NDTV Khabar

वो पांच वजहें, जिनके चलते आप अभी के अभी छोड़ देंगे स्मोकिंग

सच तो यह है कि अगर आप बिना स्मोकिंग के तीन दिन निकाल लेते हैं, तो इसे छोड़ना आपके लिए बहुत आसान है. बस जरूरत है तो ऐसी वैलिट वजहों कि जिनके बारे में सुनते ही आप छोड़ दें धूम्रपान. आज World No Tobacco Day के मौके पर हम आपको दे रहे हैं ऐसी ही पांच वजहें- 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वो पांच वजहें, जिनके चलते आप अभी के अभी छोड़ देंगे स्मोकिंग

आज है तंबाकू निषेध दिवस यानी वर्ल्ड नो तंबाकू डे. ऐसे बहुत से लोग हैं, जो दिन में कम से कम दस बार स्मोकिंग छोड़ने के बारे में सोचते तो हैं, लेकिन यह सोचकर कि ' मैं ऐसा नहीं कर पाऊंगा' वे इसके लिए प्रयास ही नहीं करते. ज्यादातर स्मोकर यह सोचते हैं कि वे ऐसा कर ही नहीं पाएंगे, वह भी बिना कोशि‍श किए. जबकि सच तो यह है कि अगर आप बिना स्मोकिंग के तीन दिन निकाल लेते हैं, तो इसे छोड़ना आपके लिए बहुत आसान है. बस जरूरत है तो ऐसी वैलिट वजहों कि जिनके बारे में सुनते ही आप छोड़ दें धूम्रपान. हम आपको दे रहे हैं ऐसी ही पांच वजहें- 

5 वजह जिनके चलते आपको स्मोकिंग छोड देनी चाहिए | 5 Reasons to Quit Smoking


बच्चों के लिए खतरा:

smoking 620x350


घर में जब कोई धूम्रपान करता है, तब तंबाकू के धुएं में मौजूद निकोटीन यानी हानिकारक कीटाणुओं का समूह हवा में तैरता हुआ आसपास के बच्चों के हाथों पर जाकर चिपक जाता है. ये कीटाणु हाथों पर दिखाई तो नहीं देते, लेकिन एक शोध में उनकी मौजूदगी की पुष्टि हुई है. जो लोग सोचते हैं कि अपने बच्चों के आसपास धूम्रपान न करना काफी है, लेकिन ऐसा नहीं है. हवा में जो तंबाकू के कीटाणु मिले होते हैं, वे तैरते हुए दूर तक भी जा सकते हैं.

थर्ड हैंड सिगरेट है खतरनाक, जानिए क्या होते हैं नुकसान

सेक्स लाइफ: औरतों के मुकाबले मर्दों में तीन गुना ज्यादा होती है यह चीज

नहीं आएगा कोई भी स्वाद

man eating 620


अगर आप खाने के शौकीन हैं और अच्छे स्वादिष्ट खाने के बिना नहीं रह सकते, तो जितनी जल्दी हो सके धूम्रपान छोड़ दें. नहीं तो आपके मुंह का स्वाद आपका साथ छोड़ देगा. आपको यह जानकर अजीब लग सकता है, लेकिन स्‍मोकिंग करने से जीभ की टेस्‍ट बड्स खराब होते हैं और आपको मसाले का स्‍वाद पहचानने में दिक्कत हो सकती है.

ऑर्गेज्म तक न पहुंच पाने के ये हो सकते हैं कारण, आपको भी जरूर जानने चाहिए

टिप्पणियां

कैंसर 

cancer 620x350


यह बात तो सभी जानते हैं कि तंबाकू के सेवन से कई तरह के कैंसर होने के चांसेज बढ़ जाते हैं. तंबाकू से लंग, अपर गैस्ट्रोइन्टेस्टनल ट्रैक्ट, रेस्पिरेट्ररी ट्रैक्ट, लिवर, किडनी, यूरिनरी ब्लै डर, पेन्क्रियाज, नेजल कैविटी, ओरल कैविटी और सर्विक्स कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है. यही नहीं भारत में कैंसर से होने वाली मौतों में 10 फीसदी तंबाकू के कारण होती हैं. 
जानिए क्‍या करें जब लिंग का अग्रभाग हो संवेदनशील


WHO की यह रिपोर्ट
वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) के मुताबिक, तंबाकू के इस्तेमाल से हर साल तकरीबन 6 मिलियन लोगों की मौत होती है. वहीं 6 लाख लोग ऐसे भी हैं जो नॉन-स्मोकर्स हैं लेकिन धूम्रपान के धुंए से इनकी सेहत को नुकसान पहुंचता है. इतना ही नहीं, हर 6 सेकेंड में तंबाकू के कारण एक व्यक्ति की मौत होती है. भारत में ही 274.9 मिलियन लोग तंबाकू का इस्तेमाल करते हैं.


आंखों को है खतरा

eyesight 625


धूम्रपान से होने वाले नुकसानों में एक नुकसान यह भी है कि इससे आपकी आंखों की रौशनी जा सकती है. जी हां, धूम्रपान 50 या उससे ज्यादा उम्र के लोगों की आंखों की रोशनी को प्रभावित कर सकता है. इस दिक्कत को एज रिलेटेड मैक्युलर डिजेनरेशन कहते हैं, इसे एएमडी भी कहते हैं. इसमें रेटीना को नुकसान पहुंचता है और आंखों की रोशनी जा भी सकती है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, दुनिया भर में एएमडी, आंखों की रोशनी जाने की तीसरी सबसे बड़ी वजह है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement