NDTV Khabar

हिमाचल चुनाव: प्रेमकुमार धूमल और वीरभद्र सिंह खुद के लिए नहीं डाल सकेंगे वोट, जानें क्‍यों

हिमाचल में गुरुवार को 68 सीटों के लिए करीब 50 लाख मतदाता वोट डालेंगे. मतदान सुबह 8 बजे से शुरू होगा और शाम पांच बजे तक चलेगा. हिमाचल की 68 सीटों पर 337 प्रत्‍याशी अपना भाग्‍य आजमा रहे हैं. कांग्रेस वीरभद्र सिंह के चेहरे के साथ चुनावी मैदान में हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हिमाचल चुनाव: प्रेमकुमार धूमल और वीरभद्र सिंह खुद के लिए नहीं डाल सकेंगे वोट, जानें क्‍यों

वीरभद्र सिंह और प्रेमकुमार धूमल (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. बीजेपी ने प्रेमकुमार धूमल को बनाया है सीएम उम्‍मीदवार
  2. वीरभद्र पहली बार गृह क्षेत्र से नहीं लड़ रहे हैं चुनाव
  3. हिमाचल की 68 सीटों पर 337 प्रत्‍याशी अपना भाग्‍य आजमा रहे हैं.
शिमला :

हिमाचल में गुरुवार को 68 सीटों के लिए करीब 50 लाख मतदाता वोट डालेंगे. मतदान सुबह 8 बजे से शुरू होगा और शाम पांच बजे तक चलेगा. हिमाचल की 68 सीटों पर 337 प्रत्‍याशी अपना भाग्‍य आजमा रहे हैं. कांग्रेस वीरभद्र सिंह के चेहरे के साथ चुनावी मैदान में हैं. वहीं बीजेपी ने प्रेम कुमार धूमल को सीएम उम्‍मीदवार बनाया है. पर ये दोनों उम्‍मीदवार विधानसभा चुनाव में खुद के लिए वोट नहीं डाल सकेंगे. 

टिप्पणियां

हिमाचल चुनाव : धर्मशाला क्षेत्र में वोटिंग को लेकर तिब्बती मतदाता एकमत नहीं


असल में प्रेमकुमार धूमल और वीरभद्र सिंह पहली बार अपने गृह क्षेत्र से चुनाव नहीं लड़ रहे हैं. वीरभद्र सिंह ने अभी तक शिमला की तीन विधानसभा सीटों जुब्‍बल कोटखाई, रोहडू और शिमला ग्रामीण से चुनाव लड़ चुके हैं. ये पहली बार है जब वीरभद्र सिंह अपना गृहक्षेत्र शिमला छोड़कर सोलन जिले के आर्की विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं.

हिमाचल के रण में अकेले पड़े वीरभद्र वहीं बीजेपी के सीएम पद के उम्‍मीदवार प्रेमकुमार धूमल भी दूसरे जिले से चुनाव लड़ रहे हैं. धूमल सुजानपुर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं जबकि उनका गृह क्षेत्र समीरपुर विधानसभा क्षेत्र के भोरंज के तहत आता है. वीरभद्र और धूमल ही नहीं नौ अन्‍य उम्‍मीदवार भी गुरुवार को हो रही वोटिंग के दौरान खुद को वोट नहीं डाल सकेंगे.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement