NDTV Khabar

World Heart Day 2019 पर जानें कि क्या होते हैं हार्ट अटैक के कारण, लक्षण और सावधानियां

World Heart Day 2019: साइलेंट हार्ट अटैक (Silent Heart Attack) में किसी तरह के लक्षण दिखाई नहीं देते हैं. अगर आप सोच रहे हैं कि साइलेंट हार्ट अटैक क्या होता है, तो हम आपको बताते हैं. हार्ट अटैक (Heart Attack) के करीब आधे मामले 'साइलेंट' होते हैं जो कि मौत के जोखिम को काफी बढ़ाते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
World Heart Day 2019 पर जानें कि क्या होते हैं हार्ट अटैक के कारण, लक्षण और सावधानियां

World Heart Day 2019: साइलेंट हार्ट अटैक (Silent Heart Attack) में किसी तरह के लक्षण दिखाई नहीं देते हैं.

Heart Attack Symptoms in Hindi: हर साल 29 सितंबर को वर्ल्ड हार्ट डे (World Heart Day 2019) मनाया जाता है. यह दिल की सेहत के प्रति लोगों को जागरुक करने का एक प्रयास होता है. हार्ट अटैक (Heart Attack) आज एक आम बीमारी हो चला है. ताजा आंकडों के अनुसार 30 से 40 उम्र के लोगों को दिल संबंधी बीमारियों होने लगी है. माना जाता है कि हार्ट अटैक का कारण स्ट्रेस यानी तनाव (Stress and Heart Attack) है. जीवन की भागमभाग में लोग अपनी सेहत के लिए ही सजग नहीं रह पाते. इसी के चलते लोग अलग-अलग जीवनशैली से जुड़े रोगों से प्रभावित हो रहे हैं. यही वजह है कि दिल के रोगों के लिए लोगों में जागरूक फैलाने के लिए हर साल 29 सितंबर को विश्व हृदय दिवस मनाया जाता है. 

विश्व हृदय दिवस 2019: हार्ट अटैक के लक्षण | World Heart Day 2019: Heart Attack Symptoms

1. अक्सर लोग धूम्रपान, नींद की दवाएं या शराब वगैरह पीने लगते हैं. यह आदतें दिल के रोगों को और बढ़ावा देती हैं.
2. दौरान दिल का दौरा (Heart Attack) पड़ने की स्थिति में यह जरूरी हो जाता है कि आप हार्ट अटैक के लक्षणों को पहचान कर प्राथमिक उपचार किया जाए.
3. हार्ट अटैक के लक्षणों में हर बार सांस लेने में कठिनाई, सीने में जकड़न, छाती में भिंचाव, सांस फूलने और अचानक पसीना आने जैसी शिकायत नहीं होती. 
4. आजकल 'साइलेंट' हार्ट अटैक के मामले देखने को मिल रहे हैं. साइलेंट हार्ट अटैक (Silent Heart Attack) में किसी तरह के लक्षण दिखाई नहीं देते हैं. 
5. अगर आप सोच रहे हैं कि साइलेंट हार्ट अटैक क्या होता है, तो हम आपको बताते हैं. हार्ट अटैक (Heart Attack) के करीब आधे मामले 'साइलेंट' होते हैं जो कि मौत के जोखिम को काफी बढ़ाते हैं. 
6. हार्ट अटैक से बचने के लिए आपको अपनी तरफ से जरूरी सावधानी बरतनी चाहिए. तो चलिए हम आपको बताते हैं कि वो कौन सी बातें हैं जिनका आप ध्यान रख सकते है और आर्ट अटैक के खतरे को कम कर सकते हैं.


यह फल आपके मेटाबॉलिज्म को बढ़ाएगा, कई और भी हैं फायदे

World Heart Day: एक्सरसाइज और योगा से बेहतर होगा दिल का स्वास्थ्य, जानें सेहतमंद दिल के लिए करें कौन से योग और व्यायाम

क्या हो सकता है हार्ट अटैक का कारण और हार्ट अटैक से बचने के उपाय | World Heart Day 2019: Heart Attack Causes and Heart Attack Prevention

1. दिल की सेहत को प्रभावित कर सकता है तनाव

तनाव आपके दिल के लिए बहुत बुरा साबित हो सकता है. लेकिन हम सभी ने अपने अपने जीवन में बहुत ही छोटी छोटी बातों पर स्ट्रेस लेने की आदत बना ली है. लेकिन अगर आप अपने दिल को सेहतमंद बनाना चाहते हैं या दिल के रोगों से बचना चाहते हैं तो तनाव लेने से बचें. हार्ट अटैक के ज्यादातर मामले तनाव के कारण सामने आ रहे हैं. तनाव आपके शरीर पर कई तरह से प्रभाव डालता है. यह दिल की धडकनों और कार्यप्रणाली को प्रभावित करता है. इससे बचने के लिए आप एक्सरसाइज कर सकते हैं.

स्मोकिंग छोडने के लिए ई-सिगरेट? बढ़ा सकती है हृदय रोग का जोखिम ज्यादा

2. कोलेस्ट्रॉल को रखें कंट्रोल में | Cholesterol and Heart Disease

कोलेस्ट्रॉल आपके दिल के लिए अच्छा नहीं है. जी हां, कोलेस्ट्रॉल रक्त में क्लॉटिन्ग की वजह बन सकता है. कुछ समय पहले ही सामने आए एक सर्वे में यह बात पता चली कि भारत में रहने वाली करीब 50 फीसदी महिलाएं कोलेस्ट्रॉल के उच्च स्तर से प्रभावित हैं. कोलेस्ट्रॉल का बढ़ा हुआ स्तर कार्डियोवस्क्यूलर बीमारियां (सीवीडी) होने का खतरा बढ़ा सकता है. असल में कोलेस्ट्रोल का बढ़ा हुआ स्तर हार्ट अटैक के खतरे को बढ़ा देता है. इसलिए अपने आहार में ऐसी चीजों को शामिल करें जो कोलेस्टोल को कंट्रोल में रख सकने में मददगार हों.

Heart Attack Recovery : हार्ट अटैक के बाद जल्दी रिकवरी के लिए बरतें ये सावधानियां

7rlh2teo

Cholesterol and Heart Disease: कोलेस्ट्रोल का बढ़ा हुआ स्तर दिल के लिए अच्छा नहीं है. 

3. बदलें अपना लाइफस्टाइल | Tips for a Heart-Healthy Lifestyle

आज जो लाइफस्टाइल ज्यादातर लोग अपना रहे हैं वह उन्हें दिल के रोगों और डायबिटीज जैसे रोगों की ओर ले जा रहा है. हार्ट अटैक को लाइफस्टाइल की देन भी कहा जा सकता है. क्योंकि एक सक्रिय जीवनशैली को अपनाकर आप इससे काफी हद तक बचे रह सकते हैं. 

वजन घटाना है तो इन तीन तरीकों को अपने डेली रूटीन में जरूर करें शामिल

4. हाई ब्लड प्रेशर या डायबिटीज बढ़ा सकता है दिल के रोगों का खतरा | Diabetes, Heart Disease, and Stroke

हाई ब्लड प्रेशर या डायबिटीज भी हार्ट अटैक की वजह हो सकती है. हाई बीपी से आपकी नसें प्रभावित होती हैं और इसका दिल पर भी प्रभाव पड़ता है. इतना ही नहीं उच्च रक्तचाप आर्टरीज पर भी प्रभाव डालती है, जो हार्ट अटैक के खतरे को बढ़ा सकता है.

5. दिल के लिए खतरनाक हो सकता है मोटापा | Obesity & Heart Disease

मोटापा या बहुत अधिक वजन भी हार्ट अटैक को बुलावा दे सकता है. शरीर का बढ़ा हुआ वजन दिल के लिए खतरनाक है. वजन पर नजर रखें क्योंकि यह हाई कोलेस्ट्रॉल की संभावना को बढ़ाता है, जिससे मधुमेह, धमनी रोग का खतरा और रक्तचाप हो सकता है. बीएमआई (बॉडी मास इंडेक्स) पर भी नजर रखें और इसे उचित स्तर तक बनाए रखें.

और खबरों के लिए क्लिक करें.

टिप्पणियां

Home Remedies for Dengue: डेंगू से निपटने के 6 घरेलू उपाय...

Female Sexual Dysfunction: क्या है इसकी वजह, जानें यौन अक्षमता के बारे में सबकुछ...



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Bigg Boss 13: आसिम रियाज के फैन्स के लिए खुशखबरी, बॉलीवुड में मिला ब्रेक!

Advertisement