Food For Digestion Problem: आपके डायजेशन सिस्टम को मजबूत रखेंगी ये 5 चीजें, आज से ही करें डाइट में शामिल!

Foods That Improve Digestion: पाचन तंत्र को हेल्दी रखना हम किसी के लिए एक चुनौति है. अगर आप मजबूत पाचन तंत्र (Strong Digestive System) चाहते हैं तो आपको कुछ चीजों को अपनी डाइट में शामिल करना होगा. पाचन की समस्या (Digestion Problem) आज बेहद आम हो गई है.

Food For Digestion Problem: आपके डायजेशन सिस्टम को मजबूत रखेंगी ये 5 चीजें, आज से ही करें डाइट में शामिल!

Healthy Digestion Foods: इन 5 फूड्स को डाइट में शामिल कर पाचन को रखें हमेशा हेल्दी

खास बातें

  • डायजेशन सिस्टम को हेल्दी रखने के लिए डाइट में शामिल करें ये 5 फूड्स.
  • मजबूत पाचन तंत्र के लिए रोजाना खाएं ये फूड्स.
  • हमारी गट हेल्थ इम्यून सिस्टम से जुड़ी होती है.

What To Eat To Improve Digestion: पाचन तंत्र को हेल्दी रखना हम किसी के लिए एक चुनौति है. अगर आप मजबूत पाचन तंत्र (Strong Digestive System) चाहते हैं तो आपको कुछ चीजों को अपनी डाइट में शामिल करना होगा. पाचन की समस्या (Digestion Problem) आज बेहद आम हो गई है. हमारी गट हेल्थ (Gut Health) का इम्यूनिटी में भी बढ़ा योगदान होता है. इसके साथ ही हेल्दी पाचन (Healthy Digestion) हमारे सभी बॉडी फंक्शन को सुचारू रूप से चलाने में मदद करता है. आपने भी सुना होगा कि ज्यादा बीमारियां पेट से ही होती हैं. ऐसे में डायजेशन सिस्टम को हेल्दी रखने के तरीके (Ways To Keep Digestion System Healthy) अपनाने जरूरी है. ताकि आप हमेशा हेल्दी रह सकें. हेल्दी डायजेशन फूड्स (Healthy Digestion Foods) का सेवन कर आप अपनी गट हेल्थ को सुधारकर पेट की समस्याओं को दूर रख सकते हैं. इसमें पेट में गैस (Acidity) और पेट फूलने, कब्ज (Constipation) जैसी परेशानियां शामिल हैं. लगातार कई दिनों तक ये परेशानी बड़ी बीमारियों कारण बन सकती हैं.

ऐसे में आपको आज से ही अपनी डाइट में थोड़ा सा बदलाव करना होगा. मजबूत डायजेशन सिस्टम के लिए डाइट एक अहम फेक्टर है. हमारा पाचन (Digestion) खानपान पर ही निर्भर है. हम जैसा खाएंगे वैसे ही शरीर पर प्रभाव होगा. यहां कुछ फूड्स की लिस्ट दी गई है जिनका सेवन कर पाचन की समस्याओं को दूर किया जा सकता है.

हेल्दी डायजेशन सिस्टम के लिए डाइट में शामिल करें ये 5 फूड्स | Add These 5 Foods In The Diet For Healthy Digestion System

1. सौंफ

यह सिर्फ माउथ फ्रेशनर ही नहीं बल्कि आपके पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद हो सकती है. सौंफ का सेवन आमतौर पर खाना खाने के बाद किया जाता है, लेकिन आप इसका पानी बनाकर रोजाना दिन में कई बार पी सकते हैं. साथ ही सौंफ खाने से मुंह की बदबू भी खत्म हो जाती है. सौंफ को कई लोग मसालों की तरह भी इस्तेमाल करते हैं. रोजाना सौंफ को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं.

4a5jaoe8Healthy Digestion Foods: डायजेशन सिस्टम को हेल्दी रखने के लिए रोजाना करें सौंफ का सेवन

2. सेब

यह एक फल पेट की कई समस्याओं को दूर करने के लिए अकेला ही काफी है. सेब का सेवन करने से न सिर्फ कब्ज और पेट फूलने की समस्या से राहत मिल सकती है बल्कि यह आपके पाचन तंत्र को भी मजबूत बना सकता है. हेल्थ एक्सपर्ट्स भी रोजाना एक सेब खाने की सलाह देते हैं. सेब में प्रोटीन फाइबर और विटामिन की भरपूर मात्रा पाई जाती है. आप रोजाना एक सेवन का सेवन जरूर करें.

3. दही 

हमारी गट हेल्थ लिए दही रामबाण है. रोजाना एक कटोरी दही खासकर नाश्ते में खाने से आपका पाचन तंत्र हमेशा हेल्दी रह सकता है. दही पाचन के लिए भी अच्छा माना जाता है इसलिए अपनी डाइट में आपको हमेशा दही शामिल करना चाहिए. यह आपके डायजेशन सिस्टम को मजबूत बनाने के साथ पेट की कई समस्याओं को भी दूर रख सकता है.

4. चिया सीड्स

इन कमाल के बीजों का सेवन कर आप अपने डायजेशन सिस्टम को मजबूत रख सकते हैं. चिया के बीजों में प्रोटीन और फाइबर की अच्छी मात्रा होती है, जो पेट के लिए काफी फायदेमंद है. चिया सीड्स को सब्जा बीज के नाम से भी जानते है यह आपके पाचन और वजन कम करने में काफी फायदेमंद हो सकते हैं. चिया के सीड्स को स्मूदी या फिर पानी और दूध में भीगोकर भी सेवन कर सकते हैं.

aupahka8Healthy Digestion Foods: पेट की समस्याओं को दूर कर हेल्दी पाचन के लिए कमाल हैं चिया सीड्स

5. पपीता

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इस फल में कई ऐसे गुण होते हैं जो पाचन को बढ़ावा देते हैं और पेट के स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं. पपीता को फाइबर और प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत माना जाता है. पपीता खाने से आपका डाइजेशन सिस्टम बेहतर हो सकता है. अगर वजन कम करने की कोशिश में हैं तो यह आपके लिए और भी फायदेमंद हो सकता है. पपीता को अपनी रोजाना की डाइट में जरूर शामिल करें.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.