Disadvantages Of Peanuts: ज्यादा मूंगफली खाने के 5 बड़े नुकसान, सेवन करने से पहले जान लें मूंगफली के साइडइफेक्ट्स!

Side Effects Of Peanuts: मूंगफली में प्रोटीन और कई आवश्यक पोषक तत्व होते हैं. मूंगफली के स्वास्थ्य लाभ (Health Benefits Of Peanuts) जानकर आप भी हैरान हो सकते हैं, लेकिन बहुत अधिक नट्स खाने से आपके स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है. यानि कि अगर मूंगफली का सेवन कर रहे हैं तो आपको मूंगफली के नुकसान (Disadvantages Of Peanuts) भी जान लेने चाहिए.

Disadvantages Of Peanuts: ज्यादा मूंगफली खाने के 5 बड़े नुकसान, सेवन करने से पहले जान लें मूंगफली के साइडइफेक्ट्स!

Disadvantages Of Peanuts: ज्यादा मूंगफली खाने से कई तरह की एलर्जी हो सकती हैं

खास बातें

  • ज्यादा मात्रा में मूंगफली का सेवन स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है.
  • मूंगफली का ज्यादा सेवन कैलोरी इंटेक को बढ़ा सकता है.
  • यहां जानें ज्यादा मूंगफली खाने के 5 साइडइफेक्ट्स.

Too Much Peanuts Side Effects: सर्दियों हेल्दी रहने के लिए मूंगफली का सेवन करने की सलाह दी जाती है. मूंगफली के फायदे (Benefits Of Peanuts) कई हैं. मूंगफली में प्रोटीन और कई आवश्यक पोषक तत्व होते हैं. मूंगफली के स्वास्थ्य लाभ (Health Benefits Of Peanuts) जानकर आप भी हैरान हो सकते हैं, लेकिन बहुत अधिक नट्स खाने से आपके स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है. यानि कि अगर मूंगफली का सेवन कर रहे हैं तो आपको मूंगफली के नुकसान (Disadvantages Of Peanuts) भी जान लेने चाहिए. बहुत अधिक मूंगफली का सेवन उच्च-कैलोरी और वसा सामग्री, विषाक्त पदार्थों और एंटी-पोषक तत्वों से कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं. मूंगफली के ज्यादा सेवन से शरीर में कैलेस्ट्रोल की परेशानी हो सकती है. इसके साथ ही मूंगफली का ज्यादा सेवन करने के कारण आपका पाचन की समस्या (Digestion Problems) और लीवर खराब हो सकता है और आपको मूंगफली से एलर्जी की भी समस्या हो सकती है.

मूंगफली के साइडइफेक्ट्स (Peanuts Side Effects) कई हैं. हालांकि इसका सीमित मात्रा में सेवन कर कमाल के लाभ हो सकते हैं. सर्दियों में अक्सर छिलके वाली भूनी मूंगफली खाना हर किसी को पसंद होता है. थोड़ी मूंगफली को रोज खाना तो सेहत के लिए फायदेमंद है लेकिन अगर आप ज्यादा मात्रा में मूंगफली खाते हैं तो गंभीर नुकसान भी हो सकते हैं.

ये होते हैं ज्यादा मूंगफली खाने के नुकसान | These Are The Disadvantages Of Eating More Peanuts

1. वजन बढ़ा सकती हैं मूंगफलियां

मूंगफली आपके समग्र स्वास्थ्य में योगदान के बावजूद हाई कैलोरी से भरपूर होने के कारण वजन बढ़ा सकती है. अगर आप अपने वजन को प्रबंधित करने की कोशिश कर रहे हैं तो कैलोरी आपके लिए अच्छी नहीं हैं. वजन घटाने वाले लोगों के लिए मूंगफली का सेवन नुकसानदायक हो सकता है. बढ़ा हुआ वजन किसी के लिए भी हेल्दी नहीं होता है.

2. मूंगफली के एलर्जी संबंधी दुष्प्रभाव

मूंगफली सबसे आम एलर्जी में से एक है और गंभीर, संभावित प्रतिक्रियाओं का कारण बन सकती है. बहुत कम मात्रा के साथ भी मूंगफली की प्रतिक्रिया अप्रत्याशित हो सकती है. यह आपके शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली के परिणामस्वरूप होता है, जो मूंगफली प्रोटीन को हानिकारक के रूप में पहचानता है और लक्षणों को ट्रिगर कर सकता है. मूंगफली से एलर्जी होने पर बहती नाक, त्वचा की प्रतिक्रियाएं, जैसे कि खुजली, पित्ती, लालिमा या सूजन, मुंह और गले में झुनझुनी, पाचन समस्याएं हो सकती हैं.

ovdfa42oPeanuts Side Effects: ज्यादा मूंगफली खाने से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है.

3. बढ़ जाती है सोडियम की मात्रा

कई तरह की मूंगफली में नमक और स्वाद मिला होता है जो आपके रक्तचाप पर असर डाल सकता है. उदाहरण के लिए, नमकीन वेलेंसिया मूंगफली आपके शरीर में सोडियम की मात्रा बढ़ सकती है. ब्लड प्रेशर और दिल के स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए हमें सोडियम की मात्रा का ख्याल रखना जरूरी है. बहुत अधिक सोडियम आपके स्वास्थ्य को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है.

4. ओमेगा फैटी एसिड का असंतुलन

ओमेगा-6 एक आवश्यक पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड है जो मुख्य रूप से आपके शरीर में ऊर्जा का उत्पादन करने के लिए उपयोग किया जाता है. हालांकि, ओमेगा -6 और ओमेगा -3 को आपके स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होने के लिए संयोजन और सही संतुलन में होना जरूरी है. मूंगफली में ओमेगा -3 फैटी एसिड की कमी होती है.

5. मूंगफली में संतृप्त वसा होती है

मूंगफली का बहुत अधिक सेवन करना हमारे स्वास्थ्य के लिए बुरा है क्योंकि इनमें उच्च स्तर के संतृप्त वसा मौजूद होते हैं. संतृप्त वसा का उच्च स्तर दिल का दौरा, स्ट्रोक, भरा हुआ धमनियों, पाचन समस्या, उच्च रक्तचाप और अन्य स्वास्थ्य जटिलताओं जैसी समस्याओं को जन्म दे सकता है. आहार में संतृप्त वसा के स्तर को कम करने से हृदय संबंधी समस्याओं का खतरा भी कम हो सकता है.

भारत में कब तक आएगी कोरोना वैक्सीन?

Newsbeep

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com