NDTV Khabar

रोजाना बस आधा घंटा बैठें धूप में, नहीं होंगी ये बीमारियां!

Taking Sunlight Daily: अपनी दैनिक जरूरत का विटामिन डी आप सुबह की धूप से ले सकते हैं. इसके लिए आपको रोज कम से कम 30 मिनट तक धूप सेकनी चाहिए. तो चलिए जानते हैं कि अगर आप रोज आधा घंटा धूप में बैठने के क्या फायदे होते हैं- 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रोजाना बस आधा घंटा बैठें धूप में, नहीं होंगी ये बीमारियां!

Vitamin D-Rich Foods: आप विटामिन डी सीधा सूरज की किरणों से ले सकते हैं.

खास बातें

  1. ध्यान रखें कि आप विटामिन से भरपूर आहार जरूर लें.
  2. धूप में बैठने से शरीर को विटामिन डी मिलता है.
  3. धूप में बैठने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है.

Vitamin D Deficiency: मौसम बदल चुका है. बहुत से लोगों के गर्म कपड़े अलमारी से बाहर आ चुके हैं. तो कुछ इन्हें निकालने की तैयारी में हैं. सर्दियों के मौसम में एक ओर जहां मुंह को बहुत से स्वाद मिलते हैं वही सेहत से जुड़ी कुछ नई ही परेशानियां सामने आती हैं. इस मौसम में दिल के रोगों का खतरा और स्ट्रोक जैसे रोगों के खतरे बढ़ जाते हैं. इसके साथ ही साथ सर्दियों के मौसम में विटामिन सी की कमी भी देखी जाती है. इस मौसम में क्योंकि लोग घरों में या ठंड से बचने के लिए अंदर ही रहते हैं, तो धूप से इतना सामना नहीं कर पाते. जिसके चलते विटामिन डी की कमी (Vitamin D Deficiency) के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिलती है. विटामिन डी एक जरूरी विटामिन है. विटामिन डी आपके शरीर को तो मजबूत बनाता ही है साथ ही यह कई रोगों से लड़ने में भी मददगार है. अपनी दैनिक जरूरत का विटामिन डी आप सुबह की धूप से ले सकते हैं. इसके लिए आपको रोज कम से कम 30 मिनट तक धूप सेकनी चाहिए. तो चलिए जानते हैं कि अगर आप रोज आधा घंटा धूप में बैठने के क्या फायदे होते हैं- 

विटामिन डी की कमी के लक्षण आपके स्किन पर आएंगे नजर, जानिए कैसे पाएं इससे निजाद


Breast Cancer: सुबह जल्दी उठें और खाएं ये 5 चीजें, नहीं होगा ब्रेस्ट कैंसर!

धूप सेंकने से मिलेगा फायदा (Benefits Of Taking Sunlight Daily) 

- धूप में बैठने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है. इससे आप अपने बीपी को भी कंट्रोल करने में मदद पा सकते हैं.
- धूप सेकना आपके दिल के लिए भी अच्छा है. इसके साथ ही साथ धूप सेकना डाइबिटीज के रोगियों के लिए भी अच्छा मना जाता है.

डायबिटीज के इलाज में मदद कर सकता है विटामिन डी

- धूप लेने या विटामिन डी (Vitamin D) की खुराक से पेट में अच्छे जीवाणु की संख्या बढ़ाने और मेटाबॉलिक सिंड्रोम रोकने में मदद मिल सकती है. 
- स्तन कैंसर पर हुई इस स्टडी में यह बात सामने आई कि विटामिन डी की कमी के साथ ही अगर मोटापा भी है तो यह Breast Cancer के खतरे को बढ़ा देता है. शोध में यह बात समाने आई कि कम बीएमआई (Body mass index, BMI) के साथ शरीर में मौजूद विटामिन डी का अच्छा स्तर स्तन कैंसर से बचाव का काम करता है. 
- धूप में बैठने से शरीर को विटामिन डी मिलता है, जो हड्ड‍ियों की ग्रोथ के लिए अच्छा होता है.
- हमारी सेहत के लिए विटामिन डी 3 फायदेमंद होता है. ये स्क‍िन को यूवी किरणों से सुरक्षित रखने का काम करता है.
- सूर्य की रोशनी विटामिन डी का सबसे अच्छा स्त्रोत है. लेकिन दोपहर की धूप नहीं, सुबह की धूप फायदेमंद होती है. इससे चर्म रोग होने का खतरा भी कम हो जाता है.
- कई शोध इस बात का दावा किया है कि विटामिन डी सिर दर्द को ठीक कर सकता.
- कुछ शोध दावा करते हैं कि सूरज की किरणें कैंसर से भी बचा सकती हैं.

Air Pollution से है ब्रेस्ट कैंसर का खतरा! ये 5 चीजें चाएंगी स्तन कैंसर से

हर चार में से तीन औरतों को है यह रोग, बचाव है बेहद आसान...

विटामिन डी की कमी के लक्षण - Signs And Symptoms Of Vitamin D Deficiency

1. थकान महसूस करना. 
2. हड्ड‍ियों में दर्द और कमजोरी महसूस होना. इसके अलावा शरीर के अलग-अलग हिस्सों की मांसपेशि‍यों में लगातार दर्द भी इसका एक लक्षण है.
3. तनाव में रहना भी विटामिन डी की कमी का एक लक्षण हो सकता है. आमतौर पर औरतों में विटामिन डी की कमी से डिप्रेशन या स्ट्रेस की समस्या ज्यादा होती है. 
4. बाल झड़ना. 
5. चोट लगने पर उसके भरने में काफी अधिक समय लगना. 
6. विटामिन डी की कमी का असर आपके मूड पर होता है. विटामिन डी की कमी का असर सेरोटोनिन हार्मोन पर पड़ता है. जो मूड स्विंग्स की समस्या पैदा करती है.
7. विटामिन डी की बहुत ज्यादा कमी होने पर जरा सी चोट लगने पर हड्डी टूटने, खास तौर पर जांघों, पेल्विस और हिप्स में दर्द होता है.

90 फीसदी भारतीयों में है विटामिन डी की कमी, ये है सबसे बड़ी वजह...

टिप्पणियां


इस बात का ध्यान रखें कि आप विटामिन से भरपूर आहार जरूर लें. यह स्वस्थ जीवन के लिए बहुत जरूरी है. अगर आपको ऊपर बताए गए लक्षणों में से कुछ लक्षण खुद में दिखते हैं तो अपने डॉक्टर से बात जरूर करें.

और खबरों के लिए क्लिक करें.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement