NDTV Khabar

सर्दियों में गठिया: कैसे करें गठिया का दर्द कम, जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

Arthritis Treatment: हवा में चुभन का यह मौसम बुजुर्गों और गठिया के रोगियों की परेशानी बढ़ा देता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सर्दियों में गठिया: कैसे करें गठिया का दर्द कम, जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज
नई दिल्ली:

Arthritis Treatment: हवा में चुभन का यह मौसम बुजुर्गों और गठिया के रोगियों की परेशानी बढ़ा देता है. इस मौसम में कई रोगियों के घुटने का दर्द, अकड़न और असहजता बढ़ जाती है क्योंकि वातावरणीय दबाव के कारण रक्तसंचार में बाधा होती है. इसे अक्सर आयु सम्बंधी नुकसान या मौसमी बदलाव समझा जाता है, लेकिन यह गठिया के लक्षण हो सकते हैं. नई दिल्ली स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल के आर्थोपेडिक्स विभाग के निदेशक डॉ. धनंजय गुप्ता के अनुसार, "लोग सर्दियों में आलसी हो जाते हैं. इससे घुटने प्रभावित हो सकते हैं और अगर आपका पहले से गठिया का उपचार चल रहा है तो उस हालत में दर्द बढ़ सकता है. अगर दर्द बहुत तेज है और घुटने का गठिया पुराना हो चुका है, तो टोटल नी रिप्लेसमेन्ट (टीकेआर) पर विचार किया जा सकता है."

 


क्या है गठिया, किसे हो सकता है और क्या आती हैं इलाज में समस्याएं...

ज्यादा पानी के होते हैं नुकसान, जानें एक दिन में कितना पानी पीना चाहिए...

 

क्या हैं गठिया के उपचार - Arthritis Treatment

डॉ. गुप्ता ने कहा, "जब दवा और ऑर्थोस्कोपिक उपचार से रोगी को राहत नहीं मिलती है, तब टीकेआर की सलाह दी जाती है. गंभीर रूप से विकृत घुटनों के लिए यह अंतिम विकल्प है और सबसे सुरक्षित ऑर्थोपेडिक प्रोसीजर में से एक है. मजबूत इंप्लांट से रोगग्रस्त नी कैप को बदलने से दर्द दूर होता है, घुटने की कार्यात्मकता वापस आ जाती है और रोगी के जीवन की गुणवत्ता में भी सुधार होता है. प्रोसीजर के बाद सही फिजियोथेरैपी करने से रोगी छह सप्ताह में पूरी तरह ठीक हो जाता है."

 

dg66eceg

Arthritis Precautions: डॉक्टर के पास जाकर आप लक्षणों को बेहतर तरीके से समझेंगे. Photo Credit: iStock

 

गठिया के दौरान किन बातों का रखें ध्यान - Arthritis Precautions

सावधानियों के बारे में बताते हुए डॉ. गुप्ता ने कहा, "कभी-कभी ऐसे रोगियों को भी सर्दी के दौरान दर्द होता है, जो चिकित्सकीय सलाह ले चुके हैं या घुटने की सर्जरी करवा चुके हैं. डॉक्टर के पास जाकर आप लक्षणों को बेहतर तरीके से समझेंगे. विशेषज्ञ आपकी मेडिकल प्रोफाइल का विश्लेषण करेंगे और उसके अनुसार सावधानी बताएंगे, जैसे व्यायाम, फिजियोथेरैपी, सही आहार, पूरक, आदि, ताकि सर्दियों के दौरान हड्डियां मजबूत रहें."

 

सेफ सेक्‍स के लिए जरूरी है इन टिप्‍स को ट्राई करना

Reduced Sex Drive? 6 सुपरफूड जो बढ़ाएंगे आपकी लिबिडो

 

कैसे करें गठिया के दर्द को कम - Ways to Manage Arthritis Pain in Winter

इसके अलावा सक्रिय जीवनशैली अपनाकर जोड़ों के दर्द को दूर रखा जा सकता है, विशेषकर गठिया के रोगियों के लिए. घर के बाहर ठंडी हवा को व्यायाम में बाधा मत बनने दीजिए. काम करते हुए या घर में रहते हुए छोटे ब्रेक लेकर चलते भी रहिए, ताकि आपका वजन नियंत्रण में रहे. जोड़ों के लिए विटामिन डी सबसे अच्छा है. जितना हो सके, धूप में रहें. अपने भोजन में पोषक तत्वों और विटामिन से प्रचुर आहार शामिल करें, जैसे संतरा, पालक, फूलगोभी, डेयरी उत्पाद और सूखे मेवे." 

 

डायबिटीज में क्यों फूलता है सांस? ये हो सकती है वजह...

प्रेग्नेंसी में डायबिटीज बढ़ा सकती बच्चे में आटिज्म का खतरा...

बराबर-बराबर होता है मैरिड कपल्स में डायबिटीज का खतरा!

 

buci924g

Arthritis Precautions: भारी-भरकम स्वेटर या कार्डिगन जिससे आपके शरीर का वजन बढ़ जाता है. Photo Credit: iStock

 

गठिया में क्या करें क्या नहीं - Arthritis Dos and Don'ts 

घुटनों के जोड़ में किसी अन्य जोड़ की तुलना में सबसे ज्यादा तनाव पड़ता है, इसलिए भारी-भरकम स्वेटर या कार्डिगन जिससे आपके शरीर का वजन बढ़ जाता है, इन्हें पहनने के बजाये हलके गर्म कपड़े पहनें. जोड़ों का मूवमेंट अपने पेरिफेरल एरियाज में रक्त संचार को बढ़ाता है और इससे अकड़न कम होती है. इसलिए अपने कंबल से बाहर निकलिए और थोड़ी सी स्ट्रेचिंग एवं चहलकदमी कीजिए. (इनपुट-आईएएनएस)

 

टिप्पणियां

और खबरों के लिए क्लिक करें.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement