NDTV Khabar

न बीजेपी और न कांग्रेस, अब शंकर सिंह वाघेला ने की तीसरे मोर्चे की घोषणा

पिछले महीने कांग्रेस के खिलाफ विद्रोह करने वाले वाघेला ने कहा कि लोग भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस से उकता गए हैं और एक विकल्प के लिए बेताब हैं.

1144 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
न बीजेपी और न कांग्रेस, अब शंकर सिंह वाघेला ने की तीसरे मोर्चे की घोषणा

शंकर सिंह वाघेला ने की तीसरे मोर्चे की घोषणा

खास बातें

  1. गुजरात को वैकल्पिक राजनीतिक बल की जरूरत
  2. कांग्रेस-बीजेपी से उकता गए हैं लोग
  3. गुजरात के लोग नए राजनीतिक विकल्प के लिए बेताब हैं
अहमदाबाद: बागी कांग्रेस नेता शंकर सिंह वाघेला ने यहां मंगलवार को गुजरात में एक तीसरे मोर्चे के गठन की घोषणा की. एक संवाददाता सम्मलेन को संबोधित करेत हुए वाघेला ने कहा, यह कहना मिथक है कि गुजरात में कोई वैकल्पिक राजनीतिक बल काम नहीं कर सकता.

CBI के दबाव में काम नहीं किया, गुजरात कांग्रेस प्रभारी माफी मांगे : शंकर सिंह वाघेला

पिछले महीने कांग्रेस के खिलाफ विद्रोह करने वाले वाघेला ने कहा कि लोग भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस से उकता गए हैं और एक विकल्प के लिए बेताब हैं.

गुजरात राज्यसभा चुनाव : 'धर्मनिरपेक्ष' दिग्विजय सिंह ने जब शंकर सिंह वाघेला को याद दिलाया क्षत्रिय धर्म

गौरतलब है कि कांग्रेस के पूर्व नेता शंकरसिंह वाघेला ने गुजरात विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था. इस दौरान उनके साथ गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी और कई वरिष्ठ मंत्री मौजूद थे. वाघेला के इस्तीफा देने के समय बीजेपी के बड़े नेताओं की मौजूदगी से उनके इस साल राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी में वापसी के बारे में अटकलें शुरू हो गई थीं, जिस पर शंकर सिंह वाघेला ने आज तीसरे मोर्चे के गठन की बात कर विराम लगा दिया है.

गुजरात राज्यसभा चुनाव के दौरान भी शंकर सिंह वाघेला ने सबको यह कहकर चौंका दिया था कि उन्होंने अहमद पटेल को वोट नहीं दिया. शंकर सिंह वाघेला ने कहा था कि कांग्रेस को वोट देने का मतलब ही नहीं है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि मुझे अहमद पटेल को वोट न देने का अफसोस है.

(इनपुट्स IANS)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement