अपने क्षेत्र में बेहतरीन काम करने वाली 11 महिलाओं को वूमेन एचिवर्स अवॉर्ड से नवाजा गया

अपने क्षेत्र में बेहतरीन काम करने वाली 11 महिलाओं को वूमेन एचिवर्स अवॉर्ड से नवाजा गया

नई दिल्ली:

नए साल का आगाज और पुराने साल के विदाई के मौके पर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के फिक्की सभागार में स्वयंसेवी संस्था लाइफ लाइन की ओर से अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट काम करने वाली महिलाओं को महिला शक्ति के प्रतीक के तौर पर पुरस्कृत किया गया। 11 महिलाओं को फर्स्ट इंडियन वूमेन एचिवर्स अवॉर्ड संसद सदस्य महबूब अली कैसर, जस्टिस राममूर्ति और महेश गिरी ने दिया।
      
सम्मान पाने वाली महिलाओं में सबसे पहले रुद्रप्रयाग की आपदा प्रभावित केदारघाटी की सुशीला भंडारी को सम्मानित किया गया जो पर्यावरण संरक्षण और महिला अधिकारों के लिए पिछले दो दशकों से सक्रिय हैं। कई तरह के आंदोलन में उन्हें जेल तक जाना पड़ा है। सुशीला भंडारी ने कहा कि महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिए सिर्फ नारों से नहीं बल्कि व्यवहारिक तौर पर आर्थिक रूप से स्वालंबी बनाने की जरूरत है।
 

अलग-अलग क्षेत्र में उल्लेखनीय सेवाओं के लिए सुप्रीम कोर्ट के वकील रीना सिंह, फैशन डिजाइनर  सोनिया गुरनानी, कॉरपोरेट प्रोजक्ट मैनेजमेंट एक्सपर्ट अन्नदिता मोइत्रा, टीवी एक्ट्रेस रश्मी देसाई, समाजिक कार्यकर्ता अंजना राजगोपाल सहित कई महिलाओं को सम्मानित किया गया। इस मौके पर रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किया गया।

असामिया गायिका मंदाकिनी बोरा और पंजाबी सिंगर शंकर साहनी ने अपने हिट गीतों से शमां बांधा। लाइफ लाइन नामक स्वयंसेवी संस्था ने इस बार पहला पुरस्कार समारोह महिलाओं को समर्पित किया। कार्यक्रम के आयोजक दीपक पांडेय ने कहा कि जब भी समाज ने तरक्की की है तब महिलाओं ने ही अग्रणी भूमिका निभाई है।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com