Tyrus Wong's 108 Birthday: कौन थे टायरस वोंग? क्यों कहलाए Disney Legend? गूगल ने बनाया डूडल

Tyrus Wong Google Doodle: गूगल ने आज चीनी-अमेरिकी आर्टिस्ट टाइरस वोंग (Tyrus Wong's 108th Birthday) के 108वें जन्मदिन पर रंगीन और दिलचस्प डूडल (Google Doodle) बनाया है.

Tyrus Wong's 108 Birthday: कौन थे टायरस वोंग? क्यों कहलाए Disney Legend? गूगल ने बनाया डूडल

Tyrus Wong: गूगल (Google Doodle) ने टाइरस वोंग के 108वें जन्मदिन पर बनाया डूडल (Doodle)

खास बातें

  • टाइरस वोंग का 108वां जन्मदिन आज
  • गूगल ने डूडल बनाकर किया याद
  • साल 2001 में मिली 'डिज्नी लीजेंड' की उपाधि
नई दिल्ली:

Google Doodle: गूगल (Google) ने आज चीनी-अमेरिकी आर्टिस्ट टाइरस वोंग (Tyrus Wong's 108th Birthday) के 108वें जन्मदिन पर रंगीन और दिलचस्प डूडल (Google Doodle) बनाया है. इस डूडल (Doodle) में टाइरस वोंग (Tyrus Wong) की जीवन यात्रा को बड़ी खूबसूरती से दिखाया गया है. बचपन से लेकर उनके बुढ़ापे तक टाइरस वोंग (Tyrus Wong) के काम को शानदार तरीके से वीडियो में दर्शाया गया है. टाइरस वोंग (Tyrus Wong) एक प्रतिभाशाली पेंटर, एनिमेटर, कॉलिग्राफर, सेट डिजाइनर, म्यूरलिस्ट, सेट डिजाइनर और स्टोरीबोर्ड आर्टिस्ट के तौर पर मशहूर हुए. उन्हें 'डिज्नी लेजेंड (Disney Legend)' की उपाधि मिली. 

Video: मलाइका अरोड़ा को छेड़ते दिखे करण जौहर, पूछा- क्या अकेले मनाया बर्थडे? मिला ये चटपटा जवाब...

टायरल वोंग (Tyrus Wong) का जन्म 25 अक्टूबर, 1910 को चीन में हुआ था. उनका असली नाम लोंग जेन यो (Wong Gen Yeo) है. 9 साल की उम्र में उनके पिता अमेरिका आ गए. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत हॉलीवुड प्रोडक्शन कंपनी 'वार्नर ब्रादर्स' में बतौर ग्रीटिंग कार्ड डिजाइनर के तौर पर की थी. उन्होंने 'डिज्नी' के साथ फिल्म प्रोडक्शन इलस्ट्रेटर (1942-1968), सेट डिजाइनर, स्टोरी बोर्ड और स्केच आर्टिस्ट (1938-1941) के तौर पर काम किया. 

वोंग 1938 में इंटर्न बन 'वाल्ट डिज्नी (Walt Disney)' में नियुक्त हुए और चित्रकार, एनिमेटर स्केच के तौर पर काम किया. डिज्नी की फिल्म 'बांमी (1942)' ने उन्हें सफलता दिलाई. उस समय टायरस वोंग (Tyrus Wong) को केवल बैकग्राउंड आर्टिस्ट के रूप में श्रेय दिया गया था. उनका योगदान कई सालों तक अपिचित रहा. साल 2001 में हॉलीवुड में उनके कामों को सराहा गया और उन्हें 'डिज्नी लीजेंड' की उपाधि मिली.  

Video: दीपिका पादुकोण पर आता है अक्षय कुमार को तरस, वजह जानकर रह जाएंगे Shocked!

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कई फिल्मों के आर्ट डिपार्टमेंट में भी काम किया. 'रीबेल विद ए कॉज (1955)', 'अराउंड द वर्ल्ड इन एटी डेज (1956)', 'रियो ब्रावो (1959)', 'द म्यूजिक मैन (1962)', 'द ग्रेट रेस (1962)', 'पीटी 109 (1963)', 'द ग्रीन बेरेट्स (1968)' और 'द वाइल्ड बंच (1969) जैसी फिल्मों से वोंग या तो सेट डिजाइनर या स्टोरीबोर्ड कलाकार बनकर जुड़ें. 106 साल की उम्र में उन्होंने दुनिया को अलविदा कहा. उनका निधन 30 दिसंबर, 2016 को हुआ था.

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...