Benefits Of Giloy: गिलोय डायबिटीज कंट्रोल करने के साथ बुखार, पाचन के लिए है कमाल, और भी कई गजब के फायदे!

Benefits Of Giloy: गिलोय डायबिटीज के लिए (Giloy For Diabetes) भी फायदेमंद माना जाता है. गिलोय के कई फायदे (Benefits Of Giloy) हैं. गिलोय पाचन के लिए (Giloy For Digestion) भी असरदार माना जाता है. गिलोय पीलिया में भी कारगर साबित हो सकता है इसके साथ ही गिलोय डायरिया, बोन फ्रेक्चर, कैंसर जैसे रोगों में मददगार साबित हो सकता है.

Benefits Of Giloy: गिलोय डायबिटीज कंट्रोल करने के साथ बुखार, पाचन के लिए है कमाल, और भी कई गजब के फायदे!

Giloy For Diabetes: गिलोय ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने के साथ देती है कई फायदे

खास बातें

  • गिलोय पाचन को बेहतर करने में है फायदेमंद.
  • गिलोय डायबिटीज कंट्रोल करने में कारगर साबित हो सकता है.
  • यहां जानें गिलोय के कई कमाल के फायदों के बारे में.

Health Benefits Of Giloy: गिलोय के फायदे कई हैं. बशर्ते इस कमाल की औषधि का हम सेवन करना शुरू करें. आयुर्वेद में गिलोय का बहुत बड़ा महत्व (Giloy Significance In Ayurveda) है और यही वजह है. गिलोय एक ऐसी औषधि है जिसे कई गंभीर बीमारियों के साथ-साथ सामान्य परेशानियों में भी इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है. गिलोय के स्वास्थ्य लाभ (Giloy's Health Benefits) जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे! हमारे सामान्य से बुखार के लिए गिलोय (Giloy For Fever) फायदेमंद तो है ही साथ ही गिलोय डायबिटीज के लिए (Giloy For Diabetes) भी फायदेमंद माना जाता है. गिलोय के कई फायदे (Benefits Of Giloy) हैं जैसे गिलोय पाचन के लिए (Giloy For Digestion) भी असरदार माना जाता है. गिलोय पीलिया में भी कारगर साबित हो सकता है इसके साथ ही गिलोय डायरिया, बोन फ्रेक्चर, कैंसर जैसे रोगों में मददगार साबित हो सकता है. प्राचीन समय से ही आयुर्वेद के माध्यम से कई गंभीर बीमारियों का इलाज किया जाता रहा है. आयुर्वेद में गिलोय के जूस (Giloy Juice) का सेवन करने के कई फायदे बताए गए हैं, जिन लोगों का ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) अनकंट्रोल रहता है उनके लिए गिलोय काफी फायदेमंद साबित हो सकता है. ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने के लिए गिलोय (Giloy To Manage Blood Sugar Level) असरदार हो सकता है. यहां हम बता रहे हैं गिलोय के ऐसे ही कई कमाल के फायदों के बारे में...

गिलोय के डायबिटीज कंट्रोल करने के साथ और भी कई फायदे | Giloy Is Amazing For Diabetes Control And Many More Benefits  

1. गिलोय डायबिटीज के लिए है फायदेमंद

डायबिटीज में गिलोय ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए फायदेमंद माना जाता है. गिलोय का सेवन करने से डायबिटीज के रोगियों को काफी हद तक मदद मिल सकती है, लेकिन गिलोय का लंबे समय तक सेवन करना भी ज्यादा लाभदायक नहीं रहेगा और उसके कुछ दुष्प्रभाव भी देखे जा सकते हैं. ऐसे में गिलोय का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करें और अपने ब्लड शुगर लेवल की नियमित जांच करते रहें.

p3692joGiloy For Diabetes: गिलोय डायबिटीज कंट्रोल करने में फायदेमंद हो सकती है

2. हमेशा जवान बनाए रखने में मददगार

गिलोय एंटि-एजिंग गुणों से भरपूर होता है. बढ़ती हुई उम्र के प्रभाव को हर कोई छिपाने की इच्छा रखता है. गिलोय आपको हमेशा जवां दिखने में मदद कर सकता है. गिलोय का नियमित रूप से किया जाय तो यह आपके शरीर में उम्र के बढ़ते हुए प्रभाव को कम करने में काफी सक्रिय रूप से कार्य कर सकता है.

3. बुखार ठीक करने में

गिलोय का सेवन करने वाले लोगों में बुखार आने की समस्या का खतरा कई गुना तक कम हो सकता है. इसके लिए गिलोय की पत्तियों को पीसकर इसकी छोटी-छोटी गोली बना लें और मरीज को सुबह-शाम इसे खाने के लिए दें. 

feverGiloy For Fever: गिलोय का जूस बुखार को ठीक करने में फायदेमंद हो सकता है 

​4. गिलोय पीलिया में भी फायदेमंद

गिलोय पीलिया की बीमारी में मददगार माना जाता है. इस बीमारी में व्यक्ति का शरीर और उसकी आंखों के साथ-साथ नाखून का रंग पीला पड़ जाता है. सही समय पर इलाज न मिलने के कारण व्यक्ति की मौत भी हो जाती है. गिलोय जूस का सेवन करने के कारण पीलिया बुखार को भी ठीक करने में काफी मदद मिल सकती है.

​5. डायरिया से बचाए करने में

Newsbeep

इस औषधि का सेवन करने से डायरिया में भी मदद मिल सकती है. डायरिया खासकर गर्मियों में लोगों को ज्यादा अपना शिकार बनाता है. इस बीमारी में शरीर से बहुत ज्यादा मात्रा में पानी भी निकल जाता है. मरीज को बार-बार दस्त और उल्टी शुरू हो जाते हैं और वह बहुत कमजोर महसूस करने लगता है. जबकि गिलोय की पत्तियों से तैयार किया गया जूस डायरिया में काफी मदद कर सकता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.