NDTV Khabar

हैदराबाद : चाइल्ड पोर्न सामग्री इंटरनेट पर डालने के आरोप में अमेरिकी नागरिक गिरफ्तार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हैदराबाद : चाइल्ड पोर्न सामग्री इंटरनेट पर डालने के आरोप में अमेरिकी नागरिक गिरफ्तार

आरोपी अमेरिकी नागरिक जेम्‍स किर्क जोन्‍स (फाइल फोटो)

हैदराबाद:

हैदराबाद में एक 42 वर्षीय अमेरिकी नागरिक को कथित रूप से इंटरनेट पर चाइल्‍ड पोर्न सामग्री अपलोड करने के आरोप में गिरफ्तार किया है. तेलंगाना पुलिस ने यह जानकारी दी. अमेरिका के न्‍यूजर्सी का रहने वाला आरोपी जेम्‍स किर्क जोन्‍स हैदराबाद की एक लॉ फर्म में 2012 से काम कर रहा है. तेलंगाना पुलिस की साइबर क्राइम शाखा को कुछ दिन पहले इंटरपोल से जानकारी मिली थी कि एक खास आईपीए एड्रेस से चाइल्‍ड पोर्नोग्राफी से जुड़ी सामग्री साझा की जा रही है. जब आईपी एड्रेस को ट्रेस किया गया तो वह हैदराबाद के उपनगर मधापुर स्थित जेम्‍स के घर का निकला. इसके बाद पुलिस ने जेम्‍स की गतिविधियों पर यह जानने के लिए नजर रखनी शुरू कर दी कि कहीं वो बच्‍चों का यौन उत्‍पीड़न तो नहीं करता. उसे मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया.

तेलंगाना पुलिस जोन्‍स की पृष्ठभूमि के बारे में जानकारी पाने के लिए इंटरपोल तथा अमेरिकी दूतावास से संपर्क करने की योजना बना रही है. पुलिस इस सिलसिले में भारतीयों की संलिप्तता की जांच भी कर रही है. तेलंगाना सीआईडी की पुलिस महानिरीक्षक सौम्या मिश्रा ने बताया, ‘हम इंटरपोल और अमेरिकी दूतावास से पत्र लिखकर उसकी पृष्ठभूमि संबंधी सूचनाएं साझा करने का अनुरोध करेंगे. उनकी बाद में पुष्टि की जाएगी.’


सीआईडी की टीम ने जोन्स को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से एक लैपटॉप बरामद किया. लैपटॉप में चाइल्ड पोर्न वीडियो और तस्वीरों सहित कुल 29,288 सामग्री थी. सीआईडी ने पाया कि फाइलें साझा करने वाली वेबसाइट गीगा ट्राइब की 497 प्रोफाइल और 24 ट्विटर हैंडल थे जिनके माध्यम से वह जुड़ा हुआ था और चाइल्ड पोर्न साझा करता था. मिश्रा ने कहा, ‘हमने उसके आवास से बहुत कुछ बरामद किया है. उसके लैपटॉप से चाइल्ड पोर्न के 29,000 से ज्यादा वीडियो क्लिप और तस्वीरें मिली हैं. वयस्क पोर्न सामग्री से भरा एक हार्डडिस्क और मोबाइल फोन भी बरामद हुआ है.’ इन तमाम सबूतों के मद्देनजर पुलिस जोन्स के खिलाफ अपना मामला मजबूत होने को लेकर आश्वस्त है.

अधिकारी ने कहा, जोन्स अविवाहित है और कथित रूप से उसने स्वीकार किया है कि शुरुआती दिनों से ही उसे चाइल्ड पोर्न देखने की आदत है. वह इन्हें डाउनलोड करता, देखता और साझा करता है. सौम्या मिश्रा ने कहा, ‘उसने स्वीकार किया है कि वह लंबे समय से ऐसा कर रहा है. वह पांच साल से हैदराबाद में रह रहा है और ऐसा करता रहा होगा. उसने क्या-क्या किया है.. यह सभी इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्यों की विस्तृत जांच करके हम पता लगाएंगे और जांच करेंगे कि इसमें भारत से कौन-कौन उसके साथ सहयोग कर रहा था. तभी अपराध की गंभीरता का पता चलेगा.’

सीआईडी अधिकारियों का कहना है कि भारत में उसकी गतिविधियों के संबंध में आगे की जांच जारी है. ट्विटर हैंडल और गीगा ट्राइब प्रोफाइलों की जांच की जा रही है और उनमें से कोई भारतीय है या नहीं, यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है. उन्होंने कहा, ‘हम जानना चाहते हैं कि भारत से भी कितने लोग ऐसी गतिविधियों में शामिल हैं और यदि वे तेलंगाना से हैं तो, हम उन्हें पकड़ लेंगे. यदि उनमें से कोई देश के अन्य हिस्सों से है, तो हम अन्य राज्यों की पुलिस के साथ सूचनाएं साझा करेंगे.’ उन्होंने कहा, ‘हमारी जांचों के मुताबिक वह हैदराबाद से अकेले काम कर रहा था. वह अपने आवास से ही यह सबकुछ कर रहा था, कार्यालय से नहीं. लेकिन वह ऑनलाइन इसे कई लोगों के साथ साझा कर रहा था.’

टिप्पणियां

अधिकारियों ने कहा, ‘हम पता लगाने का प्रयास करेंगे कि वे कौन लोग हैं, यदि वे भारत के निवासी हैं, तो आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जाएगी.’ उन्होंने कहा, ‘हम इसकी जांच कर रहे हैं और पता कर रहे हैं कि वे कौन हैं... अन्य देशों के नागरिक भी हो सकते हैं... हमें उनके असली पते मालूम करने होंगे और उनका पता लगाना होगा.’ आरोपी के खिलाफ संबंधित धाराओं और कानून के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. फिलहाल जोन्स न्यायिक हिरासत में चंचलगुड़ा केन्द्रीय कारागार में बंद है.

(इनपुट भाषा से...)



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement