हरियाणा में जाटों से केस हटाने पर उठे सवाल, अपनी ही सरकार के सांसद ने खोला मोर्चा

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की रैली से पहले सांसद राजकुमार सैनी ने अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

हरियाणा में जाटों से केस हटाने पर उठे सवाल, अपनी ही सरकार के सांसद ने खोला मोर्चा

बीजेपी सांसद राजकुमार सैनी. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की रैली से पहले सांसद राजकुमार सैनी ने अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति की आंदोलन की चेतावनी के बीच हरियाणा सरकार द्वारा जाटों पर दर्ज 70 से अधिक केस वापस लेने पर सवाल उठाए हैं.

यह भी पढ़ें : जाट नेताओं के साथ बैठक के बाद सीएम खट्टर का फ़ैसला, 2016 में दर्ज हिंसा के सभी केस होंगे वापस

सांसद राजकुमार सैनी का कहना है कि यह बेहद संवेदनशील मामला है. सरकार को दबाव में आकर जाटों के ऊपर दर्ज केस वापस नहीं लेने चाहिए. उन्‍होंने कहा कि इससे प्रदेश की अन्य 35 बिरादरी के लोगों के समक्ष सरकार के प्रति गलत संदेश जा रहा है. बता दें कि जाटों के खिलाफ दर्ज 70 मुकदमों को वापस लेने से 822 लोगों को राहत मिलेगी. पहले भी करीब 200 मुकदमे वापस लिए जा चुके हैं.

VIDEO : जाटों से केस हटाने पर उठे सवाल

गौरतलब है कि हरियाणआ की खट्टर सरकार ने फ़रवरी 2016 में जाट आंदोलन के दौरान भड़की हिंसा के संबंध में दर्ज सभी मामलों को वापस लेने का फ़ैसला लिया है. कुछ दिन पहले जाट नेताओं के साथ बैठक के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने ये एलान किया. इसके बाद ही जाट संगठन ने 15 फ़रवरी को जींद में होनेवाली रैली को वापस ले लिया था. दरअसल इसी दिन अमित शाह जींद में ही एक बाइक रैली करने वाले हैं. जाट संगठन ने शाह की रैली न होने देने का एलान किया था, जिसके बाद सरकार को ये फ़ैसला लेना पड़ा.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com