NDTV Khabar

कांग्रेस से नजदीकियां बढ़ा रहे हार्दिक पटेल की मुश्किलें बढ़ीं, जानें पूरा मामला

गुजरात के विसनगर सेशंस कोर्ट ने तोड़फोड़ के एक मामले में हार्दिक पटेल के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया है.

2.8K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस से नजदीकियां बढ़ा रहे हार्दिक पटेल की मुश्किलें बढ़ीं, जानें पूरा मामला

हार्दिक पटेल की फाइल तस्वीर

अहमदाबाद: कांग्रेस से नजदीकियां बढ़ा रहे गुजरात के प्रमुख पाटीदार नेता हार्दिक पटेल की मुश्किलें चुनाव से पहले ही बढ़ने लगी हैं. कोर्ट ने हार्दिक पटेल और लालजी पटेल के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया है. बुधवार को गुजरात के विसनगर सेशंस कोर्ट ने तोड़फोड़ के मामले में इनके खिलाफ वारंट जारी कर दिया. इस केस की सुनवाइयों के दौरान हार्दिक कोर्ट में पेश नहीं हुए थे. यह मामला साल 2015 का है, जब पाटीदार अनामत समिति की रैली के दौरान एक बीजेपी विधायक के दफ्तर में तोड़फोड़ की गई थी. विसनगर सेशंस कोर्ट के जज वीपी अग्रवाल ने पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के संयोजक हार्दिक पटेल, सरदार पटेल ग्रुप (एसपीजी) के संयोजक लालजी पटेल और पांच अन्य के खिलाफ वारंट जारी किया. इन लोगों को पूर्व में इस मामले में जमानत मिल गई थी. आरक्षण आंदोलन के नेता ने आज अपने वकील राजेंद्र पटेल के जरिये, व्यस्त कार्यक्रम का हवाला देते हुए व्यक्तिगत पेशी से छूट देने की मांग से जुड़ी याचिका दायर की थी लेकिन अदालत ने उसे खारिज कर दिया.

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी के दौरे से ठीक पहले हार्दिक पटेल के दो सहयोगी बीजेपी में शामिल

इससे पहले, हार्दिक पटेल ने अहमदाबाद के एक होटल में सोमवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की खबर को गलत बताया था. उन्होंने न्यूज चैनलों पर दिखाए गए सीसीटीवी फुटेज पर आश्चर्य जताते हुए कहा कि एक 5 स्टार होटल का सीसीटीवी फुटेज लीक कैसे हो सकता है? हार्दिक ने ट्वीट कर कहा, 'मैं राहुल गांधी जी से नहीं मिला हूं, लेकिन मैं जब भी राहुल गांधी से मिलूंगा, पूरे हिंदुस्तान के सामने घोषणा करके मिलूंगा. मैं उनसे उनके अगले गुजरात दौरे के दौरान मिलूंगा. भारत माता की जय!'

VIDEO : हार्दिक पटेल की राहुल गांधी से मुलाकात पर सस्पेंस
हार्दिक इससे पहले गुजरात में कांग्रेस पार्टी महासचिव अशोक गहलोत से मिले थे. उन्होंने उन्हें कांग्रेस का 'एजेंट' कहने वाले भारतीय जनता पार्टी के नेताओं पर प्रहार किया. एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने कहा, 'जो यह कहते हैं कि मैं कांग्रेस का एजेंट हूं, वे वास्तव में भाजपा के एजेंट हैं. भाजपा के नेता क्या कहते हैं, मैं इस पर ध्यान नहीं देता.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement