कब है Kajari Teej 2020? व्रत में कैसे रखें सेहत का ख्याल, जानें कजरी तीज का महत्व, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि

Kajari Teej 2020: कजरी तीज को कई नामों से पुकारा जाता है. कजरी तीज के कई नाम हैं, जिनमें से कुछ हैं - कजली तीज (Kajali Teej), बूढ़ी तीज (Budh teej),  सातूड़ी तीज (Satudi Teej) वगैरह. इस मौके पर विवाहित महिलाएं अपने पत‍ि की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं.

कब है Kajari Teej 2020? व्रत में कैसे रखें सेहत का ख्याल, जानें कजरी तीज का महत्व, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि

Kajari Teej 2020: कजरी तीज कब है अगर आप भी यह जानना चाहते हैं तो आपको बता दें कि साल 2020 में कजरी तीज 6 अगस्त, गुरूवार के दिन मनाई जाएगी. कजरी तीज का पर्व उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, बिहार और मध्य प्रदेश में बड़े स्तर पर मनाया जाता है. कब मनाते हैं कजरी या कजली तीज, तो आपको बता दें कि कजरी तीज का त्योहार हर साल भाद्रपद के कृष्ण पक्ष की तृतीया को मनाया धूम-धाम से मनाया जाता है. कजरी तीज को कई नामों से पुकारा जाता है. कजरी तीज के कई नाम हैं, जिनमें से कुछ हैं - कजली तीज (Kajali Teej), बूढ़ी तीज (Budh teej),  सातूड़ी तीज (Satudi Teej) वगैरह. इस मौके पर विवाहित महिलाएं अपने पत‍ि की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं. कई महिलाएं तो पूरा दिन निर्जल रहकर उपवास करती हैं. यह उनकी सेहत के लिहाज से कई बार खतरनाक भी हो सकता है. ऐसे में जरूरी है कि व्रत रखते हुए आप अपनी सेहत का ख्याल भी रखें. जानिए कि कजरी तीज का व्रत रखते हुए आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए. इसके साथ ही हम आपको कजरी तीज का महत्व, शुभ मुहूर्त और कजरी तीज की पूजा विधि 

कजरी तीज 2020: महत्व, शुभ मुहूर्त, कजरी तीज की पूजा विधि और व्रत में कैसे रखें सेहत का ख्याल (Kajari Teej 2020: Date, Shubh Muhurt, Significance)

कजरी तीज के उपवास के दौरान यूं रखें सेहत का ख्याल 

1. व्रत शुरु होने से पहले कुछ खा जरूर लें. सुबह खाली पेट उपवास न करें. उपवास से पहले फल और जूस लें.
2. अगर आप जिम जाते हैं, योगा, सैर या जॉगिंग जाते हैं, तो व्रत वाले दिन ब्रेक लें. व्रत वाले दिन हल्की फुल्की एक्सरसाइज ही करें.
3. दिन में भी व्रत वाले चिप्स या तली-भुनी चीजों का सेवन न करें. अगर आप कुछ ले सकते हैं, तो फल या जूस लें. 
4. विटामिन ए, बी और सी युक्त फलों का सेवन करें. 
5. एनर्जेटिक रहने के लिए ताजे फलों का जूस लें. 
6. डाइट में फेरबदल न करें. नाश्ते में कुछ हल्का-फुल्का जरूर लें.
7. चाय-कॉफी का ज्यादा सेवन करने से बचें. यह कब्ज और एसिडिटी जैसी परेशानियां दे सकता है.
8. बिना भूले खूब पानी पीएं. इससे आपको एनर्जी मिलेगी और शरीर हाइड्रेट भी रहेगा. 


कब है कजरी तीज और इसका शुभ मुहूर्त (Kajari Teej 2020 Date, Shubh Muhurt)

जैसा क‍ि हमने आपको बताया कजरी तीज का त्योहार हर साल भाद्रपद के कृष्ण पक्ष की तृतीया को मनाया जाता है. जो इस साल 5 से 7 अगस्त के मध्य है. जानें कजरी तीज का शुभ मुहूर्त- 

तृतीया प्रारंभ- 5 अगस्त, 2020 रात 10:52 
तृतीया समाप्त- 7 अगस्त, 2020 रात 12:16

0dorqhvo

Teej Festival 2020 Wishes, Status: तीज के मौके पर लोग एक दूसरे को शुभकामना संदेश देते हैं. 

कजरी तीज का महत्व (Kajari Teej Significance)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

साल में एक ही तीज नहीं मनाई जाती. इससे पहले हरियाली तीज, हरतालिका तीज का उपवास भी होता है. ठीक ऐसे ही कजरी तीज भी सुहागन महिलाएं पत‍ि की लंबी उम्र के लिए रखती हैं. माना जाता है यह व्रत घर में सुख शांत‍ि, पति की लंबी आयु, सुख-समृद्धि, धन धान्य की प्राप्त‍ि के लिए अहम है. कजरी तीज की कथा के अनुसार इसी दिन भगवान शिव से विवाह के लिए कठोर तपस्या के फलस्वरूप मां पार्वती ने शि‍व को प्राप्त किया था. इस दिन मां पार्वती और भगवान शिव दोनों की ही पूजा की जाती है. 

कजरी तीज की पूजा विधि (Kajari Teej Puja Vidhi)

सबसे पहले सुबह स्नानादि कर लाल या हरे रंग के साफ कपड़े पहनने का प्रावधान है. 
इसके बाद नीमड़ी माता को जल, रोली, चावल, मेंहदी और सुहाग का सामना चढ़ाया जाता है.
कई जगह सुहाग की निशानियां इस दिन दान करने का भी रिवाज है. 
पूजा स्थल पर घी का दीपक जलाएं और मां पार्वती और भगवान शिव के मंत्रों का जाप किया जाता है. 
इसके बाद पूरे दिन का उपवास किया जाता है.
 

Happy Teej 2020