NDTV Khabar

फरीदाबाद में झूठी शान के लिए हत्या, दो आरोपी गिरफ्तार

दिल्ली के पास फरीदाबाद में झूठी शान के लिए हत्या का मामला सामने आया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
फरीदाबाद में झूठी शान के लिए हत्या, दो आरोपी गिरफ्तार

नेहरू कॉलोनी में संजय नाम के एक शख्स का शव  घर के पास के जंगल से बरामद हुआ.

फरीदाबाद : दिल्ली के पास फरीदाबाद में झूठी शान के लिए हत्या का मामला सामने आया है. फरीदाबाद के नेहरू कॉलोनी में संजय नाम के एक शख्स का शव  घर के पास के जंगल से बरामद हुआ. मामले की जांच शुरू हुई तो पता लगा संजय ने एक साल पहले पड़ोस की एक मुस्लिम लड़की से शादी की थी और ये शादी ही इस हत्या की वजह बनी. परिजनों ने बताया कि संजय ने करीब एक साल पहले अपने पड़ोस में रहने वाली रूकसर से शादी कर ली थी. लड़की के घरवाले इस शादी के खिलाफ थे. इसके बाद इन दोनों ने राजस्थान जाकर शादी रजिस्टर्ड करा ली और वहीं रहने लगे. इसके बाद लड़की के घरवालों ने इन्हें फरीदाबाद बुलाया और अलग किराए पर कमरा दिला दिया. इसी बीच रूकसर के घरवाले उनसे मिलने लगे.

महाराष्ट्रः14 साल की लड़की घर में थी अकेली, 23 साल के पड़ोसी ने रेप कर मार डाला 

धीरे धीरे लग रहा था सब ठीक हो गया. इसी बीच संजय ने अपने घरवालो को बताया कि उसके ससुराल वाले उसे मुस्लिम बनने के लिए दबाव डाल रहे है लेकिन उसने मुस्लिम धर्म अपनाने के लिए मना कर दिया. इसके बाद लड़की ने तलाक की मांग की और करीब दो महीने पहले दोनों का तलाक हो गया. दोनों अलग रह रहे थे लेकिन फोन पर बात करते रहते थे. इसी बीच संजय वापस राजस्थान चला गया. 15 अगस्त से पहले रूकसर ने फोन करके संजय को फरीदाबाद ये कहकर बुलाया कि घरवाले मान गए हैं. ईद पर वो उसे विदा कर देंगे. संजय 15 अगस्त को फरीदाबाद आया और लड़की के भाई सलीम ने मुलाक़ात की. अगले दिन 16 अगस्त को सलीम संजय के घर आया और घूमने का बहाना करके उसे अपने साथ ले गया.

औरंगाबाद में हथियार जब्त : आरोपियों को दो दिन के लिये पुलिस हिरासत में भेजा गया 

टिप्पणियां
शाम तक जब संजय घर नहीं आया तो संजय की मां लड़की के घर पहुचीं जहा सलीम घर था, लेकिन उन्होंने संजय के बारे में कुछ नहीं बताया. जिसके बाद वह पुलिस के पास पहुचीं और आरोप है कि पुलिस ने भी मदद नहीं की. करीब 5 दिन बाद  21 अगस्त को संजय का शव घर के पास ही मौजूद जंगल से बरामद हुआ. इस मामले में पुलिस ने रूकसर के भाई सलीम और उसके पिता समेत कुछ लोगो को गिरफ्तार किया है. जिसके बाद उन्होंने अपना जुर्म कबूल लिया कि वो इस शादी के खिलाफ थे, इसलिए उन्होंने संजय की हत्या कर दी. संजय के परिवार का कहना है कि रूकसर ने शादी के बाद खुद हिन्दू रीत रिवाज निभाने शुरू कर दिए थे, लेकिन उन्होंने कभी लड़की को धर्म बदलने के लिए नहीं कहा. संजय के परिवार में उसकी बूढ़ी माँ और एक छोटा भाई है. 

मेरठ में शख्‍स की हत्या, पुलिस ने कहा- पशु कुर्बानी को लेकर हुआ था विवाद
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement