हिमाचल में स्वाइन फ्लू से 16 मौत, जानें बचाव के उपाय और लक्षणों के बारे में...

क्‍या है स्‍वाइन फ्लू (What is Swine Flu in Hindi): इंफ्लूएंजा ए स्‍वाइन फ्लू वायरस के एक प्रकार ‘एच-1-एन-1‘ द्वारा संक्रमित इंसान से दूसरे इंसान में फैलता है.

हिमाचल में स्वाइन फ्लू से 16 मौत, जानें बचाव के उपाय और लक्षणों के बारे में...

स्वाइन फ्लू ने इस साल अब तक हिमाचल प्रदेश (Swine flu in Himachal Pradesh) में 16 लोगों की जान ले ली है. 2018 में इस बीमारी से मरने वालों की संख्या दो थी. हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार ने मंगलवार को विधानसभा को यह जानकारी दी. परमार के मुताबिक सोमवार को दो लोगों की मौत स्वाइन फ्लू (Swine flu deaths) से हुई. राज्य में स्वाइन फ्लू की स्थिति को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में परमार ने कहा कि कांगड़ा और शिमला जिलों में क्रमश: 36 और 33 पाजीटिव मामले पाए गए हैं. राज्य भर में कुल 113 मामले सामने आए हैं. स्वाइन फ्लू से पीड़ित 21 लोगों का यहां के इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में इलाज चल रहा है जबकि आठ लोग टांडा शहर में स्थित डॉ. राजेंद्र प्रसाद गर्वमेंट मेडिकल कॉलेज में भर्ती हैं. साल 2018 में राज्य में स्वाइन फ्लू से सिर्फ दो लोगों की मौत हुई थी जबकि 2017 में यह संख्या 17 थी. इसी तरह 2016 में पांच और 2015 में सात लोग इस बीमारी से मरे थे. राज्य में स्वाइन फ्लू का पहला मामला 2009 में प्रकाश में आया था. गौरतलब है कि कुछ समय पहले ही कांग्रेस नेता और छह बार हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके वीरभद्र सिंह को भी स्वाइन फ्लू हो गया था. फिलहाल उनकी सेहत ठीक है.  अगर आप भी 'स्वाइन फ्लू के शुरुआती लक्षण, स्वाइन फ्लू टेस्ट, स्वाइन फ्लू की जांच, स्वाइन फ्लू किसके कारण होता है, स्वाइन फ्लू ट्रीटमेंट एट होम, स्वाइन फ्लू का आयुर्वेदिक इलाज, स्वाइन फ्लू के लक्षणों पहला लक्षण, कपूर और इलायची स्वाइन फ्लू' से जुड़ी जानकारी चाहते हैं तो आप सही लेख पढ़ रहे हैं. 

दबे पांव आ रहा है स्वाइन फ्लू, राजस्थान में सबसे ज्यादा मरीज, इन बातों का रखें ध्यान

 

हम आपको बताते हैं स्वाइन फ्लू के बारे में सबकुछ - All About Swine Flu: Symptoms, Causes, Diagnosis, and Treatment

 

जानिए क्‍या है स्‍वाइन फ्लू (What is Swine Flu in Hindi)

इंफ्लूएंजा ए स्‍वाइन फ्लू वायरस के एक प्रकार ‘एच-1-एन-1‘ द्वारा संक्रमित इंसान से दूसरे इंसान में फैलता है. स्‍वाइन फ्लू असल में एक वायरस है जो संक्रमण से फैलता है. यह एक इनसान से दूसरे इनसान में फैलता है. यह वायरस बड़ी बहुत तेजी से फैलता है. 

 

स्वाइन फ्लू: कारण, उपचार और इस बीमारी से बचने के उपाय


क्या हैं स्वाइन फ्लू के लक्षण- (Swine flu (H1N1 flu) - Symptoms and causes)

इस मौसम में अगर बुखार, खांसी, मतली हो तो स्वाइन फ्लू की जांच कराएं. इसके अलावा और क्या क्या लक्षण हो सकते हैं यह हम आपको बताते हैं- 

- स्वाइन फ्लू में खांसी या गले में खरास के साथ 1000 फारेनहाइट से अधिक तक बुखार हो सकता है. निदान की पुष्टि आरआरटी या पीसीआर तकनीक से किए गए लैब टैस्ट से होती है.
- हल्का फ्लू या स्वाइन फ्लू बुखार, खांसी, गले में खरास, नाक बहने, मांसपेशियों में दर्द, सिरदर्द, ठंड और कभी-कभी दस्त और उल्टी के साथ आता है. 
- हल्के मामलों में, सांस लेने में परेशानी नहीं होती है. 
- लगातार बढ़ने वाले स्वाइन फ्लू में छाती में दर्द के साथ उपरोक्त लक्षण, श्वसन दर में वृद्धि, रक्त में ऑक्सीजन की कमी, कम रक्तचाप, भ्रम, बदलती मानसिक स्थिति, गंभीर निर्जलीकरण और अंतर्निहित अस्थमा, गुर्दे की विफलता, मधुमेह, दिल की विफलता, एंजाइना या सीओपीडी हो सकता है. 
- गर्भवती महिलाओं में, फ्लू भ्रूण की मौत सहित अधिक गंभीर जटिलताओं का कारण बन सकता है.

कैसे पहचानें स्वाइन फ्लू के लक्षण... 

0qt69un

‘एच-1-एन-1‘ द्वारा संक्रमित इंसान से दूसरे इंसान में फैलता है. Photo Credit: iStock


स्वाइन फ्लू से बचाव के घरेलू नुस्‍खे और उपचार - (Swine Flu: Best Home Remedies; Prevention Tips)

स्‍वाइन फ्लू से बचाव के लिए आप कुछ घरेलू नुस्‍खे भी अपनाए जाते हैं. इनमें आयुर्वेदिक बूटियों और नुस्खों को इस्तेमाल में लिया जाता है. गिलोय, हल्‍दी, तुलसी के पत्ते और लहसुन आदि का नियमिन सेवन आपको स्वाइन फ्लू जैसी बीमारी से लड़ने की ताकत देता है. खुद को स्वस्थ बनाए रखने के लिए रेगुलर एक्सरसाइज करें. अपने आहार का खास ध्यान रखें और स्वाइन फ्लू के खतरे को कम करें.

हाई बल्‍ड प्रेशर को कंट्रोल कर सकती हैं ये एक्‍सरसाइज, ट्राई करके देखें


हल्के-फुल्के मामलों में अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता नहीं होती, लेकिन गंभीर लक्षण होने पर मरीज को भर्ती करने की आवश्यकता हो सकती है. (इनपुट-आईएएनएस)

और खबरों के लिए क्लिक करें.

 

महिलाओं की योनी में क्यों लगानी पड़ती है जाली! क्या होते हैं नुकसान और क्या हैं विकल्प

सर्दियों में फटे होंठ अब नहीं करेंगे परेशान, ये देसी नुस्‍खे अपनाकर देखें

किडनी स्‍टोन निकालने के ये हैं 5 तरीके, नहीं करानी पड़ेगी सर्जरी

प्रोटीन से भरपूर अंडा हेल्‍थ और स्किन को देता है गजब के फायदे

Diabetes: ब्‍लड शुगर को कंट्रोल करता है धनिया, जानें धनिए के फायदे

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

खराब डाइजेशन में सुधार लाने के लिए रामबाण हैं ये 6 घरेलू नुस्‍खे