NDTV Khabar

दुनिया की कोई ताकत सरकार को कश्मीर मुद्दे का हल निकालने से नहीं रोक सकती : राजनाथ सिंह

उन्होंने कहा, ‘मैं कहना चाहता हूं कि किसी को कश्मीर की चिंता करने की जरूरत नहीं है. दुनिया की कोई ताकत हमें इस मुद्दे के समाधान से नहीं रोक सकती.’

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दुनिया की कोई ताकत सरकार को कश्मीर मुद्दे का हल निकालने से नहीं रोक सकती  : राजनाथ सिंह

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि वह आतंकवादी भारत में भेजता है.
  2. दुनिया की कोई ताकत सरकार को कश्मीर मुद्दे का हल निकालने से नहीं रोक सकती.
  3. सिंह ने कहा, हमने सेना को पूरी छूट दी है.
बारडोली: अपने एक ताजा बयान में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री राजनाथ सिंह ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान को आढ़े हाथों लिया. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कहा कि दुनिया की कोई ताकत सरकार को कश्मीर मुद्दे का हल निकालने से नहीं रोक सकती. उन्होंने भारत के खिलाफ ‘नापाक’ गतिविधियों के लिए पाकिस्तान को आड़े हाथ लिया. सिंह ने कहा कि राजग सरकार ने सेना को आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई और कश्मीर में सीमापार से गोलीबारी का करारा जवाब देने की पूरी आजादी दी है. उन्होंने कहा, ‘मैं कहना चाहता हूं कि किसी को कश्मीर की चिंता करने की जरूरत नहीं है. दुनिया की कोई ताकत हमें इस मुद्दे के समाधान से नहीं रोक सकती.’ भाजपा की ‘गुजरात गौरव यात्रा’ के तहत सूरत जिले में यहां लोगों को संबोधित करते हुए सिंह ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि वह आतंकवादी भारत में भेजता है और देश को तोड़ना चाहता है.

उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान हमारा पड़ोसी देश है. इसका नाम ‘पाक’इस्तान है लेकिन यह लगातार ‘नापाक’ गतिविधियों में लिप्त होता है, भारत को तोड़ने का प्रयास करता है और आतंकवादी भारत में भेजता है.’

यह भी पढ़ें : गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अमित शाह के बेटे पर लगे आरोप को निराधार बताया, कहा-जांच की जरूरत नहीं 

सिंह ने कहा, ‘हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने (द्विपक्षीय मुद्दों के शांतिपूर्ण समाधान के लिए) अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास यह सोचकर किया कि पाकिस्तान हमारा पड़ोसी देश है. वह सभी प्रोटोकाल तोड़कर पाकिस्तान भी गये लेकिन पाकिस्तान अपनी गतिविधियों से बाज नहीं आ रहा.

VIDEO : राजनाथ सिंह ने कहा- रोहिंग्या का मुद्दा मानवाधिकार का मसला नहीं​


यह लंबे वक्त तक जारी नहीं रह सकता.’ गृह मंत्री ने कहा कि उन्होंने सेना से कश्मीर की सीमा पर (शांति के) ‘सफेद झंडे’ दिखाने के बजाय पाकिस्तानी गोलीबारी का जवाब गोली से देने को कहा. सिंह ने कहा, ‘हमने सेना को पूरी छूट दी है. मैंने कहा है कि आप आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए आजाद हैं.’ उन्होंने कहा कि इसी कारण 2016-17 में जम्मू कश्मीर में ‘रिकार्ड’ संख्या में आतंकवादी मारे गये हैं. सिंह ने कहा, ‘हमें आपको संख्या बताने की जरूरत नहीं है. कभी कभार एक दिन में संख्या एक होती है, कभी दो, कभी चार, कभी छह. ऐसा पहले कभी नहीं हुआ जब इतनी बड़ी संख्या में आतंकवादी मारे गये हैं.’

(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement