NDTV Khabar

रयान इंटरनेशनल स्कूल का संचालन तीन महीने तक सरकार के कब्जे में, CBI जांच की सिफारिश करेगी खट्टर सरकार

बैठक के बाद शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव केके खंडेलवाल ने बयान दिया कि सरकार रयान स्कूल को टेकओवर कर सकती है.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रयान इंटरनेशनल स्कूल का संचालन तीन महीने तक सरकार के कब्जे में, CBI जांच की सिफारिश करेगी खट्टर सरकार

परिजनों से मिलते हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर.

खास बातें

  1. रयान स्कूल में हुई बच्चे की हत्या.
  2. हत्या के बाद माता पिता नाराज़
  3. लोगों ने किया प्रदर्शन
गुड़गांव: गुड़गांव के रयान इंटरनेशनल स्कूल में एक बच्चे की हत्या के प्रकरण के बाद हरियाणा सरकार ने तीन महीनों के लिए स्कूल का संचालन अपने अधीन कर लिया है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज प्रद्युम्न ठाकुर के माता-पिता से मुलाकात की और कहा कि उन्होंने मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी है. बता दें कि शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने गुरुवार को विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की थी. बैठक के बाद शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव केके खंडेलवाल ने बयान दिया कि सरकार रयान स्कूल को टेकओवर कर सकती है.

खंडेलवाल ने तभी साफ कर दिया था कि सरकार ने रयान का अधिग्रहण करने की पूरी तैयारी कर ली है. मामले में तीन सदस्यीय कमेटी की रिपोर्ट आ चुकी है जिसके आधार पर कार्रवाई की गई है.
VIDEO: घटना के बाद डरे हैं माता-पिता

उन्होंने बताया था कि राज्य सरकार रयान स्कूल को तुरंत टेकओवर करने को तैयार है. विभाग के निदेशक ने स्कूल प्रबंधन को पहले ही नोटिस भी भेजा था.

यह भी पढ़ें : रयान स्कूल में बच्चे की हत्या : रयान परिवार की अग्रिम जमानत याचिका खारिज, लेकिन मिली राहत

खंडेलवाल ने कहा था कि सरकार निजी स्कूलों के साथ-साथ सरकारी स्कूलों की सुरक्षा की भी जांच करेगी. सरकार इसके लिए एक स्पेशल सेल बनाएगी. सुरक्षा को लेकर नियम पहले से बने हुए हैं, नई गाइड लाइन शुक्रवार को कर दिए गए हैं. हरियाणा स्कूल शिक्षा नियम के तहत कानून बने हुए हैं. इसमें सुरक्षा को दरकिनार करने वाले सभी जिम्मेदारों के खिलाफ केस दर्ज किए जा सकते हैं.

VIDEO : छात्र की हत्या की जांच

खंडेलवाल ने कहा कि समय सीमा के भीतर स्कूलों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएं, यह सुनिश्चित किया जाएगा. जिन स्कूलों में कमी पाई गई, सरकार के पास उनको टेकओवर करने के अधिकार हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement