Gut Health: हेल्दी और दिलचस्प दही / रायता गट हेल्थ के लिए है कमाल, जानें बनाने की आसान विधि और स्वास्थ्य लाभ

Curd For Gut Health: पचड़ी एक प्रकार का रायता है, जिसमें दही मुख्य घटक के रूप में होता है. इसे तैयार करने के लिए, आपको नारियल, हरी मिर्च और सरसों को एक साथ पीसना होगा. यह मसाला डिश के लिए एक अद्वितीय स्वाद प्रदान करता है. इसे तैयार करने के तरीके के बारे में अधिक जानने के लिए यहां पढ़ें.

Gut Health: हेल्दी और दिलचस्प दही / रायता गट हेल्थ के लिए है कमाल, जानें बनाने की आसान विधि और स्वास्थ्य लाभ

Gut Health: होमसेट दही आपको प्रोबायोटिक्स प्रदान करता है जो आपके पेट में सुधार कर सकता है

खास बातें

  • नेल्लिकै थायिर पचड़ी तमिलनाडु का दही आधारित व्यंजन है.
  • इसे नारियल, सरसों और हरी मिर्च से तैयार किया जाता है.
  • इसमें आंवला भी होता है, जो विटामिन सी से भरपूर होता है.

Curd Raita For Healthy Gut: दिन में कम से कम एक भोजन के साथ दही का एक कटोरा होना चाहिए, पोषण विशेषज्ञों का मानना है. ऋजुता दिवेकर से लेकर ननामी अग्रवाल और मुनमुन गनेरीवाल तक, सेलिब्रिटी पोषण विशेषज्ञ कहते हैं कि घर पर तैयार दही (Curd) का एक कटोरा आपके पाचन स्वास्थ्य (Digestive Health) और आंत के स्वास्थ्य और यहां तक कि प्रतिरक्षा के लिए चमत्कार कर सकता है. उदाहरण के लिए, गनेरीवाल ने हाल ही में इंस्टाग्राम पर खुलासा किया कि वह एक "रायता गर्ल हैं" वह कहती हैं कि उनका भोजन दही के बिना अधूरा लगता है और यह ऐसा कुछ है जिससे बहुत से लोग संबंध रखते होंगे.

मुंबई स्थित दिवेकर के अनुसार, एक कटोरी या कप होममेड दही आपको प्रोबायोटिक्स, कैल्शियम और विटामिन डी प्रदान कर सकता है. मुट्ठी भर काली किशमिश के साथ दही कम सूजन, स्वस्थ दांत, कम कोलेस्ट्रॉल और कब्ज जैसे लाभ प्रदान कर सकता है.

ये दिलचस्प रायता कई स्वास्थ्य लाभ दे सकता है-

गनेरीवाल, जो अभिनेत्री तापसी पन्नू की न्यूट्रिशनिष्ट भी हैं, ने दही को अपने आहार में शामिल करने का एक और दिलचस्प तरीका साझा किया. नेल्लिकै थायिर पचड़ी तमिलनाडु का पारंपरिक दही आधारित व्यंजन है. गनेरीवाल कहते हैं कि यह स्वादिष्ट, पारंपरिक और सुपर पौष्टिक है!

पचड़ी एक प्रकार का रायता है, जिसमें मुख्य घटक के रूप में दही होता है. इसे तैयार करने के लिए, आपको नारियल, हरी मिर्च और सरसों को एक साथ पीसना होगा. यह मसाला मिश्रण डिश के लिए एक अद्वितीय स्वाद प्रदान करता है. परंपरागत रूप से पचड़ी को मौसमी सब्जियों के उपयोग से बनाया जाता है, लेकिन नेल्लिकै थायिर पचड़ी विशेष रूप से सीजन के ताजे आमलों का उपयोग करके तैयार किया जाता है, गणरीवाल ने बताया.

तो दही की अच्छाई के साथ, यह रायता आपको नारियल में स्वस्थ वसा, और आंवला में विटामिन सी की प्रचुरता भी प्रदान करेगा. वर्तमान में आंवला एक सीजनल फूड है, इसलिए वास्तव में यह फल खाने का सही समय है.

"रोजाना आंवला खाने से स्वस्थ लंबी आयु सुनिश्चित होती है. विटामिन सी के सबसे समृद्ध स्रोतों में से एक, यह आपके शरीर को संक्रमण से लड़ने के लिए और शरीर की प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को बेहतर बनाने के लिए सुसज्जित करता है. यह गैस्ट्रिक और पाचन रस के स्राव को उत्तेजित करके पाचन में भी मदद करता है.”गनेरीवाल अपने पोस्ट के कैप्शन में लिखती हैं.

प्रोबायोटिक्स, फाइबर, विटामिन सी और बहुत कुछ पाने के लिए आज इस अद्भुत रायता को बनाने का प्रयास करें. यह आपकी आंत को लाभान्वित करेगा, जो बदले में आपकी प्रतिरक्षा को काफी बढ़ाने में मदद कर सकता है.

खीरे से ऐसे बनाएं पचड़ी रायता | How To Make Pachdi Raita With Cucumber

स्टेप 1- इस नुस्खे को तैयार करने के लिए पेस्ट से शुरुआत करें और साथ में नारियल, जीरा और हरी मिर्च को बारीक पीस लें.

स्टेप 2-  इसके बाद खीरे को कद्दूकस करके उसमें थोड़ा नमक मिलाएं. अब, दही के साथ पहले से तैयार पेस्ट को कद्दूकस किए हुए खीरे में मिला दें. सब कुछ अच्छी तरह से मिलाएं.


स्टेप 3- अब मीडियम आंच पर एक फ्राइंग पैन रखें और उसमें नारियल का तेल गर्म करें. कढ़ी पत्ता, सूखी लाल मिर्च और सरसों के दाने भूनें, जब तक कि राई फूटने न लगे. इसे खीरे के मिश्रण में मिलाएं। इसे अच्छी तरह से मिलाएं. इसे धनिया पत्ती से गार्निश करें!

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.