये पिटाई कर दी गई क्योंकि वो अपने नाम के आगे 'सिन्ह' का इस्तेमाल करता था. पिछले 2 हफ्ते के अंदर ऐसी तीसरी घटना सामने आई है. घटना बनासकांठा जिले के उन गांव की है.  पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक पीड़ित का नाम हीमतसिन्ह चौहान (20) जो कि कोली ठकोर समुदाय से है, गुजरात में इस जाति को ओबीसी के अंतर्गत रखा गया है. उसको दरबार समुदाय के लोगों ने पीटा है. आरोपियों ने फेसबुक पर उसके नाम के आगे 'सिन्ह' उपनाम लगा हुआ देखा था. पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 394, (डकैती के दौरान मारपिटाई), 395 (डकैती), और 506बी (धमकी) के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है. ये जानकारी थारा पुलिस स्टेशन के सब-इन्सपेक्टर एके भरवाड ने दी.

गुजरात के राजकोट में दलित की पीट-पीटकर हत्या, पत्नी भी गंभीर रूप से घायल

उत्तर प्रदेश : दलित व्यक्ति की मूंछे उखाड़ने वाले चारों आरोपी जेल भेजे गए

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने बताया कि पीड़ित के साथ पहले मारपीट की गई है और उसके बाद उसको लूटा भी गया. इस घटना में एफआईआर दर्ज करने के बाद 6 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. सब-इन्सपेक्टर एके भरवाड ने बताया कि पीड़ित के स्कूली दस्तावेज में भी नाम के आगे सिन्ह शब्द का इस्तेमाल किया गया है.

वीडियो : राजकोट में दलित की पीट-पीटकर हत्या

आपको बता दें कि इससे पहले बनासकांठा जिले में ही एक शख्स को ऐसी ही एक मामले में पिटाई गई थी. उसने आमंत्रण पत्र में नाम के आगे सिन्ह शब्द का इस्तेमाल किया था. 22 मई को अहमदाबाद के ढोल्का में राजपूतों और दलितों के बीच झगड़ा हुआ था क्योंकि दलित समुदाय की ओर से फैसला किया गया था कि वे भी नाम के आगे सिन्ह उपनाम लगाने का फैसला किया था.