Food To Avoid In Arthritis: गठिया के मरीजों को कभी नहीं खानी चाहिए ये 7 चीजें, तेजी से बढ़ेगा Uric Acid, आज ही छोड़ दें!

What Not To Eat In Arthritis: आर्थराइटिस एक ऐसी समस्या है, जिसमें व्यक्ति को तेज दर्द सहन करना पड़ता है. बोलचाल की भाषा में आर्थराइटिस (Arthritis) को गठिया और जोड़ों का दर्द भी कहते हैं. अर्थराइटिस में आहार (Arthritis Diet) क्या होना चाहिए, इसको लेकर काफी सतर्क रहने की जरूरत है. एक सवाल जो हर किसी के मन में होता है कि गठिया में किन फूड्स से परहेज करें?

Food To Avoid In Arthritis: गठिया के मरीजों को कभी नहीं खानी चाहिए ये 7 चीजें, तेजी से बढ़ेगा Uric Acid, आज ही छोड़ दें!

Food To Avoid In Arthritis: अर्थराइटिस में इन 7 चीजों का सेवन करने से बढ़ सकता है गठिया का खतरा

खास बातें

  • गठिया में इन 7 चीजों का सेवन करने से बढ़ सकता है यूरिक एसिड.
  • गठिया के लक्षणों को कम करने के लिए आज से ही न खाएं ये 7 फूड्स.
  • अर्थराइटिस में जोड़ों में दर्द और सूजन की समस्या बढ़ जाती है.

Foods To Avoid In Arthritis: आर्थराइटिस एक ऐसी समस्या है, जिसमें व्यक्ति को तेज दर्द सहन करना पड़ता है. बोलचाल की भाषा में आर्थराइटिस (Arthritis) को गठिया और जोड़ों का दर्द भी कहते हैं. अर्थराइटिस में आहार (Arthritis Diet) क्या होना चाहिए, इसको लेकर काफी सतर्क रहने की जरूरत है. एक सवाल जो हर किसी के मन में होता है कि गठिया में किन फूड्स से परहेज करें? (Which Foods To Avoid In Arthritis). अगर आप भी गठिया में खानपान को लेकर कन्फ्यूज हैं तो यहां आपको जानना जरूरी है कि अर्थराइटिस में क्या खाना चाहिए, (What To Eat In Arthritis) और क्या नहीं? क्योंकि हमारे खानपान से गठिया रोग का खतरा बढ़ सकता है. आर्थराइटिस यानी गठिया के मरीजों (Arthritis Patients) को घुटनों, एड़ियों, पीठ, कलाई या गर्दन के जोड़ों में दर्द (Joint Pain) होता है. खराब लाइफस्टाइल की वजह से युवा भी इसकी चपेट में आ रहे है.

गठिया की बीमारी में रोगियों के जोड़ों में हड्डियों के बीच यूरिक एसिड (Uric Acid) की मात्रा बढ़ जाती है. खानपान से शरीर में इतना यूरिक एसिड बढ़ जाता है कि किडनी इसको फिल्टर नहीं कर पाती है. ऐसे में गठिया रोगियों को यूरिक एसिड कंट्रोल करने के तरीके (Ways To Controlling Uric Acid)  भी अपनाने चाहिए. गठिया के लिए फूड्स लाभदायक भी हो सकते हैं और कुछ चीजें ट्रिगर भी कर सकती है. ऐसे में आपको यहां 7 चीजों के बारे में बताया गया है जो गठिया में नहीं खानी चाहिए...

अर्थराटिस में इन 7 चीजें खाना आज ही छोड़ दें | Quit Eating These 7 Foods Today At Arthritis

1. प्रोसेस्ड फूड (Processed Food)

फास्ट फूड्स का सेवन गठिया रोगियों के लिए नुकसानदायक हो सकता है. अगर अर्थराइटिस के रोगी प्रोसेस्ड फूड्स का सेवन करते हैं, तो ये जोड़ों में दर्द को बढ़ा सकते हैं. इसके साथ ही प्रोसेस्ड फूड्स शरीर में यूरिक एसिड को बड़ा सकते हैं. रिसर्च से पता चलता है कि प्रोसेस्ड फूड खाने से मोटापा तेजी से बढ़ता है जो गठिया को ट्रिगर कर सकता है.

u2tkkqo

Foods To Avoid In Arthritis: गठिया के मरीजों को प्रोसेस्ड फूडस का सेवन करने से बचना चाहिए 

2. ग्लूटेन फूड्स (Gluten Foods)

कुछ रिसर्च में पता चला है कि ग्लूटेन वाले फूड्स गठिया के खतरे को बढ़ा सकते हैं. अर्थराइटिस के मरीजों को ऐसे फूड्स से बचना चाहिए. जबकि ग्लूटेन फ्री फूड गठिया के लक्षणों को कम करने का काम कर सकते हैं. एक स्टडी के मुताबिक ग्लुटेन फ्री और शाकाहारी खाने वालों में गठिया के मामले बहुत कम पाए गए. ऐसे में गठिया रोगी आज से ही ग्लूटेन फूड्स का सेवन बंद कर दें.

3. एडेड शुगर (Sugar)

एडेड शुगर न सिर्फ डायबिटीज का मरीज बना सकती है बल्कि गठिया को भी ट्रिगर कर सकती है. अगर आप गठिया के मरीज हैं तो आपको अपने खाने में मीठे की मात्रा कम करनी होगी. खासतौर से आपको एडेड शुगर को बंद करना जरूरी है. एडेड शुगर में कैंडी, सोडा, आइसक्रीम और बारबेक्यू सॉस जैसी चीजों में पाया जाता है.

4. अल्कोहल (Alcohol)

गठिया के मरीजों के लिए सबसे ज्यादा खराब है शराब का सेवन करना. शराब गठिया के लक्षणों को और उभारने का काम करती है. एक स्टडी के अनुसार अल्कोहल की वजह से स्पॉन्डिलाइटिस आर्थराइटिस वाले लोगों में रीढ़ की हड्डी में संरचनात्मक क्षति पहुंचती है. गठिया के लक्षणों को कम करने के लिए आज से ही शराब का सेवन बंद कर दें.

md2co41oFoods To Avoid In Arthritis: अल्कोहल का सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है

5. हाई जीआई वाले फूड्स (High GI Foods)

हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले फूड्स भी हाई शुगर लेवल का कारण बन सकते हैं. हाई जीआई वाले फूड्स का सेवन गठिया को ट्रिगर कर सकता है. आज से ही इन्हें अपनी डाइट से दूर कर दें. हाई प्रोटीन, मेयोने, हाई फैट एनिमल फूड, जिन्हें फ्राई, रोस्ट, ग्रिल या उबाल कर खाया जाता है, एजीई का सबसे बड़ा डाइटरी सोर्स होता है. अगर आप ज्यादा जीआई वाले फूड्स खाते हैं तो ये शरीर में सूजन को बढ़ा सकते हैं.

6. ज्यादा नमक वाला खाना (High Salt Food)

ज्यादा नमक न सिर्फ हाई ब्लड प्रेशर का मरीज बना सकता है बल्कि अर्थराइटिस में खतरनाक हो सकता है. गठिया वाले लोगों को नमक कम खाना चाहिए. झींगा, डिब्बाबंद सूप, पिज्जा,चीज़, प्रोसेस्ड मीट और कई अन्य प्रोसेस्ड फूड में नमक बहुत ज्यादा पाया जाता है. ज्यादा नमक का सेवन जोड़ों में दर्द को बढ़ा सकता है.

cvokseog

7. रेड मीट (Processed And Red Meat)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

रेड मीट गठिया के साथ-साथ हार्ट रोगों को भी बढ़ा दे सकती है. ऐसे में जितना हो सके कम मात्रा में रेड मीट का सेवन करना चाहिए. प्रोसेस्ड मीट शरीर में सूजन बढ़ाने का काम करते हैं,  जिससे गठिया के लक्षण बढ़ सकते हैं. रेड मीट में इंटरल्यूकिन -6, सी रिएक्टिव प्रोटीन और होमोसिस्टीन ज्यादा मात्रा में पाया जाता है. ये सभी अर्थराइटिस को ट्रिंगर कर सकते हैं.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.