NDTV Khabar

गोवा में बड़ा हादसा : सनवोरडेम नदी का पुल टूटा, दो लोगों की मौत, 30 लापता

गोवा में सनवोरडेम नदी पर पुर्तगाली दौर के एक पुल के ध्वस्त होने से दो लोगों की मौत और 30 लोगों के लापता होने की खबर है.

10 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
गोवा में बड़ा हादसा : सनवोरडेम नदी का पुल टूटा, दो लोगों की मौत, 30 लापता
पणजी: गोवा में सनवोरडेम नदी पर पुर्तगाली दौर के एक पुल के ध्वस्त होने से दो लोगों की मौत और 30 लोगों के लापता होने की खबर है. यह पुल दक्षिण गोवा के तहत आता है. राहत एवं बचाव कार्य के लिए नेवी की मदद ली जा रही है. पता चला है कि पुल पर से खुदकुशी की कोशिश की गई थी जिसके बाद बड़ी संख्या में लोग पुल पर चढ़ कर तमाशा देख रहे थे कि तभी पुराना जर्जर पुल गिर गया. बता दें कि यह पुल सावर्डे गांव में रेलवे स्टेशन के पास नदी पर है. हादसे के बाद अब तक 35 लोगों को निकाला जा चुका है. नौसेना के गोताखोरों को भी बुलाया गया है. एक व्यक्ति का शव भी निकाला जा चुका है.

खुदकुशी करने के लिए पुल से कूदने वाले शख्स का अभी पता नहीं चल पाया है. ये पुर्तगालियों के समय का ये पुल जर्जर हो चुका था. उस पर आवाजाही बंद कर दी गई थी. लेकिन आज खुदकुशी का तमाशा देखने के लिए बड़े पैमाने पर लोग पुल पर जमा हो गए थे. पुल लोगों का भार संभाल नही पाया और गिर गया. स्थानीय कलेक्टर, विधायक सभी मौके पर पहुंचे हैं. लोगों का दावा है कि कम से कम 50 लोग पुल पर थे.

पुलिस ने बताया, "बचाव दलों ने नदी से अब तक दो शव बरामद किये हैं और कम से कम 30 लोग अब तक लापता हैं. नदी में गिरे इनमें से कुछ लोग तैरकर तट पर आने में सफल रहे." भारतीय नौसेना और निजी एजेंसी दृष्टि लाइफगार्डस सर्विसेस से गोताखोरों से बचाव अभियान में मदद के लिये कहा गया है. एजेंसी राज्य के तटों पर लाइफगार्डस उपलब्ध कराती है. मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने संवाददाताओं को बताया कि सभी संबंधित एजेंसियों को कार्य में लगा दिया गया है. 

उन्होंने कहा, "व्यापक तलाश एवं बचाव अभियान जारी है. पानी में कितने लोग हो सकते हैं, उनकी वास्तविक संख्या पता नहीं है." नौसेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि नौसेना के नौ गोताखोरों और जेमिनी नौकाओं को कुरचोरेम रवाना किया गया है. बचाव अभियान रातभर जारी रहने की संभावना है. घटनास्थल का जायजा लेने वाले पीडब्ल्यूडी मंत्री सुदीन धावलिकर ने बताया कि पिछले चार वर्ष से पुल का इस्तेमाल बंद था. 


मुख्यमंत्री भी हालात का जायजा ले रहे हैं. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एक ट्वीट के जरिये बताया कि उन्होंने इस हादसे को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर से भी बात की है. 
 
भारतीय नेवी ने भी थोड़ी ही देर में एक ट्वीट किया. नेवी ने लिखा, " जेमिनी बोट के साथ 9 नेवी ड्राइवरों को जरूरी सामान के साथ घटनास्थल कर्चोरेम के लिए रवाना किया है." अग्नि और आपातकालीन सेवा कर्मी भी बचाव कार्य में जुट गए हैं.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement