Food To Avoid In Uric Acid: इन 4 चीजों से बढ़ता है यूरिक एसिड, डाइट में न करें शामिल, ऐसे पहचानें हाई यूरिक एसिड के लक्षण!

What Not To Eat In Uric Acid: हर स्वास्थ्य समस्या में कुछ चीजों को डाइट में शामिल किया जाता है, तो किसी से परहेज. हाई यूरिक एसिड (High Uric Acid) भी खाने की कई चीजों से बढ़ता है और कुछ फूड्स यूरिक एसिड (Uric Acid) को तेजी से बढ़ाते हैं. ऐसे यूरिक एसिड में क्या नहीं खाना चाहिए? (What Not To Eat In Uric Acid) यह जानना काफी ज्यादा जरूरी है.

Food To Avoid In Uric Acid: इन 4 चीजों से बढ़ता है यूरिक एसिड, डाइट में न करें शामिल, ऐसे पहचानें हाई यूरिक एसिड के लक्षण!

Food To Avoid In Uric Acid: यूरिक एसिड बढ़ने पर कई चीजों को बिल्कुल भी नहीं खाना चाहिए.

खास बातें

  • यूरिक एसिड में छिलके वाली दाल नहीं खानी चाहिए.
  • जिन फूड्स में प्यूरीन होता है उनका सेवन कभी न करें.
  • हाई यूरिक एसिड में दही के सेवन से परहेज करें.

Ways To Control Uric Acid: हर स्वास्थ्य समस्या में कुछ चीजों को डाइट में शामिल किया जाता है, तो किसी से परहेज. हाई यूरिक एसिड (High Uric Acid) भी खाने की कई चीजों से बढ़ता है और कुछ फूड्स यूरिक एसिड (Uric Acid) को तेजी से बढ़ाते हैं. ऐसे यूरिक एसिड में क्या नहीं खाना चाहिए? (What Not To Eat In Uric Acid) यह जानना काफी ज्यादा जरूरी है. यूरिक एसिड बढ़ने पर कई चीजों को बिल्कुल भी नहीं खाना चाहिए. यूरिक एसिड में परहेज वाले फूड्स (Foods Avoiding Uric Acid) कई हैं. शरीर में हाई यूरिक एसिड आपको लंबे समय के लिए बिस्तर पकड़ा सकता है. यूरिक एसिड बढ़ने पर जोड़ों में दर्द (joint Pain), सूजन और अकड़न हो सकती है. हाई यूरिक एसिड, गठिया (Arthritis) का मरीज बना सकता है. साथ ही किडनी स्टोन, और डायबिटीज जैसी बीमारियां भी हो सकती हैं.

ऐसे में हमें अपनी डाइट से ऐसी चीजों को हमेशा के लिए निकाल देना चाहिए जो यूरिक एसिड को बढ़ाती हैं. शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड के लक्षण (Symptoms Of Uric Acid) पहचाना भी जरूरी है. इसके बाद ही आप परहेज और यूरिक एसिड कंट्रोल करने के तरीके (Ways To Control Uric Acid) अपनाएंगे. यहां कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताया गया है जो यूरिक एसिड को बढ़ा सकती हैं.

हाई यूरिक एसिड के लक्षण | Symptoms Of High Uric Acid

- पैरों में जकड़न
- एड़ियों और जोड़ों में सूजन आना
- पैरों और जोड़ों में दर्द होना
- लगातार बैठने और उठते वक्त एड़ियों में असहनीय दर्द होना
- उंगलियों में सूजन आ जाना
- जोड़ों में गांठ की शिकायत
- मांसपेशियों में सूजन आ सकती है.

तनाव या डल स्किन कर रही है उदास, 
तबियत भी नहीं रहती कुछ खास... 
तो जुडें एनडीटीवी सेहत वेहत के साथ
सब्सक्राइब करें.

fhj9nntgWays To Control Uric Acid: यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए कुछ चीजों से परहेज करना जरूरी है

यूरिक एसिड बढ़ रहा है, तो ये 4 चीजें खाना छोड़ दें | This 4 Food Not Eat In Uric Acid

1. नॉनवेज से करें परहेज

अगर आपके शरीर में यूरिक एसिड लेवल बढ़ रहा है, तो नॉनवेज को खाना छोड़ दें. नॉनवेज शरीर में यूरिक एसिड लेवल को तेजी से बढ़ा सकता है. इससे दूरी बना लेने ही बेहतर है. नॉनवेज में मांस और मछली के अलावा सी फूड भी शामिल हैं. इन चीजों का सेवन बिल्कुल भी ना करें, क्योंकि इसमें प्यूरिन की मात्रा ज्यादा होती है. यही प्यूरिन शरीर छोटे-छोटे टुकड़ों में टूटकर यूरिक एसिड में बदल जाता है.

2. रात में दाल चावल न खाएं

अगर आपको रात के समय दाल चावल खाने की आदत है, तो आपको इसे आज ही बदलना चाहिए. हाई यूरिक एसिड के मरीज को रात में दाल चावल का सेवन काफी नुकसान कर सकता है. यह यूरिक एसिड लेवल को बढ़ सकता है. रात में सोने से पहले दाल चावल खाना आपके लिए हानिकारक हो सकता है. ये शरीर में यूरिक एसिड जमा करने लगता है. छिलके वाली दाल यूरिक एसिड को बढ़ाने में ज्यादा योगदान दे सकती है.

3. दही का न करें सेवन

हाई यूरिक एसिड के रोगियों को दही का बिल्कुल भी सेवन नहीं करना चाहिए. यूरिक एसिड बढ़े होने पर दही का सेवन नहीं करना चाहिए. दही में प्रोटीन होता है जिसे खाने से यूरिक एसिड शरीर में और अधिक बढ़ सकता है. इसके साथ ही दही में मौजूद ट्रांस फैट भी यूरिक एसिड को बढ़ा सकता है. प्रोटीन वाली चीजें शरीर में प्यूरीन को बढ़ावा देती हैं जो टूटकर यूरिक एसिड में बदल जाती हैं.

4. तली भुनी चीजें और जंक फूड

तला-भुनी चीजें हाई यूरिक एसिड लेवल को बढ़ा सकती हैं. इसके साथ ही जंक फूड्स का सेवन करना भी आपको भारी पड़ सकता है. यूरिक एसिज को कंट्रोल करने के लिए इस चीजों से आपको परहेज करना जरूरी है. अगर आप इन चीजों पर कंट्रोल नहीं करते हैं तो आगे चलकर यह आपको और भी ज्यादा परेशान कर सकती हैं.

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.