Blood Sugar Level: डायबिटीज में कौन सी ब्रेड खाने से नहीं बढ़ता है ब्लड शुगर लेवल? खाएं ये ब्रेड कंट्रोल में रहेगा शुगर लेवल

Diabetes: डायबिटीज रोगियों के ब्लड में ग्लूकोज (Glucose) का स्तर काफी बढ़ जाता है! यह स्थिति तब होती है जब आपका शरीर इंसुलिन (Insulin) को ठीक से मैनेज नहीं कर पाता है. डाइबिटीज रोगियों को कौन सी ब्रेड (Bread) खानी यह जानना काफी जरूरी है. समय रहते अगर ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) को कंट्रोल नहीं किया गया तो यह आगे चलकर खतरनाक हो सकता है.

Blood Sugar Level: डायबिटीज में कौन सी ब्रेड खाने से नहीं बढ़ता है ब्लड शुगर लेवल? खाएं ये ब्रेड कंट्रोल में रहेगा शुगर लेवल

Diabetes Diet: डाइबिटीज रोगियों को कौन सी ब्रेड खानी चाहिए?

खास बातें

  • डाइबिटीज में कौन सी ब्रेड खाना है फायदेमंद?
  • क्या ब्रेड खाने से बढ़ता है ब्लड शुगर लेवल?
  • जानें डाइबिटीज डाइट में कौन सी ब्रेड शामिल करें.

Diabetes: डायबिटीज रोगियों के ब्लड में ग्लूकोज (Glucose) का स्तर काफी बढ़ जाता है! यह स्थिति तब होती है जब आपका शरीर इंसुलिन (Insulin) को ठीक से मैनेज नहीं कर पाता है. डाइबिटीज रोगियों को कौन सी ब्रेड (Bread) खानी यह जानना काफी जरूरी है. इसमें इंसुलिन का उत्पादन भी प्रभावित होता है. समय रहते अगर ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) को कंट्रोल नहीं किया गया तो यह आगे चलकर खतरनाक हो सकता है. ऐसी स्थिति में डाइट (Diet) को लेकर काफी कंफ्यूजन रहती है. डाइबिटीज में क्या खाएं (What To Eat In Diabetes) क्या न खाएं, डाइबिटीज में ब्रेड खा सकते हैं या नहीं अगर हां तो कौन सी ब्रेड खाएं इस तरह के सवाल आपके मन भी आते होंगे. अगर आपको डायबिटीज है तो सही फूड का चुनाव करना आपके लिए हमेशा मुश्किल रहता है. कई ऐसी चीजें हैं जो आपका ब्लड शुगर (Blood Sugar) लेवल बढ़ा सकती हैं. इनसे आपको दूर रहने की सलाह दी जाती है. आप भी ब्रेकफास्ट (Breakfast) में कई बार ब्रेड शामिल कर चुकें होंगे, लेकिन कभी आपने ये सोचा कि डाइबिटीज में कौन सी ब्रेड खानी चाहिए और कौन सी नहीं यहां हम बता रहे हैं कि कौन सी ब्रेड ब्लड शुगल लेवल नहीं बढ़ाएगी...

इन 2 बीमारियों में रामबाण है आंवला! रोजाना पिएंगे जूस तो कई बीमारियों से मिलेगा छुटकारा

मल्टी ग्रेन ब्रेड में नहीं होता फाइबर

डाइबिटीज रोगियों को ब्लड शुगर मैनेज करने के लिए डाइट में फाइबर की मात्रा बढ़ाने की जरूरत होती है. अगर आप मल्टी ग्रेन ब्रेड खा रहे हैं तो आप फाइबर नहीं ले रहे होते हैं. मल्टीग्रेन ब्रेड में ज्यादा फाइबर नहीं होता है. इसमें केवल अनाज की मात्रा थोड़ी ज्यादा होती है.

खाली पेट भीगे हुए काजू, बादाम और किशमिश खाने से ब्लड प्रेशर होगा कंट्रोल, घटेगा मोटापा! और भी कई फायदे कर देंगे हैरान

366k5tDiabetes: डाइबिटीड में मल्टीग्रेन ब्रेड खाना फायदेमंद नहीं!

ग्लूटेन या कार्ब फ्री ब्रेड खाएं

जब भी आप ब्रेड खरीदें तो ग्लूटेन या कार्ब फ्री ब्रेड खरीदें. ज्यादातर लोग अपनी ब्रेड चुनते वक्त सोचते हैं कि ये ग्लूटेन फ्री है तो इसमें लो कार्ब भी होंगे, लेकिन ये एक गलत धारणा है. अगर इसमें से ग्लूटेन निकाल भी दिया जाता है तो भी आपकी ब्रेड कार्ब और कैलोरी से भरी हो सकती है. 

रोजाना की ये गलतियां हैं आपके कमर दर्द का कारण! जानें पीठ दर्द से बचने के उपाय

ये व्यायाम घटाएंगे पेट की चर्बी, वजन कम करने के साथ बनाएंगे बॉडी शेप, मोटापा भी होगा कम!

एनरिचड ब्रेड का न करें सेवन

अगर एनरिच ब्रेड खाते हैं यह भी आपके लिए नुकसानदायक हो सकती है. यह ब्रेड डाइबिटीज में हेल्दी नहीं मानी जाती है. यह एक प्रकार की रिफाइन्ड ब्रेड होती है. इसको  बनाने की प्रक्रिया के दौरान इसके सारे विटामिन्स और मिनरल्स भी निकल जाते हैं, जिसके कारण ये हेल्दी नहीं रहती.

क्या डाइबिटीज रोगियों को केला खाना चाहिए? जानें ब्लड शुगर लेवल पर क्या पड़ता है असर  

cp61r238

Blood sugar Level: एनरिच ब्रेड भी डाइबिटीज में लाभदायक नहीं! 

साबुत गेहूं की ब्रेड

डाइबिटीज में ब्रेड खाने से ब्लड शुगर लेवल न बिगड़े इसके लिए आप इस ब्रेड को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं. ये ब्रेड हेल्दी और फाइबर से भरी होती है. ये आपका पेट लंबे समय तक भरा रखती है, जिसके कारण आप कम खाते हैं. अगर आप डायबिटीज कंट्रोल करना चाहते हैं तो ये आपके लिए एक अच्छा विकल्प साबित हो सकती है.

(अस्वीकरण: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है. यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता. ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें. एनडीटीवी इस जानकारी की प्रमाणिकता की जिम्मेदारी नहीं लेता).

और खबरों के लिए क्लिक करें

एसिडिटी के लिए रामबाण हैं ये 3 योगासन! यहां है आसन करने का तरीका, जल्द मिलेगा आराम! 

नींबू का रस किडनी की पथरी में है रामबाण! दर्द से दिलाएगा राहत, ऐसे करें इस्तेमाल

पाचन, सर्दी-खांसी के साथ स्किन के लिए कमाल है सफेद शहद! एंटिऑक्सीडेंट्स का भी पावरहाउस, जाने कई और गजब फायदे

जनवरी को लगेगा चंद्र ग्रहण, तो 21 जून को Surya Grahan, जानें साल 2020 के सूर्य और चंद्र ग्रहण का समय और तारीख, क्या स्वास्थ्य पर पड़ता है असर?

खाली पेट भीगे हुए मुनक्का खाने से कब्ज, एसिडिटी से मिलेगा छुटकारा! कैंसर से बचाव के साथ वजन बढ़ाने में भी फायदेमंद

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वजन घटाने के लिए अब पसीना बहाने की जरूरत नहीं! अपनाएं ये 4 तरीके, तेजी से घटेगा वजन

सुबह की एक गलती बढ़ा सकती है डाइबिटीज का खतरा, तेजी से बढ़ने लगता है वजन!