शिमला नगर निगम चुनाव को टालना लोकतंत्र की हत्या : बीजेपी

चुनाव आयुक्त पर बरसते हुए धूमल ने कहा कि जो व्यक्ति उस पद की गरिमा को बरकरार नहीं रख सकता है जिस पर आसीन है तो उसे दफ्तर में रहने का कोई अधिकार नहीं है और कहा कि उन्हें तुरंत त्याग पत्र देना चाहिए.

शिमला नगर निगम चुनाव को टालना लोकतंत्र की हत्या : बीजेपी

प्रेम कुमार धूमल (फाइल फोटो)

खास बातें

  • राज्य चुनाव आयुक्त पर बरसे : धूमल
  • चुनाव टालने को बताया लोकतंत्र की हत्या
  • बयान में कहा तुरंत देना चाहिए त्यागपत्र
शिमला:

हिमाचल प्रदेश भाजपा (बीजेपी) ने शिमला नगर निगम चुनाव को टालने के राज्य चुनाव आयोग के फैसले को गुरूवार को ‘लोकतंत्र की हत्या’ करार दिया.

भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री पीके धूमल ने कहा, ' सरकार अपने गलत उद्देश्यों को पूरा करने के लिए संवैधानिक निकायों का दुरूपयोग कर रही है और एसएमसी चुनाव टालने का एसईसी का निर्णय लोकतंत्र की हत्या है और असंवैधानिक है '  राज्य चुनाव आयुक्त पर बरसते हुए धूमल ने कहा कि जो व्यक्ति उस पद की गरिमा को बरकरार नहीं रख सकता है जिस पर आसीन है तो उसे दफ्तर में रहने का कोई अधिकार नहीं है और कहा कि उन्हें तुरंत त्याग पत्र देना चाहिए.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com