NDTV Khabar

BSF में खराब खाने का वीडियो वायरल करने वाले जवान तेज बहादुर के बेटे का शव कमरे में मिला

पिछले साल सेना में जवानों को कथित तौर पर दिए जाने वाले खराब भोजन की शिकायत करने वाले और भोजन की खराब गुणवत्ता का वीडियो बनाकर चर्चा में आए बीएसएफ के जवान तेज बहादुर यादव के बेटे की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
BSF में खराब खाने का वीडियो वायरल करने वाले जवान तेज बहादुर के बेटे का शव कमरे में मिला

बीएसएफ से बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव के बेटे का शव घर में मिला (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. जवान तेज बहादुर ने BSF में खराब खाने का वीडियो वायरल किया था.
  2. तेज बहादुर अभी कुंभ में गए हुए हैं.
  3. तेज बहादुर के बेटे का शव कमरे में मिला है.
नई दिल्ली:

पिछले साल सेना में जवानों को कथित तौर पर दिए जाने वाले खराब भोजन की शिकायत करने वाले और वीडियो बनाकर भोजन की खराब गुणवत्ता की खबर सामने लाने के बाद चर्चा में आए बीएसएफ के जवान तेज बहादुर यादव के बेटे की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई है. बता दें कि पिछले साल सेना में खराब भोजन का वीडियो बनाकर वायरल करने वाले बीएसएफ जवान तेज बहादुर सेवा से बर्खास्त कर दिया गया था. गुरुवार की देर रात तेज बहादुर के 22 साल के बेटे रोहित रेवाड़ी के शांति विहार आवास पर मृत मिला. बता दें कि पुलिस को आत्महत्या का शक है. 

खराब खाने की शिकायत करने वाले तेज बहादुर का VRS रद्द, जांच पूरी होने तक नहीं छोड़ सकते BSF

दरअसल, बीएसएफ द्वारा बर्खास्त किए गए जवान तेज बहादुर यादव का 22 वर्षीय बेटा रोहित गुरुवार की शाम को रेवाड़ी के शांति विहार में अपने आवास में मृत अवस्था में मिला. बताया जा रहा है कि तेज बहादुर के बेटे रोहित ने आत्महत्या की है. क्योंकि पुलिस को उसके पास से एक बंदूक मिली है और कमरा अंदर से भी लॉक था. 


पुलिस के मुताबिक, हमें एक फोन कॉल आया कि रोहित ने आत्महत्या कर ली है. घटनास्थल पर हमने कमरा अंदर से बंद पाया. शव बेड पर पड़ा था. रोहित के हाथ में एक बंदूक भी थी. उसके पिता कुंभ मेला गए हुए हैं और हमने उन्हें इसकी सूचना दे दी है. बताया जा रहा है कि रोहित की मां कुंभ नहीं गई हैं और उन्हें जब कमरा अंदर से बंद मिला तो उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी. हालांकि, पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. 

Video vs Video : कई जवानों के वीडियो सामने आने के बाद आर्मी अफसरों ने पोस्ट किए जवाबी वीडियो

पुलिस ने बंदूक को अपने कब्जे में ले लिया है और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. हालांकि, बंदूक लाइसेंसी है या अवैध अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है. बता दें कि करीब एक साल पहले बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो डालकर दावा किया था कि जवानों को पानी वाली दाल और जली हुई रोटियां खिलायी जाती हैं. उन्होंने वीडियो में दावा किया था कि सेना के जवानों को खराब भोजन मुहैया कराया जाता है और इसके लिए उन्होंने सीनियर अधिकारियों पर भी आरोप लगाए थे.

BSF का जवान तेज बहादुर, कहा- 'मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है'

क्या था तेज बहादुर यादव का मामला:
पिछले साल जनवरी में तेज बहादुर का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ था, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि जवानों को ठीक से खाना नसीब नहीं हो रहा है और कई बार उन्हें भूखा सोना पड़ता है. वीडियो के वायरल होने के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी रिपोर्ट तलब की थी. सिंह ने होम सेक्रेटरी से कहा था कि वो बीएसएफ से फौरन रिपोर्ट तलब करें. गृहमंत्री ने इस संबंध में ट्वीट भी किया था जिसमें कहा था, "मैंने बीएसएफ जवान की दशा का वीडियो देखा है. मैंने गृह सचिव को तत्काल बीएसएफ से रिपोर्ट तलब करने और उचित कार्रवाई करने के लिए कहा है."

बीएसएफ जवान तेज बहादुर के खराब खाने की शिकायत सही नहीं, गृह मंत्रालय ने PMO से कहा

टिप्पणियां

जवान ने दावा किया था, 'हम किसी सरकार के खिलाफ आरोप नहीं लगाना चाहते. क्‍योंकि सरकार हर चीज, हर सामान हमको देती है. मगर उच्‍च अधिकारी सब बेचकर खा जाते हैं, हमारे को कुछ नहीं मिलता. कई बार तो जवानों को भूखे पेट सोना पड़ता है. मैं आपको नाश्‍ता दिखाऊंगा जिसमें सिर्फ एक पराठा और चाय मिलता है, उसके साथ अचार नहीं होता. दोपहर के खाने की दाल में सिर्फ हल्‍दी और नमक होता है, रोटियां भी दिखाऊंगा. मैं फिर कहता हूं कि भारत सरकार हमें सब मुहैया कराती है, स्‍टोर भरे पड़े हैं मगर वह सब बाजार में चला जाता है. इसकी जांच होनी चाहिए.'

VIDEO : BSF जवान तेज बहादुर के वीडियो से मची हलचल



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement